Friday, April 03, 2020
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
जिनके पास राशन कार्ड नहीं है, वे "ई-डिस्ट्रिक्ट" वेबसाइट पर आवेदन कर दें, सरकार देगी मुफ्त राशन - अरविंद केजरीवाललॉक डाउन में बेसहारा गरीबों के सहारा बने आम आदमी पार्टी के विधायकमुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली छोड़कर जा रहे लोगों से अपील की कि "जो जहां है, वहीं रहे"ਕੋਰੋਨਾ ਵਾਇਰਸ ਨਾਲ 'ਗਰਾਊਂਡ ਜ਼ੀਰੋ' 'ਤੇ ਜੰਗ ਲੜਨ ਵਾਲਿਆਂ ਲਈ ਵਿਸ਼ੇਸ਼ ਐਲਾਨ ਕਰੇ ਕੈਪਟਨ ਸਰਕਾਰ - ਆਪकेजरीवाल सरकार ने जरूरी सेवा से जुड़े हज़ारों लोगों को जारी किया ई-पास, इसकी जमकर हुई सराहनादिल्ली में 1000 दुकानों पर राशन पहुंचा, 71लाख लोगों को मुफ्त राशन दिया जा रहा हैं - अरविंद केजरीवालदिल्ली सरकार ने लाखों बुजुर्ग, विकलांग और विधवा पेंशन लाभार्थियों के खाते में भेजे 5-5हजार, अप्रैल में और देंगे - अरविंद केजरीवालआवश्यक वस्तुओं पर ओवर चार्ज करने वालों पर सख्त कार्रवाई होगी - इमरान हुसैन
National

भाजपा शाहीन बाग पर राजनीति कर रही है; चुनाव खत्म होने तक नहीं खुलवाना चाहती रास्ता - अरविंद केजरीवाल

January 27, 2020 11:22 PM

नई दिल्ली - दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शाहीनबाग मसले पर गंदी राजनीति करने के लिए भाजपा को आड़े हाथ लिया। उन्होंने पार्टी दफ्तर पर हुई प्रेसवार्ता में कहा कि मेरी भाजपा के सभी बड़े नेताओं से अपील है, वह शाहीन बाग जाकर लोगों से बात करें और रास्ता खुलवाएं। रास्ता बंद होने से लोगों को परेशानी हो रही है। बच्चों और एंबुलेंस को परेशानी हो रही। उन्होंने कहा कि भाजपा चुनाव तक रास्ता नहीं खुलवाएगी और 8फरवरी के बाद ही रास्ता खोलेगी। भाजपा हर चीज पर राजनीति करती है।

अरविंद केजरीवाल ने कहा मुझे बेहद दुख है कि शाहीनबाग मुद्दे पर भाजपा इतनी गंदी राजनीति कर रही है। शाहीनबाग में कई दिनों से रास्ता बंद है। जिसकी वजह से बहुत सारे लोगों को परेशानी हो रही है। स्कूली बच्चों को परेशानी हो रही है। एंबुलेंस को परेशानी हो रही है। 40मिनट का रास्ता लोग ढाई-तीन घंटे में तय कर रहे हैं।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इस देश के अंदर संविधान के तहत हर व्यक्ति को विरोध प्रदर्शन का अधिकार है। लेकिन उस प्रदर्शन की वजह से आम जनता को परेशानी नहीं होनी चाहिए। शाहीनबाग में लोगों को कई दिनों से तकलीफ हो रही है। भारतीय जनता पार्टी की केंद्र सरकार है, जिसके अंतर्गत दिल्ली की कानून व्यवस्था आती है। केंद्र की भाजपा सरकार इस समस्या का समाधान क्यों नहीं कर रही है।? रोज सिर्फ प्रेस वार्ता कर रहे हैं।

भाजपा के सभी बड़े नेताओं से मेरी अपील, शाहीन बाग जाकर लोगों से बात करें और रास्ता खुलवाएं  - अरविंद केजरीवाल

गृहमंत्री को अपील करते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा, अमित शाह जी देश के गृहमंत्री है। देश में कानून व्यवस्था और शांति बनाए रखना उनकी संवैधानिक जिम्मेदारी है। भारत एक जनतंत्र है और यहां हर चीज़ का हल बातचीत से ही निकलती है। उनको अपनी संवैधानिक जिम्मेदारी पूरी करने वहां जा कर उन लोगों से बात करनी चाहिए और उनको समझा कर रास्ता क्लियर करना चाहिए। इस समय वो जिद पर अड़े हुए हैं, और किसी से बात करने के लिए तैयार नहीं है। दिल्ली की कानून व्यवस्था प्रेस वार्ता करने से नहीं सुधरेगी, काम करने से सुधरेगी। भाजपा हमसे सीखे कैसे काम करते हैं। काम करना हमको आता है। उनको केवल प्रेस वार्ता और गंदी राजनीति करना आता है।

अरविंद केजरीवाल ने कहा, मैं मीडिया के माध्यम से भाजपा के सभी बड़े नेताओं गृह मंत्री अमित शाह जी, पीयूष गोयल जी, रविशंकर प्रसाद जी से अपील करता हूं, वह लोग शाहीनबाग जाए। लोगों से बातचीत करने जाइए और एक घंटे में रास्ता खुलवा दीजिए। आम जनता को किसी तरह की समस्या नहीं होनी चाहिए।

 
Related Articles
Have something to say? Post your comment
More National News
पब्लिक सर्विस से जुड़े वाहन चालकों को दिल्ली सरकार देगी 5-5 हजार रुपये - अरविंद केजरीवाल
जिनके पास राशन कार्ड नहीं है, वे "ई-डिस्ट्रिक्ट" वेबसाइट पर आवेदन कर दें, सरकार देगी मुफ्त राशन - अरविंद केजरीवाल
"दिल्ली में कोई भी व्यक्ति नहीं रहेगा भूखा" - मनीष सिसोदिया
दिल्ली में पौने तीन हजार केंदों पर 10 से 12लाख लोग खा सकेंगे खाना, हर केंद्र पर 500लोगों के खाने का इंतजाम - अरविंद केजरीवाल
कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र पाल गौतम ने किया बाल सम्प्रेषण गृह का निरीक्षण, कोरोना से बचने के लिए जारी किए सख्त निर्देश
कोरोना: दिल्ली में रहने वाले प्रवासी कामगारों की मदद के लिए केजरीवाल सरकार ने स्कूलों को रैन बसेरों में बदला
लॉक डाउन में बेसहारा गरीबों के सहारा बने आम आदमी पार्टी के विधायक
कोरोना पीड़ित मरीजों का इलाज कर रहे डॉक्टर होटल में रहेंगे, दिल्ली सरकार उठाएगी खर्च
दिल्ली बॉर्डर पर सख्ती बढ़ी, पुलिस व प्रशासन को किया अलर्ट- अरविंद केजरीवाल
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली छोड़कर जा रहे लोगों से अपील की कि "जो जहां है, वहीं रहे"