Sunday, September 15, 2019
Follow us on
Download Mobile App
National

सी.बी.एस.ई. फीसों में की भारी बढ़ौतरी तुरंत वापस ले मोदी सरकार -‘आप’

August 22, 2019 06:47 PM

आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब ने सैंटर बोर्ड ऑफ सैकेंडरी एजूकेशन (सीबीएसई) की तरफ से दसवीं और बारहवीं की फीसों में किए बेतहाशा वृद्धि की सख्त आलोचना करते हुए इस फीस वृद्धि को तुरंत वापस लेने की मांग की है। 
पार्टी हैडक्वाटर द्वारा जारी संयुक्त बयान में पार्टी के राज्य समिति के चेयरमैन और विधायक प्रिंसिपल बुद्धराम, पूर्व संसद मैंबर प्रो. साधू सिंह, विपक्ष की उप नेता बीबी सरबजीत कौर माणूंके, प्रो. बलजिन्दर कौर, रुपिन्दर कौर रूबी, जै किशन सिंह रोड़ी, कुलवंत सिंह पंडोरी और मनजीत सिंह बिलासपुर (सभी विधायक) ने केंद्रीय की मोदी सरकार के इस फैसले को लोक विरोधी करार दिया। ‘आप’ नेताओं ने कहा कि दो गुणा से लेकर 24 गुणा तक के फीस वृद्धि ने केंद्र की भाजपा सरकार की गरीबों, दलितों और आम लोगों के बच्चों के प्रति बेरुखी जनतक की है। 

‘आप’ विधायकों ने केंद्रीय मंत्री हरसिमरत बादल पर भी उठाए सवाल


प्रिंसिपल बुद्धराम ने कहा कि आम लोगों और गरीबों के बच्चे न कांग्रेस के एजंडे पर हैं और न ही अकाली-भाजपा के एजंडे पर हैं। फीसों में अंधाधुन्ध बढ़ौतरी गरीबों और आम परिवारों के बच्चों को पढ़ाई के क्षेत्र में बराबरी के अवसर से वचिंत रखना है। ‘आप’ इस तरह की खोटी नीयत और विरोधी शिक्षा नीति का सख्त विरोध करती है। 
प्रो. साधू सिंह और बीबी माणूंके ने कहा कि सरकारों के इस तरह के विरोधी फैसले भारतीय संविधान में दर्ज शिक्षा के बुनियादी हक सम्बन्धित तरमीमों के विरुद्ध जाते हैं, बल्कि शिक्षा के अधिकार (आरटीआई) एक्ट की भी उलंघन करते हैं, क्योंकि सरकारें शिक्षा प्रदान करने के लिए अपनी, वित्तीय जिम्मेवारियों को लोगों की जेबों पर नहीं फैंक सकतीं। 
प्रो. बलजिन्दर कौर और रुपिन्दर कौर ने कहा कि सरकार के इस फैसले का आम परिवारों के बच्चों पर बेहद बुरा प्रभाव पड़ेगा, क्योंकि सरकारों की लोक विरोधी नीतियों के कारण आज दलितों -किसानों समेत हर व्यापारी -कारोबारी भी कर्ज के बोझ तले है। एससी विंग के सूबा प्रधान मनजीत सिंह बिलासपुर और सह-प्रधान कुलवंत सिंह पंडोरी ने कहा कि एससी /एसटी वर्गों के साथ सम्बन्धित विद्यार्थियों की दसवीं और बारहवीं की परीक्षा फीस 20 रुपए से बडा कर सीधा 1200 रुपए करना मोदी सरकार की दलित और गरीब विरोधी सोच की पोल खोलती है। ‘आप’ विधायकों ने केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल को घेरते कहा कि जब मोदी सरकार अपनी, लोक हितैषी जिम्मेवारियों से भाग कर ऐसे लोक विरोधी फैसले ले रही होती है तो बीबी बादल कहां गिद्दा डाल रहे होते हैं?
    जै किशन सिंह रोड़ी ने कहा कि मोदी सरकार सीबीएसई का सालाना 100 करोड़ का घाटा जनरल वर्ग से 750 रुपए की जगह 1500 रुपए और एससी /एसटी वर्ग के विद्यार्थियों से 20 रुपए की जगह 1200 रुपए वसूल कर पूरा न करे बल्कि दिल्ली की केजरीवाल सरकार की शिक्षा नीति से सबक लेकर अपने सालाना बजट में शिक्षा के क्षेत्र का हिस्सा बढ़ाए। 
    ‘आप’ नेताओं ने फीस वृद्धि विरुद्ध माता-पिता की आल इंडिया समिति की तरफ से शुरु किए जा रहे संघर्ष का भी समर्थन किया। 

Have something to say? Post your comment
More National News
मुख्यमंत्री ने पराली और सर्दियों में होने वाले वायु प्रदूषण से निपटने के लिए एक्शन प्लान घोषित किया
सबरीमाला पर सुप्रीम कोर्ट को चुनौती देने वाले अमित शाह जी दलितों की आस्था के मुद्दे पर खामोश क्यों हैं-संजय सिंह
जन संवाद में मोहल्ला क्लिनिक की हो रही है जम कर तारीफ
ईरान के राजदूत ने दिल्ली सचिवालय में मुख्यमंत्री से मुलाकात की
Iran Ambassador calls on the Chief Minister at Delhi Secretariat
डोर स्टेप डिलीवरी को लेकर जनता ने किया केजरीवाल की सराहना
एक ही परिवार के पांचवें मैंबर द्वारा खुदकुशी करना कैप्टन के कर्ज माफी प्रोग्राम के मुंह पर करारा थप्पड़- भगवंत मान
प्रदूषित पानी के मुद्दे पर 'आप' व समाज सेवी संगठनों के वफद ने राज्यपाल को दिया मांग पत्र
डीटीसी के सभी डिपो और टर्मिनल के प्रदूषण जांच केंद्र जनता के लिए खोले गए-श्री कैलाश गहलोत
मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र से संत रविदास मंदिर की जमीन को डि-नोटिफाई करने का अनुरोध किया