Friday, October 18, 2019
Follow us on
Download Mobile App
National

कैप्टन सरकार राज्य के किसानों को आत्महत्या करने के लिए कर रही है मजबूर - हरपाल सिंह चीमा 

March 14, 2019 08:45 PM

चंडीगढ़, आम आदमी पार्टी ने वीरवार को कैप्टन अमरिन्दर सिंह के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार की आलोचना करते इस को किसान विरोधी करार दिया। मीडिया में जारी बयान द्वारा विरोधी पक्ष के नेता हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि सरकार की गलत नीतियों के कारण राज्य के किसान कर्जे की मार बर्दाश्त कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में ऐसा एक भी दिन नहीं होता जब कोई किसान या खेत मजदूर कर्जे से तंग आ कर अपनी जीवन लीला समाप्त नहीं करता।

    चीमा ने कहा कि पिछले दिनों निहाल सिंह वाला के माणूंके गांव के किसान ने कर्जे से तंग आ कर खुद को गोली मार ली थी। इसी तरह गुरूहरसहाए के गांव सोहनगढ़ में किसान ने कीटनाशक पी कर अपनी जीवन लीला खत्म कर ली थी। उन्होंने कहा कि अखबारों की खबरें अनुसार शेरपुर के गांव बारी और मलोट के औलख गांव में भी इसी तरह किसान आत्महत्याओं की घटनाएं सामने आईं हैं। 

आम आदमी पार्टी ने वीरवार को कैप्टन अमरिन्दर सिंह के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार की आलोचना करते इस को किसान विरोधी करार दिया। मीडिया में जारी बयान द्वारा विरोधी पक्ष के नेता हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि सरकार की गलत नीतियों के कारण राज्य के किसान कर्जे की मार बर्दाश्त कर रहे हैं। 

 विरोधी पक्ष के नेता ने कहा कि चुनाव से पहले कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने किसानों की समस्याओं के हल ढूंढने के झूठे वायदे किए थे परंतु उसके बाद में उन्होंने सब कुछ भुला दिया है। उन्होंने कहा कि सरकार ने कर्ज माफी, किसानों की आमदन बढ़ाने समेत सभी वायदों से यू-टर्न मारा है।
    पीडि़त किसान के परिवारिक सदस्यों के साथ मुलाकात करने के उपरांत आम आदमी पार्टी के महल कलां से विधायक कुलवंत सिंह पंडोरी ने कहा कि आम आदमी पार्टी ने किसान आत्म हत्याओं का मुद्दा विधान सभा के सैशन के दौरान भी उठाया था परंतु सरकार के कान पर जूं भी नहीं सरकी। उन्होंने कहा कि सरकार गरीब किसानों की आत्म हत्याओं को रोकने के लिए गंभीर नहीं है।
    केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल और विजय सांपला पर हल्ला बोलते हुए पंडोरी ने कहा कि केंद्र सरकार में 5 साल सत्ता का आनंद लेने वाले यह मंत्री कभी भी किसान आत्म हत्याओं पर एक शब्द भी नहीं बोले। उन्होंने कहा कि इन दोनों नेताओं को इस सम्बन्धित स्पष्टीकरण देना चाहिए कि उन्होंने अपनी सरकार दौरान पंजाब के किसानों के भले के लिए क्या किया है। 
    'आप' नेता ने मांग की है कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह सरकार इस मुद्दे पर वाइट पेपर जारी करते हुए किसान आत्म हत्या के सही आंकड़े लोगों के समक्ष पेश करें। उन्होंने कहा कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह अपने शाही महल से बाहर आ कर किसानों के मुद्दों पर गंभीरता के साथ विचार करें।

Have something to say? Post your comment
More National News
भाजपा द्वारा तमाम बाधाएं लगाने के बावजूद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने C-40 सम्मेलन को किया संबोधित: संजय सिंह
बस तीन सप्ताह और घर में साफ पानी की जांच करें और परिवार को डेंगू के खतरे से मुक्त करें - अरविंद केजरीवाल
एस.सी विद्यार्थियों के लिए वजीफे न जारी करने का मामला
हर दुर्घटना पीड़ित की जान बचाएंगे-श्री केजरीवाल
CM ने दिल्ली के सभी प्राइवेट स्कूलों को डेंगू अभियान का हिस्सा बनाया
ऋणी किसानों को कुर्की के नोटिस भेज कर किसानों के पीठ में छुरा मार रहे हैं कैप्टन- हरपाल सिंह चीमा
केजरीवाल दिल्ली की सड़कों को बनाएँगे गड्ढा-मुक्त
दिल्ली के लाखों किरायेदारों को भी मिलेगी मुफ्त बिजली
धान के सीजन के लिए चुनौती बनी समस्याओं का मामला
दिल्ली में महंगे प्याज से निकलते आंसू को सीएम ने पोछा, कल से सरकार बेचेगी सस्ता प्याज