Monday, May 25, 2020
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी के लॉकडाउन उल्लंघन पर AAP सांसद संजय सिंह का बयान...लॉकडाउन में ढील के बाद बढ़े मरीज, लेकिन चिंता की बात नहीं, स्थिति नियंत्रण में: अरविंद केजरीवालकोरोना से जंग जीतने के बाद अब प्लाज्मा दान करेंगे आप विधायक विशेष रविमौत पर राजनीति कर रही भाजपा दिल्ली की जनता से माफी मांगे - राघव चड्ढामोगा सेक्स स्कैंडल-3 की सीबीआई से जांच करवाएं सीएम कैप्टन अमरिन्दर - हरपाल सिंह चीमाबिजली की करंट से बिहार की जनता को बचाए, तीन माह का बिल माफ करें सरकार: आपपंचायती राज प्रतिनिधियों को सुरक्षा देने में नाकाम हो रही कैप्टन सरकार: प्रो. बलजिन्दर कौरलंबित शिकायतों की तुरंत सुनवाई व निस्तारण करें विभाग: राजेन्द्र पाल गौतम
National

दिल्ली में 1000 दुकानों पर राशन पहुंचा, 71लाख लोगों को मुफ्त राशन दिया जा रहा हैं - अरविंद केजरीवाल

March 28, 2020 11:26 PM

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि एक हजार दुकानों पर आज से प्रति व्यक्ति 7.5किलो राशन बांटने का कार्य शुरू हो गया है और शीघ्र ही अन्य सरकारी राशन की दुकानों पर भी गेहूं व चावल वितरण शुरू हो जाएगा। इससे दिल्ली के करीब 71लाख लोगों को लाभ मिलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली सरकार ने आज से 4लाख लोगों को खाना खिलाने का इंतजाम कर लिया है। दिल्ली के 568स्कूलों और 238 रैन बसेरों में खाना खिलाने की व्यवस्था की गई है। साथ ही उड़न दस्ता टीमें भी जगह-जगह जाकर खाने के पैकेट बांट रही हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली छोड़ कर जाने वाले लोगों को रोकने के लिए मंत्रियों और विधायकों को लगाया गया है। फिर भी लोग अपने भविष्य की चिंता कर वापस घर लौट रहे हैं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ऐसे लोगों से अपील की कि दुनिया से हम सीख ले सकते हैं। अगर हम शहर छोड़ कर जाएंगे, तो कोरोना और तेजी से फैलेगा।

पहले दिन खाना खाने में आई परेशानियों को एक-दो दिन में दूर कर दिया जाएगा- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने डिजिटल प्रेस वार्ता कर कोरोना के प्रकोप को नियंत्रित करने के लिए किए गए लाॅक डाउन से उत्पन्न स्थिति से निपटने के लिए उठाए गए दिल्ली सरकार के कदमों की जानकारी दी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैं उम्मीद करता हूं कि आप और आपका परिवार स्वस्थ्य रहे। कोरोना से उत्पन्न स्थिति से निपटने के लिए दिल्ली सरकार पूरी कोशिश कर रही है। मैंने 28मार्च से 4लाख लोगों को खाना खिलाने की व्यवस्था करने के लिए कहा था। अब 4लाख लोगों को दोपहर और रात में खाना खिलाने की क्षमता तैयार कर ली गई है। आज 568स्कूलों में खाना खिलाने का इंतजाम शुरू हो गया है। इसके अलावा 238 रैन बसेरों में खाना खिलाया जा रहा है। अब करीब 825स्थानों पर लोगों को मुफ्त में खाना खिलाया जा रहा है। इसके अलावा हमारे पास उड़न दस्ते हैं। यह उड़न दस्ते जगह-जगह जाकर भूखे लोगों को खाने का पैकेट दे रहे हैं।मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि 4लाख लोगों को खाना खिलाने की व्यवस्था का आज पहला दिन था। इसलिए केंद्रों पर काफी सारी कमियां भी रही होंगी। मैं उम्मीद करता हूं कि एक-दो दिन में यह समस्याएं दूर कर ली जाएंगी। इसके बाद किसी को कहीं पर भी दिक्कत नहीं आएगी। आज पता चला कि कहीं पर खाना थोड़ा देरी से पहुंचा और कहीं पर खाना कम पहुंचा है।

दिल्ली छोड़ कर न जाएं, सभी के रहने और खाने का इंतजाम कर दिया गया है- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैं खासकर राधा स्वामी सतसंग, इस्काॅन, अक्षय पात्रा, गुरुद्वारा के संचालकों का एक बार फिर धन्यवाद करना चाहता हूं, जिन्होंने इस दुख की घड़ी में गरीबों को खाना खिलाने में बहुत मदद कर रहे हैं। हमने टीवी और सोशल मीडिया पर देख रहे हैं कि बहुत सारे लोग अपने घर छोड़ कर अपने गांव वापस जाना चाहते हैं। हम लोगों ने इन लोगों को रोकने की काफी कोशिश की है। हमने सभी मंत्री और विधायकों को निर्देशित किया है। वे सभी लोग दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में जाकर अपील कर रहे हैं कि आप घर छोड़ कर मत जाइए। दिल्ली में ही रहिए। हमने सभी लोगों के खाने का इंतजाम किया है। कुछ लोगों को रहने की दिक्कत है, तो उनके लिए रहने का भी इंतजाम कर रहे हैं। कुछ लोगों को मनाने में हम सफल रहे हैं, लेकिन बहुत सारे लोग हैं, जो यह कह रहे हैं कि वे अपने गांव जाना चाहते हैं। इन लोगों को अभी लग रहा है कि यह लाॅक डाउन अभी लंबा चलेगा। उनको अपने भविष्य की चिंता है। इसलिए वो वापस गांव जाने पर आमादा हैं। फिर भी हमने अपनी तरफ से तैयारियों में कोई कसर नहीं छोड़ी है। मैं एक बार फिर से सभी लोगों से अपील करना चाहता हूं कि प्रधानमंत्री जी कोरोना को रोकने के लिए जो लाॅक डाउन का ऐलान किया है, यह बेहद जरूरी है। अगर इसे हम लोग पालन नहीं करेंगे, तो जैसे दूसरे देशों के अंदर यह महामारी बन गई है और इतनी जानें ले रही है। भगवान न करे कि हमारे देश में ऐसी स्थिति आए। इसलिए हमें लाॅक डाउन का पूरी तरह से पालन करना चाहिए। अगर हम इतनी बड़ी संख्या में शहर छोड़ कर जाएंगे, तो कोरोना के बहुत तेजी से फैलने का खतरा पैदा होता है। लिहाजा, जो जहां पर है, वहीं पर बना रहे। मैं आपको आश्वासन दे रहा हूं कि कोई दिक्कत नहीं आने देंगे। हम लोगों ने आपके खाने और रहने का इंतजाम किया है। दिल्ली बार्डर के एरिया पर जहां लोग इकट्ठे हैं, वहां पर कई स्कूलों में रैन बसेरा का इंतजाम कर दिया गया है। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया जी खुद मौके पर गए थे और लोगों से नाइट सेल्टर में रहने का अपील किया। यह लोग यह मानते हैं कि दिल्ली सरकार ने इंतजाम में कोई कमी नहीं छोड़ी है, लेकिन वे घर जाना चाहते हैं।

विधायक के प्रतिनिधि राशन दुकानों पर सोशल डिस्टेंस का पालन कराएंगे- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के करीब 1 हजार सरकारी राशन दुकानों पर राशन पहुंच गया है। आज से राशन बंटना शुरू हो गया है। जैसा कि मैने बताया कि प्रत्येक राशन कार्ड धारक को 7.5किलो राशन फ्री दिया जाएगा। इसमें गेहूं और चावल दोनों शामिल है। दिल्ली के 71लाख लोगों को इसका लाभ मिलेगा। आज से एक हजार दुकानों में राशन बंटना शुरू हो गया है। शेष दुकानों में कल तक राशन पहुंच जाएगा और वहां भी बहुत जल्द राशन बंटना शुरू हो जाएगा। सभी दुकान पर वहां के स्थानीय विधायक का एक-एक प्रतिनिधि होगा, जो यह सुनिश्चित करेगा कि सोशल डिस्टेंस का पालन किया जाए और सभी लोगों को अच्छे से पूरा राशन मिले।

जो जहां है, वहीं पर रहे, शहर छोड़ कर जाने पर तेजी से फैलेगा कोरोना- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कल जानकारी मिली कि यूके के प्रधानमंत्री बाॅरिस जानसन और स्वास्थ्य मंत्री को भी कोरोना पाया गया है। साथ ही यूके के प्रिंस चाल्र्स को भी करोन पाया गया है। इससे हम यह समझ सकते हैं कि दुनिया भर में कोरोना कितनी तेजी से फैल रहा है। दुनिया के देश अमेरिका, इंग्लैंड, स्पेन, इटली, फ्रांस और जर्मनी आदि, जिनको हम सबसे विकसित देश मानते थे, आज उन देशों में इतनी भयावह स्थिति पैदा हो गई है कि उस बारे में सोच कर भी डर लगता है। मुख्यमंत्री ने बताया कि आज सुबह एक विकसित देश के नामी डाॅक्टर यह कह रहे थे कि उनके देश में इतने ज्यादा लोग बीमार हो गए हैं कि अस्पतालों के अंदर वेंटिलेटर और बेड कम पड़ गए हैं। इसलिए वे अपने बुजुर्गों के वेंटिलेटर हटाने शुरू कर दिए हैं, ताकि जवान लोगों को जिंदा बचाया जा सके और बुजुर्ग लोगों को इंजेक्शन देकर बेहोश कर दिया गया है। इतने ज्यादा लोग बीमार हो गए हैं कि बुजुर्गों का अब इलाज नहीं करा पा रहे हैं। इसलिए दूसरे देशों से सीख कर हमें इस लाॅक डाउन को सफल बनाना है। हम लोगों को अपने अपने घरों में रहना है। जो जहां पर है, वहीं पर रहे। मैं समझ सकता हूं कि लाॅक डाउन की वजह से सभी को बहुत सारी परेशानियां हो रही हैं, लेकिन इन परेशानियों को भुगत लेंगे, तो इस बीमारी से हम सभी लोग बच जाएंगे।

 
Have something to say? Post your comment
More National News
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी के लॉकडाउन उल्लंघन पर AAP सांसद संजय सिंह का बयान...
लॉकडाउन में ढील के बाद बढ़े मरीज, लेकिन चिंता की बात नहीं, स्थिति नियंत्रण में: अरविंद केजरीवाल
कोरोना से जंग जीतने के बाद अब प्लाज्मा दान करेंगे आप विधायक विशेष रवि
मौत पर राजनीति कर रही भाजपा दिल्ली की जनता से माफी मांगे - राघव चड्ढा
बिजली की करंट से बिहार की जनता को बचाए, तीन माह का बिल माफ करें सरकार: आप
बिजली के बिल माफ करे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की कांग्रेस की सरकार आप पार्टी
पंचायती राज प्रतिनिधियों को सुरक्षा देने में नाकाम हो रही कैप्टन सरकार: प्रो. बलजिन्दर कौर
हजारों किसानों-मजदूरों को उजाड़ कर लगाए उद्योग बर्दाश्त नहीं: हरपाल सिंह चीमा
लंबित शिकायतों की तुरंत सुनवाई व निस्तारण करें विभाग: राजेन्द्र पाल गौतम
AAP ने जयपुर में कोरोना वॉरियर्स डॉक्टरों का किया सम्मान