Monday, October 14, 2019
Follow us on
Download Mobile App
National

मुख्यमंत्री के निर्देशों के बाद, मंत्री, इमरान हुसैन ने ऑटोरिक्शा चालकों के लिए बड़ी राहत की घोषणा की।

August 08, 2019 04:11 PM

ऑटो किराया मीटर के पुन: अंशांकन के बाद कोई सड़क परीक्षण का प्रयास नहीं।

ऑटो किराया मीटर के पुन: अंशांकन के बाद कोई सड़क परीक्षण का प्रयास नहीं।

किराया मीटर के पुन: अंशांकन के बाद कोई सड़क परीक्षण का प्रयास नहीं।

ऑटो किराया मीटर के पुन: अंशांकन के बाद कोई सड़क परीक्षण का प्रयास नहीं।

 

ऑटो किराया मीटर के सॉफ्टवेयर अपग्रेडेशन के लिए निर्माताओं को 400 रुपये में एडवाइजरी जारी की गई।

किराया मीटर के पुन: अंशांकन के बाद कोई सड़क परीक्षण का प्रयास नहीं।

श्री हुसैन ने बताया कि मुख्यमंत्री ने ऑटो किराया मीटर के पुन: अंशांकन के लिए प्रक्रिया को सरल बनाने के लिए सभी हितधारकों के साथ परामर्श बैठक आयोजित करने का निर्देश दिया था। केजरीवाल सरकार की इस पहल से ऑटो रिक्शा चालकों के साथ-साथ यात्रियों को भी फायदा होगा, क्योंकि रि—कैलिब्रेशन तेजी से किया जाएगा, जिससे लागत और समय की भी बचत होगी।

दिल्ली सरकार ने हाल ही में ऑटो किराए में संशोधन किया था। यह उनके सॉफ्टवेयर के उन्नयन के बाद ऑटो किराया मीटर के पुन: अंशांकन की आवश्यकता है। ऑटो किराया मीटर का पुन: अंशांकन शीघ्र ही शुरू होने वाला है।

श्री हुसैन ने यह भी बताया कि ऑटो रिक्शा चालकों को सॉफ्टवेयर के उन्नयन के लिए ऑटो रिक्शा किराया मीटर के निर्माताओं, मरम्मत करने वालों और व्यापारियों द्वारा अत्यधिक कीमत वसूलने की भी शिकायत थी।

मंत्री ने घोषणा की कि ऑटो रिक्शा चालकों को राहत देने के लिए, ऑटो रिक्शा के निर्माताओं, मरम्मत करने वालों और व्यापारियों को एक एडवाइजरी जारी की गई है, जो ऑटो किराए में संशोधन के बाद साफ्टवेयर अपग्रेडेशन के लिए 400 रुपये प्रति मीटर से अधिक और जीएसटी चार्ज नहीं करने के लिए है ।

इससे पहले, वज़ीरपुर में वेट एंड मेजर्स डिपार्टमेंट (अब बदला हुआ लीगल मेट्रोलॉजी) द्वारा अपनी प्रयोगशाला में पुन: अंशांकन और प्रारंभिक सत्यापन के बाद, ऑटो रिक्शा चालकों को रेवलाखानपुर, नजफगढ़ में रोड ट्रायल टेस्ट के लिए जाना था।

ऑटो रिक्शा चालक मांग कर रहे थे कि नजफगढ़ में दूर स्थान पर रोड ट्रायल टेस्ट उनके लिए असुविधाजनक था और इससे एक दिन की कमाई भी नष्ट हो रही थी। वे पुन: अंशांकन प्रक्रिया को सुगम और सुविधाजनक बनाने और केंद्रीय स्थान पर संचालन के लिए अनुरोध कर रहे थे।

श्री हुसैन ने बताया कि कई उच्च स्तरीय बैठकें आयोजित करने और इस मुद्दे पर चर्चा करने के बाद, दिल्ली के कानूनी मेट्रोलॉजी विभाग को प्रस्ताव की पुन: जांच करने के निर्देश दिए गए। विभाग ने कानूनी मेट्रोलॉजी अधिनियम के कानूनी प्रावधानों और उपभोक्ता मामलों के विभाग, भारत सरकार के परामर्श के बाद, ऑटो रिक्शा चालकों के लिए असुविधाजनक साबित हो रहे रोड ट्रायल टेस्ट को बंद करने का निर्णय लिया।

लीगल मेट्रोलॉजी विभाग स्वयं विभाग की प्रयोगशाला में सिमित रोड टेस्ट विधि के बाद सत्यापन प्रमाण पत्र जारी करेगा।
वजीरपुर औद्योगिक क्षेत्र में स्थित कानूनी मेट्रोलॉजी विभाग की टैक्सी मीटर यूनिट में सिमुलेटेड रोड टेस्ट आयोजित किया जाएगा। वर्तमान में ऑटो/टैक्सी में "ट्रांसड्यूसर" नामक वाहन लगा होता है,जो दूरी को दालों या डिजिटल डेटा में मापा जाता है,जो किराया की गणना और संकेत करने के लिए ऑटो/टैक्सी मीटर से गुजरता है।

विभाग अब तक टैक्सी मीटर यूनिट में स्थित लैब में इलेक्ट्रॉनिक पल्स जनरेटिंग मशीन की मदद से ऑटो / टैक्सी फेयर मीटर का परीक्षण कर रहा है जो कि यात्रा की गई दूरी और गणना के लिए बनाई गई पल्स के आधार पर ऑटो / टैक्सी किराया मीटर की जांच करता है। इसके बाद रेवलाखानपुर में रोड ट्राई टेस्ट के माध्यम से मीटर का परीक्षण किया गया। अब से, ऑटो रिक्शा चालक रेवलाखानपुर में रोड ट्राई टेस्ट के लिए नहीं जाएंगे और ऑटो फेयर मीटर टेस्टिंग का सत्यापन प्रमाण पत्र केवल वजीरपुर प्रयोगशाला में परीक्षण के बाद जारी किया जाएगा।

Have something to say? Post your comment
More National News
भाजपा द्वारा तमाम बाधाएं लगाने के बावजूद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने C-40 सम्मेलन को किया संबोधित: संजय सिंह
बस तीन सप्ताह और घर में साफ पानी की जांच करें और परिवार को डेंगू के खतरे से मुक्त करें - अरविंद केजरीवाल
एस.सी विद्यार्थियों के लिए वजीफे न जारी करने का मामला
हर दुर्घटना पीड़ित की जान बचाएंगे-श्री केजरीवाल
CM ने दिल्ली के सभी प्राइवेट स्कूलों को डेंगू अभियान का हिस्सा बनाया
ऋणी किसानों को कुर्की के नोटिस भेज कर किसानों के पीठ में छुरा मार रहे हैं कैप्टन- हरपाल सिंह चीमा
केजरीवाल दिल्ली की सड़कों को बनाएँगे गड्ढा-मुक्त
दिल्ली के लाखों किरायेदारों को भी मिलेगी मुफ्त बिजली
धान के सीजन के लिए चुनौती बनी समस्याओं का मामला
दिल्ली में महंगे प्याज से निकलते आंसू को सीएम ने पोछा, कल से सरकार बेचेगी सस्ता प्याज