Thursday, June 04, 2020
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
हाईकोर्ट की निगरानी में न्यायिक आयोग करे पिछले 13वर्षों के कृषि घोटाले की जांच - हरपाल सिंह चीमाप्राइवेट स्कूलों को ट्यूशन फीस के नाम पर मोटी रकम नहीं वसूलने देगी AAP - शारिक अफरोज‘दिल्ली कोरोना’ एप लांच, एक क्लिक से अस्पतालों में खाली कोविड बेड और वेंटिलेटर की मिलेगी जानकारी: अरविंद केजरीवालकैप्टन सरकार ने आम घरों के बच्चों के डॉक्टर बनने पर लगाई पाबंदी, मंत्री ओपी सोनी की कोठी का घेराव करेंगेराजस्थान में गरीबों को मुफ्त राशन के नाम पर धोखा दे रही है प्रदेश की गहलोत सरकार - महेंद्र मीनादिल्ली बॉर्डर एक सप्ताह के लिए सील, आगे का फैसला जनता के सुझाव के आधार पर होगा - अरविंद केजरीवालमनीष सिसोदिया ने ऑनलाइन और एसएमएस/आईवीआर आधारित शिक्षा की समीक्षा कीदिल्ली को 5000 करोड़ की मदद करे केंद्र सरकार, ताकि सैलरी का भुगतान हो सके: उपमुख्यमंत्री
Punjab, UP, Himachal & Uttarakhand Election

हरियाणा को शारदा यमूना नहर से पानी दिया जाए : आम आदमी पार्टी

March 02, 2017 08:32 PM

चंडीगढ़:


2002 में बनी योजना अनुसार केंद्र सरकार शारदा यमूना लिंक नहर बनाने के लिए राजी हुई थी। जो कि उत्तराखंड के चम्पावत जिले से बह कर करनाल नजदीक यमूना नदी में मिलेगी। उन्होंने कहा कि यहां तक कि सुप्रीम कोर्ट ने भी केंद्र सरकार को इस नहर के निर्माण का आदेश दिया था क्यों जो उत्तराखंड में फालतू पानी बाढ़ के लिए जिम्मेदार है और इस पानी के साथ हरियाणा में जल पूर्ति की जा सकती है।

आम आदमी पार्टी ने रविवार को एक बारी फिर साफ शब्दों में कहा कि पंजाब के पास हरियाणा को देने के लिए फालतू पानी नहीं है और हरियाणा को निश्चित योजना अनुसार शारदा यमूना लिंक नहर से पानी दिया जाना चाहिए। चण्डीगढ़ में पत्रकारों को संबोधन करते आप नेता एच.एस फूलता ने कहा कि केंद्र सरकार को 1976 के इंद्रा गांधी द्वारा जारी किए आडर वापिस लेने चाहिए और इस मुद्दे को सुलझाना चाहिए। सुप्रीम कोर्ट में एस.वाई.एल नहर केस की सुनवाई 28 मार्च को है। 

फूलका ने कहा कि 2002 में बनी योजना अनुसार केंद्र सरकार शारदा यमूना लिंक नहर बनाने के लिए राजी हुई थी। जो कि उत्तराखंड के चम्पावत जिले से बह कर करनाल नजदीक यमूना नदी में मिलेगी। उन्होंने कहा कि यहां तक कि सुप्रीम कोर्ट ने भी केंद्र सरकार को इस नहर के निर्माण का आदेश दिया था क्यों जो उत्तराखंड में फालतू पानी बाढ़ के लिए जिम्मेदार है और इस पानी के साथ हरियाणा में जल पूर्ति की जा सकती है।

फूलका ने कहा कि बादल अपने हिस्सेदार मोदी के साथ बातचीत करके शारदा यमूना लिंक के जल्द निर्माण के लिए बातचीत करे। जिससे दोनों राज्यों में पैदा हुए बेमतलब तनाव को खत्म किया जा सके। उन्होंने कहा कि अकाली-भाजपा और कांग्रेस की सरकारों की इस नहर को न बनाने की नीयत पंजाब और हरियाणा में पैदा हुए तनाव के लिए जिम्मेदार हैं। इस मौके आप नेता गुलशन छाबड़ा, ऐडवोकेट नवकिरन सिंह, कैप्टन जी.एस. कंग और जगतार संघेड़ा उपस्थित थे।
 

Have something to say? Post your comment
More Punjab, UP, Himachal & Uttarakhand Election News
इस ऐतिहासिक बज़ट से संवरेगी दिल्ली नफ़रत की गंदी राजनीति करती है बीजेपी: केजरीवाल आम आदमी पार्टी ने राज्यपाल को गेहूं की खरीद संबंधी तैयारियों के लिए सर्व पार्टी मीटिंग बुलाने हेतु किया निवेदन छत्तीसगढ़ और गुजरात में आदिवासियों और किसानों पर हुई बर्बरता के मुद्दे पर 'आप' ने लिखा NHRC को ख़त BJP और ABVP ने भारत को बनाया आंतकवाद का अड्डा ख़ुद भारत विरोधी नारे लगवाते हैं ABVP के छात्र भीड़ इकट्ठी करने के लिए कांग्रेस का नया शगूफा: आप कमांडो सुरेंद्र सिंह ने विधायक निधि कोष से विधानसभा की गलियों के पुनर्निर्माण का किया शुभारम्भ नोटबंदी घोटाले के विरोध में आम आदमी पार्टी का दिल्ली के बाज़ारों में प्रदर्शन बाज़ार में कैश की भारी कमी के चलते जनता परेशान, व्यापार ठप्प नोटबन्दी के कारण आम जनता के समक्ष आई समस्याओं के लिए मोदी ज़िम्मेदार