Friday, August 07, 2020
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
दिल्ली सरकार के राजस्व कलेक्शन में सुधार के लिए डीडीसी करेगी विस्तृत अध्ययनदिल्ली सरकार की बसों में ई-टिकटिंग सिस्टम का 3दिवसीय ट्राॅयल आज से शुरू, 7अगस्त तक होगा ट्राॅयलAAP ने पटना की झुग्गी-झोपड़ियों में गरीबों को कोरोना से बचाव के लिए मास्क-सैनिटाइजर का वितरण कियाभगवंत मान के साथ सिसवां फार्म हाउस में कैप्टन को ढूंढने गए AAP नेताओं को पुलिस ने किया गिरफ्तारदक्षिण कोरिया के राजदूत ने की कोविड-19 से मुकाबला करने के "दिल्ली मॉडल" की तारीफसीएम अरविंद केजरीवाल ने कोरोना वॉरियर डॉ. जोगिंदर के परिजनों को दी एक करोड़ की सहायता राशिभगवानदास नगर पार्क में अत्याधुनिक झूले का निर्माण आपके आशीर्वाद से संभव हो पाया: शिवचरण गोयलबिहार के खेती बाजार पर PAU की सनसनीखेज रिपोर्ट के बारे में स्पष्टीकरण दें कैप्टन व बादल: भगवंत मान
National

दिल्ली सरकार ने भूकंप जैसी आपदा से लोगों को बचाने के लिए शुरू किया जागरूकता अभियान: अरविंद केजरीवाल

July 29, 2020 11:28 PM

नई दिल्ली: दिल्ली सरकार ने भूकंप से बचने के लिए दिल्ली निवासियों को जागरूक करने के लिए अभियान की शुरूआत की है। इस अभियान के दौरान दिल्ली निवासियों को भूकंप आने की दशा में बचाव और ऐहतियात बरने के संबंध में जागरूक किया जा रहा है। दिल्ली में अप्रैल से अब तक करीब 18बार में भूकंप के झटके आ चुके हैं। हालांकि इसकी तीव्रता ज्यादा नहीं थी, इसलिए किसी तरह का नुकसान नहीं हुआ। फिर भी दिल्ली सरकार ने दिल्ली निवासियों को भूकंप आने की दशा में खुद को और परिवार को सुरक्षित रखने के प्रति जागरूक कर रही है। 

आपके मुख्यमंत्री के रूप में मेरी यह जिम्मेदारी है कि किसी भी संकट के लिए दिल्ली को हमेशा तैयार और जागरूक रखूं - अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि बीते कुछ हफ्तों ने हमें जागरूकता, तैयारियां और अलर्ट रहते हुए समय पर कार्रवाई का जीवन में महत्व सिखाया है। इसीलिए सरकार, भूकंप जैसी आपदा के प्रति दिल्ली वासियों को तैयार करने के लिए एक नया अभियान शुरु कर रही है। अप्रैल 2020 से दिल्ली और उसके आसपास भूकंप के करीब 18हल्के झटके आ चुके हैं। इनमें से दो बार रिक्टर पैमाने पर 4 या उससे अधिक की तीव्रता दर्ज की गई है। ऐसे में आपके मुख्यमंत्री के रूप में मेरी यह जिम्मेदारी है कि किसी भी संकट के लिए दिल्ली को हमेशा तैयार और जागरूक रखूं। मेरे सिद्धांत बिल्कुल स्पष्ट हैं, आने वाले कल में दिल्ली वासियों के जीवन को सुरक्षित रखने के लिए तैयारी आज से ही शुरू करनी है। 

दिल्लीवासियों को भूकंप आने की स्थिति में सुरक्षित रखने के प्रति दिल्ली सरकार कर रही जागरूक

भूकंप के पहले क्या करना चाहिए-
- अपने घर और काम करने वाली जगह की मजबूती की जांच करवाएं।
- अगर जरूरत पड़े तो स्ट्रक्चरल इंजीनियर से सलाह लें और दरार वअन्य खािमयों को सही करवाएं।
- जांच कर लें कि आपके घर या ऑफिस के सभी फर्निचर जमीन, दीवार व छत से मजबूती के साथ सटे हों या बंधे हों। पहियों वाले फर्निचर वकोई स्टोरेज उपकरण आदि जमीन पर जहाॅं रखें हों, वहॉं वो अच्छेतरीके से लॉक किए गए हों।
- अपने सभी जरूरी महत्वपूर्ण दस्तावेज जैसे पासपोर्ट, राशन कार्ड, आधारकार्ड, प्रिस्क्रिप्शन, मेडिकल रिकॉड्र्स आदि को स्कैन करके ऑनलाइनया अपने ईमेल एड्रेस पर सुरिक्षत रख लें।
- यह सुिनश्चित करें कि आपके घर के लोगों खासकर बच्चे व ऑफिसके कर्मिर्यों को आपदा प्रबंधन हेल्पलाइन, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र, दिल्ली सरकार, 1077 के बारे में पता रहे। इस नंबर को अपने मोबाइल में सेव कर लें और सही जगह पर इसे लगा भी दें।
- भूकंप का बेहतर सामना करने के लिए खुद को और दूसरों को ड्रॉप कवर-होल्ड तकनीक सिखाएं।

भूकंप के बाद क्या करना चाहिए-
- भूकंप के बाद के झटकों से सावधान व सचेत रहें।
- खड़िकयों, ऊंची इमारतों और दूसरे ढ़ाचों से दूरी बनाए रखें।
- अपनी जगह छोड़ने से पहले खुद व परिवार वालों को देख लें कि कहीं चोट तो नहीं आई है। अगर किसी को सिर या गदर्न पर चोट आई हो, तो जगह छोड़ने से पहले पूरी सावधानीबरतें। अगर कोई शंका हो, तो अपनी जगह पर बने रहें।
- अगर आप किसी बहुमंजिला इमारत में हैं, तो उतरने के लिए हमेशा सीढ़ियों का इस्तेमाल करें।
- अगर आप कहीं फंसे हैं या सुनसान जगह पर हैं, तो अपनी ऊर्जा बचाएं रखें और मोबाइल व बैटरी से चलने वाले दूसरे उपकरण का कम से कम इस्तेमाल करें।
- अगर आप फंसे हैं, तो खुद आवाज लगाने की जगह आसपास की चीजों से आवाज करने का प्रयास करें।

आपातकालीन किट तैयार रखें-
-टॉच, पाॅवर बैंक व चार्जिंग कंबल, जरूरी दवाइयां, एलर्जी की बीमारी से सम्बंधित जानकारी, थोड़ा बहुत कैश, जरूरी पहचान पत्रों की फोटो कॉपी, अपने ब्लड ग्रुप की जानकारी व एलर्जी संबंधित जानकारी, फस्र्ट ऐड किट, पानी की बोतल आदि।

अगर आप आपदा वाली जगह फंस गए हों, तो ऐसा करें-
- यदि अंदर हैं तो, ड्रॉप-कवर-होल्ड का अभ्यास करें। किसी मजबूत मेज या बेड के नीचे चले जाएं। एक हाथ अपने सिर पर रखकर उसे सुरिक्षत करें और दूसरे हाथ से फर्निचर को थाम लें। खिड़कियों, बुककेस, बुकशेल्फ, बड़े आकार के शीशे, लटकते हुए पौधे, पंखे और दूसरी भारी चीजों से दूर रहें। भूकंप के झटके रुकने तक अपने आपको इन चीजों से बचाए रखें। जब झटके रुक जाएं, तो अपने घर या स्कूल की इमारत से बाहर निकल कर खुले मैदान की ओर जाएं। दूसरों को धक्का ना दें।
- यदि आप बाहर हैं तो, खुली जगह पर जाएं और पेड़, साइन बोर्ड, बिल्डिंग, बिजली के तार व खंभों से दूर रहें।
-ऊंची इमारत में हैं तो, बाहरी दीवार से तुरंत दूर हट जाएं और अपना सिर बचाएं। अगर आपके पास हेल्मेट हो तो उसे पहन लें। लिफ्ट का इस्तेमाल न करें और खिड़िकयों से दूर रहें।
- ड्राइविंग कर रहे हैं, तो गाड़ी को सड़क के किनारे रोक कर इंजन को बंद कर दें। फ्लाई ओवर, पाॅवर लाइन व विज्ञापन बोर्ड से दूर रहें। कार से बाहर निकलकर उसके साइड में नीचे लेट जाएं। किसी भी स्थित में कार के अंदर न रहें।
- किसी स्टेडियम, ऑडिटोरियम या थियेटर में हैं तो, अंदर रहें और बाहर की ओर दौड़कर भागने की कोशिश न करें। अपनी कुर्सी पर रहें और अपने हाथों से सिर को ढंक लें। भूकंप के झटके रुकने तक शांत रहें। उसके बाद सही तरीके से वहां से बाहर निकलें। बच्चों, बुजुर्ग व दिव्यांगों को पहले निकलने दें। परेशान न हों।

झटके रूक जाने के बाद, सुनिश्चित करें लें कि कहीं चोट तो नहीं आई है। सबसे पहले खुद को देखें, फिर दूसरों की मदद करें। शांत रहें और अपना आत्म-विश्वास बनाए रखें। जो संकट में हैं, उनकी मदद करें। आग की जांच करें व जरूरत पड़ने पर फायर सर्विस 101 या पुिलस कंट्रोल रूम 100 या आपदा प्रबंधन हेल्पलाइन 1077 पर कॉल करें।

Have something to say? Post your comment
More National News
केजरीवाल सरकार ने होटल व साप्ताहिक बाजार खोलने के लिए एलजी अनिल बैजल को दोबारा प्रस्ताव भेजा बच्ची के साथ हुई हैवानियत भरी घटना ने पूरी दिल्ली और पूरे समाज को झकझोर कर रख दिया है: राघव चड्ढा
पंजाब में ऑपरेशन न करने का फैसला लोक विरोधी, फैसला वापस ले कैप्टन सरकार: प्रिंसीपल बुद्ध राम
लोगों के साथ-साथ अपने सीनियर नेताओं का भी विश्वास खो चुके है अमरिन्दर सिंह सरकार - ‘आप’
दिल्ली सरकार के राजस्व कलेक्शन में सुधार के लिए डीडीसी करेगी विस्तृत अध्ययन
दिल्ली सरकार की बसों में ई-टिकटिंग सिस्टम का 3दिवसीय ट्राॅयल आज से शुरू, 7अगस्त तक होगा ट्राॅयल
AAP ने पटना की झुग्गी-झोपड़ियों में गरीबों को कोरोना से बचाव के लिए मास्क-सैनिटाइजर का वितरण किया
जनता से पैसा लेकर 10800 कंपनियों ने दिल्ली सरकार को नहीं दिए पूरे टैक्स
प्रधानाचार्य स्कूल के गार्डियन, उनके नेतृत्व में हमें भरोसा है, 98% रिजल्ट के पीछे उनका नेतृत्व: मनीष सिसोदिया
भगवंत मान के साथ सिसवां फार्म हाउस में कैप्टन को ढूंढने गए AAP नेताओं को पुलिस ने किया गिरफ्तार