Friday, August 07, 2020
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
दिल्ली सरकार के राजस्व कलेक्शन में सुधार के लिए डीडीसी करेगी विस्तृत अध्ययनदिल्ली सरकार की बसों में ई-टिकटिंग सिस्टम का 3दिवसीय ट्राॅयल आज से शुरू, 7अगस्त तक होगा ट्राॅयलAAP ने पटना की झुग्गी-झोपड़ियों में गरीबों को कोरोना से बचाव के लिए मास्क-सैनिटाइजर का वितरण कियाभगवंत मान के साथ सिसवां फार्म हाउस में कैप्टन को ढूंढने गए AAP नेताओं को पुलिस ने किया गिरफ्तारदक्षिण कोरिया के राजदूत ने की कोविड-19 से मुकाबला करने के "दिल्ली मॉडल" की तारीफसीएम अरविंद केजरीवाल ने कोरोना वॉरियर डॉ. जोगिंदर के परिजनों को दी एक करोड़ की सहायता राशिभगवानदास नगर पार्क में अत्याधुनिक झूले का निर्माण आपके आशीर्वाद से संभव हो पाया: शिवचरण गोयलबिहार के खेती बाजार पर PAU की सनसनीखेज रिपोर्ट के बारे में स्पष्टीकरण दें कैप्टन व बादल: भगवंत मान
Punjabi News

केंद्र से अपने हिस्से का सेंट्रल एक्साइज ड्यूटी में से 50% पैसा मांगे पंजाब सरकार - अमन अरोड़ा

April 26, 2020 11:10 PM

चंडीगढ़: आम आदमी पार्टी(आप) के सीनियर नेता और विधायक अमन अरोड़ा ने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को सुझाव दिया है कि वह कल सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरफ से राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक के मौके पर सैंट्रल एक्साइज ड्यूटी में से पंजाब के अनुपात मुताबिक 50% हिस्सा मांगें, जिससे पहले ही 2.5लाख करोड़ रुपए के ऋणी पंजाब के सरकारी खजाने को लॉकडाउन(कर्फ्यू) के कारण हो रहे भारी वित्तीय नुक्सान की थोड़ी बहुत भरपाई हो सके।

 

अमन अरोड़ा ने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह को पत्र लिखकर कई सुझाव दिए है, जिससे वह(मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर) सोमवार को प्रधानमंत्री के साथ होने जा रही बैठक के दौरान उठा सकें। ‘आप’ हैडक्वाटर द्वारा मुख्यमंत्री को लिखा पत्र जारी करते हुए विधायक अमन अरोड़ा ने कहा कि कोरोना के कारण विश्व व्यापक लॉकडाउन के कारण आजकल अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें ऐतिहासिक गिरावट पर हैं। नतीजे के तौर पर रिलायंस और एसआर जैसी निजी तेल कंपनियों समेत जनतक क्षेत्र की सरकारी कंपनियां(पीएसयूज) अरबों रुपए का लाभ कमा रही हैं। कोरोना संकट की इस मुश्किल घड़ी में लोगों को राहत देने के लिए सबसे पहले इन तेल कंपनियों के अंधे मुनाफे की सीमा तय(सीलिंग/कैंपिंग) की जाए व फालतू लाभ से लोगों को राहत दिया जाए।

पैट्रोल पर 23 और डीजल पर प्रति लीटर 19 रुपए टैक्स लेती है केंद्र सरकार, प्रधानमंत्री की मुख्यमंत्री से बैठक के लिए ‘आप’ विधायक ने दिए कई सुझाव

अमन अरोड़ा ने कहा, ‘‘क्योंकि पैट्रोलियम पदार्थों को भारत सरकार ने जीएसटी प्रणाली से बाहर रखा हुआ है और पैट्रोलियम पदार्थों की बिक्री से जो वैट इकट्ठा होता है, उसमें से पंजाब को सालाना तकरीबन 4500करोड़ का हिस्सा मिलता है, परंतु कोरोना के कारण डीजल-पेट्रोल की 60% प्रयोग कम होने के कारण इस वैट राशि में से पंजाब को 2000करोड़ रुपए का घाटा होगा।

अमन अरोड़ा ने इस घाटे की पूर्ति के लिए केंद्र सरकार की तरफ से पैट्रोलियम पदार्थों पर ‘सैंट्रल एक्साइज ड्यूटी’ के रूप में जो प्रति लीटर 23रुपए पेट्रोल और 19रुपए प्रति लीटर डीजल वसूली की जाती है, जो वार्षिक दो लाख करोड़ रुपए के करीब बनता है, इस में अपने अनुपात मुताबिक पंजाब उस में से आई.जी.एस.टी की तर्ज पर 50प्रतिशत हिस्सा मांगे।

इसके इलावा अमन अरोड़ा ने कहा कि कैप्टन प्रधानमंत्री मोदी को सुझाव देने कि निजी और सरकारी तेल कंपनियों समेत निवेश करने की समर्था रखते आम लोगों के लिए सरकार तेल भंडार मुल्कों और कंपनियों के साथ इकरार करके ‘तेल बांड’ जारी करे जिससे भविष्य में कोरोना महामारी को हरा कर जब तेल की कीमतों में भारी उछाल आए तो मौजूदा घाटे की पूर्ति और लोगों को राहत दी जा सके।

अमन अरोड़ा ने कहा कि मुख्यमंत्री शराब की बिक्री खोलने पर जोर देने की बजाए इन सुझावों पर जोर दें। अमन मुताबिक कर्फ्यू के दौरान शराब की बिक्री की छुट देने के साथ सरकारी आमदनी तो बढ़ सकती है परंतु इस फैसले के कारण लोगों के घरों में क्लेश बढ़ेंगे और पहले ही आर्थिक दिक्कतों का सामना कर रहे आम लोगों का घरेलू बजट ओर ज़्यादा बिगड़ेगा।

Have something to say? Post your comment
More Punjabi News News
बिहार के खेती बाजार पर PAU की सनसनीखेज रिपोर्ट के बारे में स्पष्टीकरण दें कैप्टन व बादल: भगवंत मान
पंजाब में कृषि को जोंक की तरह चूस रहा है भ्रष्ट सरकारी तंत्र, जिप्सम घोटाले की हो न्यायिक जांच - AAP
आम घरों के बच्चों को साजिश के तहत शिक्षा से वंचित रख रही है कैप्टन अमरिन्दर सरकार - भगवंत मान
डीएसजीएमसी चुनाव की प्रक्रिया शुरू, मंत्री राजेंद्र गौतम ने सभी दलों के साथ की बैठक
बिना मापदंड के लाखों उपभोक्ताओं के राशन कार्ड काटना गलत, AAP ने सौंपा मांग पत्र - मनजीत सिंह बिलासपुर
अगर सीधी भर्ती ही करनी है, तो क्यों बांधे पीपीएससी व एसएसएस बोर्ड जैसे ‘सफेद हाथी’ - प्रिंसीपल बुद्ध राम
मोगा सेक्स स्कैंडल-3 की सीबीआई से जांच करवाएं सीएम कैप्टन अमरिन्दर - हरपाल सिंह चीमा
छोटे किसानों को मनरेगा का लाभ सुनिश्चित करे कैप्टन सरकार - आप
बादलों की तरह अब कैप्टन अमरिन्दर सिंह हैं पंजाब की बर्बादी की असली जड़ - हरपाल सिंह चीमा
निकम्मे CM को हटा नहीं सकते, खुद इस्तीफे देने की हिम्मत दिखाएं कांग्रेसी मंत्री-विधायक: आप