Sunday, March 29, 2020
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
केजरीवाल सरकार ने जनता को कोरोना से उत्पन्न समस्या से राहत देने के लिए उठाए कई कदमआपकी सेहत के लिए लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर होगी सख्ती- अरविंद केजरीवालCM Arvind Kejriwal announces free ration, pension, food for poor amid COVID-19भगवंत मान ने सदन में उठाया पंजाब की ‘खूनी सडक़ों’ का मुद्दा, केंद्री मंत्री नितिन गडकरी ने दिया समाधान करने का भरोसानियमों को ताक पर रख चण्डीगढ़ पुलिस में घुसपैठ करवाए दानिप्स कैडर के डीएसपीज का मुद्दा भगवंत मान ने संसद में उठायादिल्ली में मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने वकीलों को दिया एक और तोहफा, ‘वकील वेलफेयर स्कीम’ के तहत 21मार्च से कर सकते हैं आवेदनदिल्ली सरकार के डिस-इंफेक्शन अभियान के तहत अब तक 7877 वाहन किए गए कीटाणु रहित, जिसमें 5951 ऑटो-रिक्शा कीटाणु रहितसोशल मीडिया पर भड़काऊ मैसेज भेजने वाले हो जाएं सावधान, हो सकती है तीन साल तक की जेल
National

कोरोना: सीएम केजरीवाल का फैसला, 31मार्च तक बंद रहेंगे दिल्ली के सभी रेस्टोरेंट, खरीदने और होम डिलीवरी पर रोक नहीं

March 20, 2020 10:26 AM

नई दिल्ली(प्रेस विज्ञप्ति, 19मार्च): दिल्ली सरकार ने देश में कोरोना के बढ़ते प्रकोप के मद्देनजर दिल्ली के सभी रेस्टोरेंटों को 31मार्च तक बंद करने का फैसला लिया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि रेस्टोरेंट में बैठ कर खाना खाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। खरीदने और होम डिलीवरी पर प्रतिबंध नहीं है। पूर्व में किसी धार्मिक, राजनीतिक या सामाजिक समेत अन्य आयोजनों में 50 से अधिक लोगों की भीड़ एकत्र होने पर रोक थी, लेकिन अब ऐसे आयोजनों में 20 से अधिक लोगों की भीड़ एकत्र होने की अनुमति नहीं दी जाएगी। जिन लोगों को क्वॉरेंटाइन किया जा रहा है, उनके हाथ पर अब स्टैंपिंग भी की जा रही है, ताकि वे सार्वजनिक स्थान पर जाने से रोका जा सके। ऐसे लोग सरकार के निर्दे शों का पालन नहीं करते हैं, तो उन्हें गिरफ्तार भी किया जा सकता है और उन पर एफआईआर भी दर्ज की जा सकती है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सभी से अपील कि घबराएं नहीं, बल्कि ऐहतियात बरतें।

दिल्ली सचिवालय के मीडिया सेंटर में प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोरोना वायरस से उत्पन्न स्थिति से निपटने के लिए दिल्ली सरकार सभी उचित कदम उठा रही है। अभी तक दिल्ली में कुल 10मरीज पाए गए हैं। इसमें से एक की मौत हो गई है और दो मरीज ठीक होकर घर चले गए हैं, जिनमें से एक मरीज सिंगापुर चले गए हैं और दिल्ली के 6मरीजों का इलाज चल रहा है। यह लोग भी अब ठीक हो रहे हैं। अभी तक हमारे पास क्वॉरेंटाइन करने के लिए कुल 768बेड की क्षमता है। उनमें से अभी तक 57बेड इस्तेमाल हुए हैं। अभी 711 बेड खाली है। हमारे पास कुल 550आइसोलेशन बेड हैं, जहां मरीज को भर्ती कर इलाज किया जा सकता है। केंद्र सरकार के अस्पतालों में 95बेड हैं। 550बेड में से सिर्फ 40 का इस्तेमाल हो रहा है। इसमें वह लोग हैं, जो संदिग्ध मिले हैं। उनको आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है। केंद्र सरकार के 95बेड में से 67 इस्तेमाल हो रहे हैं।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार ने कोरोना को लेकर आज कुछ फैसले लिए हैं। जिसमें दिल्ली के सभी रेस्टोरेंट बंद किए जा रहे हैं। इसमें रेस्टोरेंट में बैठ कर खाना खाने पर प्रतिबंध लगाया जा रहा है। अगर आप खाना खरीदते हैं या होम डिलीवरी करते हैं, तो उस पर प्रतिबंध नहीं है। उसी तरह, आज से सभी शैक्षणिक स्कूल व काॅलेज 31मार्च तक बंद कर दिए गए हैं। शैक्षणिक संस्थानों के शिक्षक और गैर शिक्षक कर्मचारियों को अपने संस्थान में नहीं आना होगा और वो अपने घर से ही काम करेगा।

सार्वजनिक स्थान पर कोरोना पीड़ित की हो पहचान, इसके लिए क्वॉरेंटाइन किए जा रहे व्यक्ति के हाथ में स्टैंपिंग की जा रही है, जो लोग क्वॉरेंटाइन कर रहे हैं और सरकार के निर्देश के बाद भी सार्वजनिक स्थान पर घूमते मिले तो होगी सख्त कार्रवाई - अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जिन लोगों को एयरपोर्ट पर क्वॉरेंटाइन किया जा रहा है, उनसे घर पर भी क्वॉरेंटाइन करने के लिए कहा जा रहा है। उन्हें अलग कमरे में रहने के लिए कहा जा रहा है। उनके उपर स्टैंपिंग की जा रही है। क्योंकि कई मामले सामने आए हैं कि वो लोग भाग जा रहे हैं और क्वॉरेंटाइन नहीं कर रहे हैं। इसलिए उनके हाथ में स्टैंप लगाई जा रही है, ताकि सार्वजनिक स्थान पर स्टैंप लगा व्यक्ति दिखाई दे, तो उसे तुरंत घर जाने के लिए कहा जाए। ऐसे लोगों से हम कहना चाहते हैं कि आप दूसरों को भी बीमारी फैला सकते हैं। आपको क्वॉरेंटाइन करने के लिए कहा जा रहा है, तो आप करते रहिए। यह बहुत ही खतरनाक बीमारी है। जिससे सारी दुनिया परेशान है। अगर आप ऐसा नहीं करते हैं, तो सरकार के पास कोई विकल्प नहीं बचेगा और हमें सख्त कदम उठाने पड़ेगे। संभव है कि आपको गिरफ्तार करना पड़े और आपके खिलाफ एफआईआर दर्ज करनी पड़े।

अब सुबह 10 से शाम 6बजे तक प्रतिदिन प्राइवेट वाहनों का भी डिस-इन्फेक्शन किया जाएगा - अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम परिवहन विभाग के सभी बसों को प्रतिदिन डिस-इन्फेक्ट कर रहे हैं। सभी आईएसबीटी और मेट्रो को डिस-इन्फेक्ट कर रहे हैं। हमारे सभी बस डिपो में चाहे वह डीटीसी हो या क्लस्टर के हों, उनको सुबह 10 से 12बजे और शाम को 4ः30 से 6ः30बजे तक कीटाणु रहित किया जा रहा है। निजी सार्वजनिक वाहनों ऑटो, टैक्सी, ग्रामीण सेवा आदि को भी डिस-इन्फेक्शन किया जा रहा था, जिसकी वजह से वाहनों की लंबी-लंबी लाइनें लगनी शुरू हो गई थी। इसलिए आज यह फैसला लिया गया है कि सुबह 10 से शाम 6बजे तक प्रतिदिन प्राइवेट वाहनों का भी डिस-इन्फेक्शन किया जाएगा। अगर किसी डिपो पर ज्यादा भीड़ लगेगी, तो वहां पर मैन पाॅवर बढ़ा दी जाएगी।

वरिष्ठ नागरिकों से हमारी अपील है कि संभव हो तो वे थोड़े दिनों तक अपने घर में ही रहें, बाहर न निकलें - अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पिछले कुछ दिनों में देखने को आया है कि हमारे यहां जो लंबी दूरी वाली बसें आती थी, उनमें बहुत कमी आई हैं। जम्मू-कश्मीर ने पूरी तरह बंद कर दिया है। नेपाल ने भी बंद कर दिया है। सभी लोगों से हमारी(सरकार की) हाथ जोड़ कर अपील है कि स्थिति की नाजुकता को समझते हुए कम से कम घर से बाहर निकलें। ज्यादा से ज्यादा घर में रहें और जो भी काम हैं, वह घर से करने की कोशिश करें। निजी क्षेत्र के सभी कंपनी व संस्थानों से हमारी अपील है कि आप अपने कर्मचारी को घर से काम करने का विकल्प दीजिए, ताकि वह दफ्तर न आएं और भीड़ न हो। दुनिया भर से जो मामले आ रहे हैं, उसमें वरिष्ठ नागरिक सबसे अधिक प्रभावित हैं। वरिष्ठ नागरिक सुबह टहलने निकलते हैं और लोगों से मिलते हैं। इसलिए वरिष्ठ नागरिकों से हमारी अपील है कि संभव हो तो वे थोड़े दिनों तक अपने घर में ही रहें, बाहर न निकलें। सबसे ज्यादा ऐहतियात वरिष्ठ नागरिकों को ही बरतने की जरूरत है।

कोरोना से पैनिक होने की जरूरत नहीं है, अपने आप को बचाने की जरूरत - अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कुछ दिन पहले हमने फैसला लिया था कि समाजिक, राजनीतिक, धार्मिक, खेल, सेमीनार, कॉन्फरेन्सेस आदि के आयोजनों में 50लोगों से अधिक की भीड़ की अनुमति नहीं होगी। अब इसे 50 से घटा कर 20 कर करने का फैसला लिया गया है। अब किसी आयोजन में 20 से अधिक लोगों की भीड़ की अनुमति नहीं दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि मेरी सभी लोगों से अपील है कि घबराने की जरूरत नहीं है। ऐहतियात बरतने की जरूरत है। अपने आप को बचाने की जरूरत है। जितना हम अपने आप को बचाएंगे, उतना ही इससे बच पाएंगे। कल सफदरजंग अस्पताल से एक मरीज ने कूद कर आत्महत्या कर ली थी। लोगों को समझने की जरूरत है कि कोरोना वायरस की बीमारी जिनको हो जाती है, उन सभी की जान नहीं चली जाती है। इसमें अधिकतर लोगों की जान बच जाती है। कुछ एक लोगों के लिए ही यह बीमारी घातक होती है। इसलिए डरने की जरूरत नहीं है। अपने आप को बचाने की जरूरत है। अगर आप इससे ग्रसित हैं, तो यह किसी और को न हो, इसके लिए ऐहतियात बरतने की जरूरत है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोरोना के वायरस कई तरह से फैलते हैं। पहला, जब पीड़ित व्यक्ति छींकता है या खांसता है, तो हो सकता है कि इसके कीटाणु आपके मुंह पर आ जाएं। यह वायरस आंख, नाक और मुंह के जरिए ही फैलता है। इसलिए लोगों को एक मीटर की दूरी बनाने के लिए कहा जा रहा है। बीमार व्यक्ति अपना हाथ मुंह पर रखा है और आप से हाथ मिला लिया, तो वायरस आपके हाथ में अ जाते हैं। अब आप अपना हाथ मुंह पर लाते हैं तो वायरस आपके शरीर में आ जाएंगे। अगर हमने थूका या खांसा और इसके वायरस सतह पर गिर गए, तो उस सतह पर आप हाथ रखते हैं और बिना धोए हाथ को मुंह, आंख या नाक पर रखते हैं, तो इससे भी यह फैल सकता है। सख्त सतह पर इसका वायरस 48घंटे तक जिंदा रहता है और साफ्ट स्थान पर 6 से 7दिन तक जिंदा रहता है। कोराना वायरस किसी को हो गया, तो उसे 14दिनों तक पता नहीं चलता हैं। इस दौरान आप समान्य जिंदगी जीते हैं और कितने लोगों के संपर्क में आकर उसे भी बीमार कर देते हैं, यह आप को पता नहीं चलता है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि बस, मेट्रो के फेरे कम करते हैं, तो उसमें भीड़ बढ़ सकती है। इसलिए हम फेरेे कम नहीं कर रहे हैं, बल्कि हम चाहते हैं कि लोग ही यात्रा करना काम कर दें। दिहाड़ी मजदूरी करने वालों को लेकर दिल्ली सरकार भी चिंतित हैं। यह लोग रोज कमा कर खाते हैं। हम आंकलन कर रहे हैं कि इनके लिए क्या करना चाहिए। लोगों का कहना है कि गर्मी आने पर वायरस का असर कम हो जाए। कुछ दिन और इंतजार कर रहे हैं। इसके बाद कुछ राहत देने की जरूरत होगी तो अवश्य कदम उठाएंगे। दैनिक उपयोग की वस्तुए बेचने वाली दुकानों पर लोगों भीड़ लगने और राशन जमा करने पर पूछे गए सवाल पर मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने लोगों से अपील कि इस तरह से घबराएं नहीं, इससे कोई फायदा नहीं है। अभी तक पूरे देश ने मिल कर काफी अच्छा काम किया है और हम इसे नियंत्रित कर पाए हैं। इसी तरह से हम चैकन्ने रहेंगे, तो इससे निपट सकेंगे।

सभी गैर आवश्यक सेवाएं शुक्रवार से बंद - अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जो भी आवश्यक सेवाए हैं उनकों अनुमति दी जाएगी और गैर सार्वजनिक सेवाओं को शुक्रवार से बंद कर दिया जाएगा। दिल्ली सरकार के सभी अस्पतालों को वेन्टीलेटर, मशीनों को सक्रीय स्थिति में रखने के लिए निर्देश दिए जा रहे हैं। हम सभी प्राइवेट और सरकारी अस्पतालों की मैपिंग करा रहे हैं कि कहां क्या-क्या सुविधाएं हैं, जिसे जरूरत पड़ने पर इस्तेमाल कर सकें।

 
Have something to say? Post your comment
More National News
दिल्ली में 1000 दुकानों पर राशन पहुंचा, 71लाख लोगों को मुफ्त राशन दिया जा रहा हैं - अरविंद केजरीवाल
पैक्ड समान की कीमत में हेरफेर और ओवर चार्ज करने पर दुकानदार व निमार्ताओं पर ₹1लाख का जुर्माना- इमरान हुसैन
राजस्थान राज्य अभिलेखागार ने बनाया होम डिलीवरी के लिए एप्प, कोरोना संक्रमण की रोकथाम में मददगार साबित होगा
दिल्ली सरकार ने लाखों बुजुर्ग, विकलांग और विधवा पेंशन लाभार्थियों के खाते में भेजे 5-5हजार, अप्रैल में और देंगे - अरविंद केजरीवाल
आवश्यक वस्तुओं पर ओवर चार्ज करने वालों पर सख्त कार्रवाई होगी - इमरान हुसैन
दिल्ली में प्रतिदिन कोरोना के सौ नए मरीज के लिए पुख्ता इंतजाम, इस क्षमता को एक हजार करने की तैयारी हम कर रहे - अरविंद केजरीवाल
आवश्यक सेवाओं से जुड़ी दुकानें और फैक्ट्रियां 24घंटे खुल सकती है, सरकार ने दी अनुमति, कोई अतिरिक्त लाइसेंस नहीं चाहिए - अरविंद केजरीवाल
दिल्ली में जरूरी सेवाओं से जुड़े लोग 1031 पर काॅल कर ई-पास ले सकते हैं, पास जल्द से जल्द वाट्सएप्प पर मिलेगा - अरविंद केजरीवाल
हर श्रेणी के कर्ज की किश्तें बिना ब्याज 30सितम्बर तक स्थगित करे केंद्र सरकार - भगवंत मान
रेहड़ी, दिहाड़ीदारों व निर्भर लोगों के लिए विशेष वित्तीय और राहत योजनाओं का ऐलान करे कैप्टन सरकार - हरपाल सिंह चीमा