Monday, June 01, 2020
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
मनीष सिसोदिया ने ऑनलाइन और एसएमएस/आईवीआर आधारित शिक्षा की समीक्षा कीदिल्ली को 5000 करोड़ की मदद करे केंद्र सरकार, ताकि सैलरी का भुगतान हो सके: उपमुख्यमंत्रीसिंघी मछली और बगेरी के शौकीन है शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा, के नाम BJPअध्यक्ष बसूलता है रुपया: आपब्याज समेत भुगतान किया जाए, किसानों के गन्ने की अरबों रुपए की बकाया राशि: हरपाल सिंह चीमाकोरोना के मरीज बढ़ रहे, यह चिंता का विषय, लेकिन अभी घबराने जैसी कोई बात नहीं: अरविंद केजरीवालहोम आइसोलेशन में ठीक हुए मरीजों ने कहा, अभिभावक की तरह ख्याल रखती है दिल्ली सरकारकोरोना से डरें नहीं, खुद को बचाना जरूरी: मनीष सिसोदियापंजाब में कृषि क्षेत्र के ट्यूबवेलों पर बिल लागू करने की योजना का ‘आप’ ने किया सख्त विरोध
National

दिल्ली में जरूरी सेवाओं से जुड़े लोग 1031 पर काॅल कर ई-पास ले सकते हैं, पास जल्द से जल्द वाट्सएप्प पर मिलेगा - अरविंद केजरीवाल

March 26, 2020 12:42 PM

नई दिल्ली(25मार्च): मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना के बढ़ते प्रकोप के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेन्द मोदी द्वारा 21दिन के लिए घोषित देशव्यापी लाॅक डाउन के दौरान दिल्ली निवासियों को जरूरी सेवाएं प्राप्त करने में किसी तरह की परेशानी नहीं आने देने का आश्वासन दिया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों की सुविधा के लिए ई-पास जारी करने का एलान किया है, इसके लिए सरकार ने हेल्पलाइन नंबर 1031 जारी किया है और मुख्यमंत्री ने सिर्फ जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों को ही इस नंबर पर काॅल करने की अपील की है। उन्हें व्हाट्सएप्प पर ई-पास भेजा जाएगा। वहीं, जरूरी सामान खरीदने वाली आम जनता को पास की जरूरत नहीं है। आम जनता को अपने पास की दुकान से पैदल जाकर सामान खरीद की अनुमति है। मुख्यमंत्री ने डाॅक्टर और नर्सों को घर से बाहर निकालने की धमकी देने वाले मकान मालिकों पर सख्त कार्रवाई करने का आदेश जारी किया है। साथ ही इस विपदा में लोगों से एक-दूसरे की मदद करते रहने की अपील की है।

दिल्ली में कोरोना के 5 नए केस आए, इसे बढ़ने से रोकना होगा - अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने डिजिटल प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि कल से पूरे देश में लाॅक डाउन का ऐलान हुआ है और जिस तरह से पूरी दुनिया के अंदर करोना फैल रहा है। उसको देखते हुए लाॅक डाउन का यह निर्णय बहुत जरूरी था। अगर हम लाॅक डाउन नहीं करते और अगर महामारी बुरी तरह से पूरे देश में फैल जाती है तो ज्यादा तकलीफ होगी। अभी भी हम देख रहे हैं कि किस तरह से देश भर में कोरोना के केस बढ़ते जा रहे हैं। उनको रोकने की जरूरत है। पिछले 24घंटे में दिल्ली में पांच नए केस आए हैं। जिसमें एक केस विदेश से आए व्यक्ति का है और 4केस उनके आसपास के परिवार के लोगों में संक्रमित के हैं। अब दिल्ली में कुल 35केस हो गए हैं। अब हमें इसे किसी भी तरह से बढ़ने नहीं देना है। यह बेहद जरूरी हो गया है।

लाॅक डाउन का पूरी तरह से करें पालन - अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इस लाॅक डाउन में एक तरफ सभी लोगों को अपने घर में रहना है और दूसरी तरफ सरकार की जिम्मेदारी है कि जिंदा रहने के लिए जो जरूरी चीजें हैं, वह आप को आसनी से मुहैया होती रहे और आप को किसी तरह की तकलीफ नहीं आए। मैं आप लोगों से हाथ जोड़ कर विनती कर रहा हूं कि प्रधानमंत्री जी के लाॅक डाउन के एलान का सभी लोग पूरी तरह से पालन करें। सभी लोग घर से बाहर न निकलें। केवल सब्जी व दूध आदि खरीदने के लिए अपने पड़ोस की दुकान तक ही जाएं। अन्यथा घर से बाहर कोई भी न निकले। दिल्ली सरकार ने आवश्यक सेवाओं को जारी रखने के लिए लोगों को पास देने की व्यवस्था की है। बिजली-पानी समेत सरकारी सेवाओं के कर्मचारी के पास अपने-अपने पहचान पत्र होंगे। इन लोगों से रास्ते में पुलिस पहचान पत्र मांगती है और ये लोग दिखा देते हैं, तो उन्हें जाने की अनुमति दे दी जाएगी। प्राइवेट अस्पताल के कर्मचारियों के भी अपने पहचान पत्र होंगे। यह भी मान्य होंगे। मीडिया कर्मियों के पास भी आईडी होंगे, वह भी मान्य होंगे।

जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों को ई-पास दिया जाएगा- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जिन लोगों के पास पहचान पत्र नहीं है। चाहे वह सरकारी विभाग में काम करते हों या प्राइवेट अस्पतालों में काम करते हों, दूध व सब्जी बेचने, मंडी में काम वाले, मंडी में सब्जी ले जाने वाले किसान, दवाइयों की दुकान वाले और दवाइयों को बनाने वाले आदि हैं। मोटे तौर पर दूध, सब्जी, राशन की दुकान, रोजमर्रा की जरूरतों और दवाइयों की दुकान, इन पांच चीजों से संबंधित दुकानें, ट्रांसपोर्ट करने की व्यवस्था, इनके उत्पादन और स्टोर करने की व्यवस्थाएं, सभी अवश्यक सेवाओं की श्रेणी में आएंगी। हम चाहते हैं कि यह सारी आवश्यक सेवाएं सुचारू रूप से चलती रहे। इसके लिए इन सभी लोगों को पास की जरूरत है। इन आवश्यक सेवाओं के उत्पादन, ट्रांसपोर्टेशन, स्टोरेज और दुकानों में लगे सभी लोगों को हम पास जारी करेंगे। जिन लोगों के पास आईडी है, वह अपना आईडी इस्तेमाल करें। जिन के पास अपनी आईडी नहीं है, उनको हम ई-पास देने की व्यवस्था शुरू कर रहे हैं। दिल्ली सरकार ने इसके लिए एक हेल्प लाइन नंबर 1031 जारी किया है। 1031 पर आप फोन बताएंगे कि आप क्या सेवा देते हैं और आप को बता दिया जाएगा कि ई-पास कैसे मिलेगा। हम आपको जल्द से जल्द ई-पास मुहैया कराने की कोशिश करेंगे। ताकि आप अपना काम सुचारू रूप से कर सकें। मेरी आप से विनती है कि 1031 हेल्प लाइन नंबर समान्य हेल्प लाइन नंबर नहीं है। इस पर समान्य फोन काॅल मत करिएगा। अगर अधिक फोन आएंगे तो यह जाम हो जाएगा। केवल आवश्यक सेवाएं देने वाले लोग ही अपना पास लेने के लिए इस पर काॅल करेंगे। अन्य लोग से विनती है कि वे इस नंबर पर अनावश्यक फोन न करें।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जो आम जनता है। जिसे दूध, सब्जी व अन्य सामान खरीदना है, उन्हें ई-पास की जरूरत नहीं है। उन्हें अपने आस-पास की किराने की दुकान तक जाने के लिए किसी पास की जरूरत नहीं है। अगर आपको कोई छोटी-मोटी वस्तु खरीदने के लिए पैदल आसपास के दुकान तक जाना है, तो इसकी अनुमति है। इसके लिए कोई मना नहीं करेगा।

डाॅक्टर व नर्सों को धमकी देने वाले मकान मालिकों पर सख्त कार्रवाई होगी- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सुनने में आया है कि डाॅक्टर और नर्सों को कुछ मकान मालिक अपने घर से निकालने की धमकी दे रहे हैं। मकान मालिकों का कहना है कि यह डाॅक्टर्स और नर्सेंज 24घंटे कोरोना के मरीजों के बीच रहते हैं। इसलिए इन्हें कोरोना हो गया है और अगर यहां रहेंगे तो उन्हें भी कोरोना हो जाएगा। मुख्यमंत्री ने सख्त चेतावनी दी है कि इस तरह की शिकायतों को बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। यह गलत है। उन मकान मालिकों को कहना चाहता हूं कि भगवान न करे कि कल को आपके बच्चे को कोरोना हो गया तो वह डाॅक्टर और नर्स ही काम आएंगे और कोई काम नहीं आएगा। इसलिए ऐसा मत कीजिए। यह डाॅक्टर और नर्स हमारे लिए भगवान का काम कर रहे हैं। हमारी जिंदगी बचा रहे हैं। मेरी सभी मकान मालिकों से निवेदन है कि इनको सलाम करना चाहिए, इनका शुक्रिया करना चाहिए। सारे देश को शुक्रया करना चाहिए, यह लोग बहुत अच्छा काम कर रहे हैं। अगर यह लोग संक्रमित हुए तो हम लोग इनकी सेवा करेंगे और इलाज कराएंगे। इसके बाद भी अगर कोई मकान मालिक नहीं माना तो दिल्ली सरकार ने आदेश जारी कर दिया है। दिल्ली पुलिस ऐसे मकान मालिकों पर सख्त से सख्त कार्रवाई करेगी।

सभी लोगों के साथ से ही सरकार के प्रयास होंगे सफल - अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार ने कई स्थानों पर गरीबों के लिए खाने की व्यवस्था की है। हम 72लाख लोगों को 7.5किलो मुफ्त राशन दे रहे हैं। हम 8.5लाख परिवारों को पेंशन दे रहे हैं। इसके बावजूद ऐसे बहुत सारे लोग हैं जो इसके दायरे से बाहर हैं। ऐसे लोग भी होंगे, जिनके पास राशन कार्ड नहीं है, जिनको पेंशन नहीं मिलेगी, जो बिल्कुल भुखमरी की कगार पर होंगे। हम नहीं चाहते हैं कि वे कोरोना से तो बच जाएं, लेकिन भूखमरी के शिकार हो जाएं। दिल्ली सरकार ने कई रैन बसेरों में उनके लिए खाने का इंतजाम किया है। लेकिन अब खाना खाने वालों की संख्या बढ़ रही है। इसके लिए किसी को चिंता करने की जरूरत नहीं है। मैने आदेश दिए हैं कि ऐसे स्थानों की संख्या बढ़ाई जाए। हम विभिन्न स्थानों पर खाने का केंद्र बढ़ा रहे हैं और वहां पर भी सामाजिक दूरी का पालन किया जा रहा है। लाइन में खड़े होकर खाने वाले लोग सामाजिक दूरी का पालन कर रहे हैं।मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सरकार जितना भी प्रयास कर कर ले, सरकार तब तक नहीं सफल हो सकती है, जब तक समाज और देश साथ नहीं देगा। मेरी आप सभी लोगों से विनती है कि यह बहुत पुण्य का काम है। नवरात्र का दिन चल रहा है। आप लोग ज्यादा से ज्यादा संख्या में अपने-अपने इलाके की जिम्मेदारी लीजिए। आप अपने पड़ोस के झुग्गी बस्ती और कच्ची काॅलोनी के अंदर की जिम्मेदारी लें कि इस इलाके के किसी व्यक्ति को भूखा नहीं सोने दूंगा। यह आप लोग सुनिश्चित करिए कि किसी को भूखा सोने नहीं दूंगा। जिन-जिन लोगों को भगवान ने जिंदगी में कुछ दिया है, वह सब लोग जिम्मेदारी लें कि भगवान ने दूसरों के काम आने के लिए कुछ दिया है। यह पुण्य का काम है और यही सच्ची देशभक्ति है।

इस तरह मिलेगा 1031 पर ई-पास...

जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों को 1031 पर फोन करना होगा। जहां उनकों अपनी डिटेज देनी होगी। डिटेल और लोकेशन के आधार पर फोन करने वाले व्यक्ति को एक वाट्सएप नंबर दिया जाएगा। वह उस नंबर पर डिटेल वाट्सएप्प करेगा। इसके बाद उसके वाट्सएप पर ई-पास आ जाएगा।

दुकानों पर भीड़ एकत्र होगी तो लाॅक डाउन का मकसद खत्म हो जाएगा - अरवदिं केजरीवाल

इससे पहले, कोरोना के मद्देनजर 21दिन के लिए लाॅक डाउन की घोषणा के बाद दिल्ली के एलजी अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राज्य आपदा प्रबंधन समिति के सभी अधिकारियों के साथ महत्वपूर्ण बैठक की। बैठक के बाद एलजी और मुख्यमंत्री ने संयुक्त रूप से प्रेस कांफ्रेंस कर दिल्ली सरकार की तरफ से उठाए गए जरूरी कदमों की जानकारी दी। एलजी अनिल बैजल ने कहा कि हम प्रधानमंत्री जी को बधाई देना चाहते हैं कि उन्होंने कोरोना के प्रकोप की रोकथाम के लिए बड़ा फैसला लेते हुए देश में 21दिन का लाॅक डाउन करने का फैसला लिया है। वतर्मान में जो हालात हैं, लाॅक डाउन ही उसका सही उपाय है। हम भारत सरकार से जारी लाॅक डाउन की अधिसूचना को शत प्रतिशत प्रभावी तरीके से लागू कराएंगे।

वहीं, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के संदर्भ में केंद्र सरकार, एलजी साहब, दिल्ली सरकार और दिल्ली पुलिस, हम सब लोग एकजुट होकर आप सभी लोगों के लिए काम कर रहे हैं। आपके स्वास्थ्य, आपकी जिंदगी और आप तक आवश्यक वस्तुओं को पहुंचाने के लिए काम कर रहे हैं। इसमें हमें आप सब लोगों की मदद की जरूरत है। इससे आप लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है। कल हमने प्रधानमंत्री जी के उदघोषण के बाद देखा कि रात 8बजे के बाद दुकानों पर सामान खरीदने को लेकर लाइनें लगने लगी। अगर हम दुकानों पर भीड़ एकत्र करेंगे, तो जिस वजह से लाॅक डाउन किया गया है, उसका मकसद ही खत्म हो जाएगा। इस तरह से हम भीड़ में जाएंगे, तो उस लाॅक डाउन का उद्देश्य खत्म हो जाएगा। फिर एक-दूसरे से लोगों में कोरोना फैल जाएगा।

अफवाह न फैलाएं, सभी को जरूरी सामान पहुंचाने की जिम्मेदारी हमारी- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम आप सभी लोगों को आश्वस्त कराना चाहते हैं कि हमने अपनी तरफ से पूरी तैयारी की है। हम किसी भी हालत में आप सभी को आवश्यक वस्तुओं की कमी नहीं होने देंगे। हम आपकी सेवा में हमेशा हाजिर हैं। किसी तरह से मत घबराइए। यह अफवाह मत फैलाइए कि कोई दुकान नहीं खुलेगी। दुकानें खुलवाने और आपके इलाके तक सब्जी पहुंचाने की जिम्मेदारी हमारी है। आपके इलाके तक दवाइयां, दूध व रोजमर्रा की चीजें पहुंचाने की जिम्मेदारी हमारी है। दुकानें खुलेंगी और आप तक सारी जरूरत के सामान भी पहुंचेंगे।

पुलिस से संबंधित मदद के लिए हेल्प लाइन नंबर 011-23469536 पर काॅल करें - अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने अपने ऑफिस का एक हेल्प लाइन नंबर जारी किया है। अगर आपको कहीं पुलिस से किसी तरह की दिक्कत आती है, तो आप उस नंबर पर काॅल कर मदद प्राप्त कर सकते हैं। पुलिस कमिश्नर ने आश्वस्त किया है कि तुरंत कार्रवाई की जाएगी। पुलिस का हेल्प लाइन नंबर 011-23469536 है। यह नंबर पुलिस कमिश्नर के कार्यालय का है। पुलिस से कहीं पर भी दिक्कत आती है, तो इस नंबर पर काॅल कर सकते हैं। हम पूरी तरह से प्रयास कर रहे हैं कि कोराना वायरस महामारी की वजह से इस 21दिन की अवधि में कोई भी भूखा न सोए। उसके लिए हम तमाम तरह के प्रयास कर रहे हैं। किसी भी तरह से आप लोगों को कोई परेशानी नहीं हो, हम इसका प्रयास करेंगे। हालांकि यह काफी मुश्किल अवधि है। आपको परेशानियां होंगी, लेकिन हम सब लोगों को मिल कर इसका सामना करना है।

 
Have something to say? Post your comment
More National News
मनीष सिसोदिया ने ऑनलाइन और एसएमएस/आईवीआर आधारित शिक्षा की समीक्षा की
दिल्ली को 5000 करोड़ की मदद करे केंद्र सरकार, ताकि सैलरी का भुगतान हो सके: उपमुख्यमंत्री
सिंघी मछली और बगेरी के शौकीन है शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा, के नाम BJPअध्यक्ष बसूलता है रुपया: आप
ब्याज समेत भुगतान किया जाए, किसानों के गन्ने की अरबों रुपए की बकाया राशि: हरपाल सिंह चीमा
कोरोना के मरीज बढ़ रहे, यह चिंता का विषय, लेकिन अभी घबराने जैसी कोई बात नहीं: अरविंद केजरीवाल
होम आइसोलेशन में ठीक हुए मरीजों ने कहा, अभिभावक की तरह ख्याल रखती है दिल्ली सरकार
कोरोना से डरें नहीं, खुद को बचाना जरूरी: मनीष सिसोदिया
पंजाब में कृषि क्षेत्र के ट्यूबवेलों पर बिल लागू करने की योजना का ‘आप’ ने किया सख्त विरोध
ट्रेनों में मौत के जिम्मेदारों पर एफआईआर एवं रेल मंत्री से इस्तीफे की मांग को लेकर AAP का विरोध प्रदर्शन
‘दिल्ली के हीरो’ को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का सलाम