Tuesday, March 19, 2019
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
भगत सिंह, राजगुरु एवं सुखदेव के बलिदान दिवस 23 मार्च से शुरू होगा AAP का चुनावी रण: गोपाल रायरईआ में नौजवानों की हुई मौत के लिए प्रशासन और प्राईवेट ठेकेदार जिम्मेदार -हरपाल चीमाआम आदमी पार्टी के वफद ने सीईओ के साथ की मुलाकातदिल्ली छावनी की झुग्गियों में लगेंगे बिजली के कनेक्शन पूर्ण राज्य की मांग के साथ पटपड़गंज में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने जलाया भाजपा का 2014 का घोषणापत्रबादलों ने भाजपा द्वारा आरएसएस की झोली में डाली दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी -संधवांशीला दीक्षित के बयान से साबित हुआ कि पर्दे के पीछे भाजपा और कांग्रेस मिली हुई हैं।AAP के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया एवं संजय सिंह के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग से की मुलाकात।
National

दिल्ली की कच्ची कॉलोनियों में चल रहे विकास कार्यों से दिल्ली में बढ़ा आम आदमी पार्टी का ग्राफ : अरविंद केजरीवाल

March 12, 2019 07:00 PM

इस बार दिल्ली की जनता प्रधानमंत्री के लिए नहीं दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने के लिए करेगी वोट

दिल्ली की कच्ची कॉलोनियों में चल रहे विकास कार्यों से दिल्ली में बढ़ा आम आदमी पार्टी का ग्राफ : अरविंद केजरीवाल

 भारत और पाकिस्तान के बीच में जो परिस्थितियां हैं, और उस पर भाजपा जो राजनीति कर रही है, वह देश की जनता को पसंद नहीं आ रही है। दिल्ली की 56% जनता ने कहा कि भाजपा को हो रहा इसका नुकसान :अरविंद केजरीवाल

 कांग्रेस को अब न तो हिंदुओं का साथ मिल रहा है और न ही मुस्लिम समाज का :अरविंद केजरीवाल

 नई दिल्ली, पार्टी मुख्यालय में एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए आप राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली की जनता हर बार प्रधानमंत्री बनाने के लिए लोकसभा में वोट देती थी, लेकिन इस बार दिल्ली की जनता प्रधानमंत्री बनाने के लिए नहीं बल्कि दिल्ली को पूर्ण राज्य दिलाने के लिए वोट करेगी।

 अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली की जनता सालों से वोट करती आ रही है, परंतु बदले में किसी भी सरकार ने दिल्ली की जनता को कुछ नहीं दिया। पिछले 70 सालों से दिल्ली के लोगों का शोषण और अपमान हो रहा है।

बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर ने संविधान में कहा है कि प्रत्येक व्यक्ति का 1 वोट होगा, और सभी के वोटों की कीमत बराबर होगी, चाहे वह किसी भी राज्य का, किसी भी प्रांत का, किसी भी धर्म का या किसी भी जाति का व्यक्ति हो। परंतु आज बाबासाहेब के संविधान की अवमानना हो रही है। दिल्ली राज्य के लोगों के वोट की कीमत आधी है। दिल्ली की जनता के साथ पिछले 70 सालों से सौतेला व्यवहार हो रहा।

 इस बार के लोकसभा चुनाव में दिल्ली की जनता ने पूरा मन बना लिया है। जिस प्रकार से तेलंगाना के लोगों ने संघर्ष करके अपने लिए अलग राज्य लिया, जिस प्रकार से उत्तराखंड के लोगों ने संघर्ष करके अपने लिए अलग राज्य लिया, उसी प्रकार से अब दिल्ली की जनता भी दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने के लिए संघर्ष करेगी, और अपनी दिल्ली को पूर्ण राज्य है बनवा कर ही दम लेगी। 

भारत और पाकिस्तान के बीच में जो परिस्थितियां हैं, और उस पर भाजपा जो राजनीति कर रही है, वह देश की जनता को पसंद नहीं आ रही है। दिल्ली की 56% जनता ने कहा कि भाजपा को हो रहा इसका नुकसान :अरविंद केजरीवाल

दिल्ली देश का दूसरा ऐसा राज्य है जो केंद्र सरकार को सबसे ज्यादा राजस्व इकट्ठा करके देता है। डेढ़ लाख करोड़ रुपये का इनकम टैक्स दिल्ली की जनता केंद्र सरकार को देती है, और बदले में केंद्र सरकार दिल्ली के लोगों के लिए मात्र 325 करोड रुपए खर्च करती है। 15 लाख की आबादी वाले छोटे से राज्य गोवा पर केंद्र सरकार प्रति वर्ष 3200 करोड़ रुपए, गुजरात पर 26000 करोड रुपए और उत्तर प्रदेश पर डेढ़ लाख करोड़ रुपए खर्च करती है केंद्र सरकार, और दो करोड़ आबादी वाले दिल्ली के लिए मात्र 325 करोड़, यह दिल्ली के साथ सरासर नाइंसाफी है।

 केंद्र सरकार से सवाल पूछे जाने पर कि दिल्ली के साथ यह सौतेला व्यवहार क्यों, तो जवाब मिलता है, क्योंकि दिल्ली आधा राज्य है। पिछले 70 सालों में देश के सभी राज्य पूर्ण राज्य हो गए, लेकिन दिल्ली वालों के साथ पिछले 70 सालों से यह नाइंसाफी होती आ रही है। आज भी दिल्ली आधा अधूरा राज्य है, जबकि सबसे ज्यादा टैक्स दिल्ली की जनता केंद्र को इकट्ठा करके देती है।

 2015 में दिल्ली की जनता ने हमें पूर्ण बहुमत से जिता कर दिल्ली की सत्ता में भेजा। जितने काम दिल्ली सरकार के अधिकार क्षेत्र में थे, हमने सभी कामों को बखूबी निभाया। परंतु दिल्ली में बहुत सारे काम ऐसे हैं जो कि बिना पूर्ण राज्य के संभव नहीं है।

अरविंद केजरीवाल ने ये भी कहा कि आज दिल्ली की महिलाएं दिल्ली में खुद को बेहद असुरक्षित महसूस करती हैं। दिल्ली में जगह-जगह खुलेआम शराब बिकती है। सड़कों पर खुलेआम छीना- झपटी, गुंडागर्दी और मारपीट की वारदातें हो रही हैं। छोटी-छोटी मासूम बच्चियों के बलात्कार की घटनाएं हो रही है, परंतु दिल्ली सरकार इसका समाधान करने में असमर्थ है। क्योंकि दिल्ली की पुलिस जिसके पास लॉ एंड ऑर्डर की ताकत है, वह केंद्र सरकार के अधीन आती है। अगर दिल्ली पूर्ण राज्य होगा तो पुलिस अधिकारियों की जवाबदेही तय की जा सकेगी और दिल्ली को अपराध मुक्त बनाया जा सकेगा, महिलाएं रात को 12 बजे भी अपने घर से निडर होकर निकल सकेंगी।

उन्होंने ये भी कहा कि आज दिल्ली का युवा बेरोजगार घूम रहा है। दिल्ली सरकार में बहुत सारे काम हो रहे हैं, जिनके लिए लगभग 2 लाख  वैकेंसी निकाली जा सकती हैं। परंतु क्योंकि यह अधिकार दिल्ली सरकार के पास नहीं है और केंद्र सरकार दिल्ली सरकार की कोई बात सुनने को राजी नहीं है, इस कारण से दिल्ली का युवा बेरोजगार है। अगर दिल्ली पूर्व राज्य होगा तो दिल्ली सरकार, दिल्ली में खूब नौकरियां निकालेगी, दिल्ली के युवाओं को रोजगार मिलेगा। दिल्ली सरकार में मौजूद सरकारी नौकरियों में 85% नौकरियां दिल्ली के युवाओं के लिए आरक्षित की जाएंगी।

 अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आज दिल्ली में कॉलेजों की कमी है। दिल्ली के छात्रों को 90% लाने के बावजूद कॉलेजों में दाखिला नहीं मिलता। ठेके के कर्मचारियों को दिल्ली सरकार पक्का करना चाहती है परंतु यह पावर भी दिल्ली सरकार के पास नहीं है। आज दिल्ली के व्यापारी सीलिंग से परेशान हैं, परंतु दिल्ली सरकार उनकी किसी भी प्रकार से मदद करने में असमर्थ है। अगर दिल्ली पूर्ण राज्य होता तो हम दिल्ली में इतने कॉलेज बनाते के सभी छात्रों को अच्छे कॉलेजों में दाखिले मिलते, ठेके के कर्मचारियों को दिल्ली सरकार पक्का करने का काम करती, दिल्ली के व्यापारियों को सीलिंग से बचाने के लिए दिल्ली, सरकार एक ऑर्डिनेंस पास करके 5 मिनट में सीलिंग रुकवा देती।

 केजरीवाल ने ये भी कहा कि पिछले कुछ दिनों में हमने जो सर्वे करवाये हैं, उसके मुताबिक आम आदमी पार्टी बिना कांग्रेस के गठबंधन के भी दिल्ली की सातों सीटों पर भारी बहुमत से जीत रही है। उन्होंने कहा कि इसके पीछे मुख्य कारण इस प्रकार से हैं :

 1- पिछले डेढ़ महीने से दिल्ली सरकार द्वारा पूरी दिल्ली की कच्ची कॉलोनियों में जो सड़कों का, सीवर का, पानी पाइप लाइन का और नालियों का निर्माण कार्य चल रहा है उससे दिल्ली की जनता बेहद खुश है।

 2- दूसरा यह कि लोग अब इस बात को समझ रहे हैं कि भाजपा और कांग्रेस ने आज तक दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा देने की बात कही और अपने घोषणापत्र में भी डाली, वह केवल झूठ था। केवल और केवल आम आदमी पार्टी इस मुद्दे को लेकर बेहद गंभीर है, और सभी लोग दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने के लिए आम आदमी पार्टी के साथ आ रहे हैं।

 3- तीसरा, भारत और पाकिस्तान के बीच में जो परिस्थितियां हैं, और उस पर भाजपा जो राजनीति कर रही है, वह देश की जनता को पसंद नहीं आ रही है। सर्वे में भी हमने लोगों से पूछा था कि भाजपा को इसका फायदा होगा या नुकसान, तो दिल्ली की 56% जनता ने कहा कि भाजपा को इसका नुकसान होगा।

 4- चौथा, कांग्रेस ने पार्टी को सर्वोपरि मानकर, और देश को नकार कर, गठबंधन ना करने की जो बात कही, जनता उसे बखूबी समझ गई है। कांग्रेस को हिंदुओं का वोट पहले भी नहीं मिलता था, और जो मुस्लिम वोटर्स हैं वह असमंजस में थे परंतु अब सभी मुस्लिम समुदाय के लोग एकजुट होकर आम आदमी पार्टी की तरफ आ गए हैं।

 भाजपा पर आक्रामक होते हुए मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि मनोज तिवारी ने बीते दिनों जो बयान दिया, उससे यह बात साफ हो गई है कि भाजपा पिछले 5 सालों से दिल्ली की जनता को बेवकूफ बना रही थी। मोदी जी ने 2014 के लोकसभा चुनाव में जो दिल्ली की जनता से पूर्ण राज्य बनाने का वादा किया था, वह भी अन्य बातों की तरह मात्र एक जुमला ही था।

केजरीवाल ने मीडिया के माध्यम से भाजपा और नरेंद्र मोदी से सवाल पूछते हुए कहा कि आखिर भाजपा और नरेंद्र मोदी जी ने दिल्ली की जनता को धोखे में क्यों रखा? दिल्ली की जनता के साथ विश्वासघात क्यों किया? मोदी जी को दिल्ली की जनता को यह जवाब देना पड़ेगा।

 

Have something to say? Post your comment
More National News
भगत सिंह, राजगुरु एवं सुखदेव के बलिदान दिवस 23 मार्च से शुरू होगा AAP का चुनावी रण: गोपाल राय
रईआ में नौजवानों की हुई मौत के लिए प्रशासन और प्राईवेट ठेकेदार जिम्मेदार -हरपाल चीमा
आम आदमी पार्टी के वफद ने सीईओ के साथ की मुलाकात
दिल्ली छावनी की झुग्गियों में लगेंगे बिजली के कनेक्शन 
पूर्ण राज्य की मांग के साथ पटपड़गंज में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने जलाया भाजपा का 2014 का घोषणापत्र
बादलों ने भाजपा द्वारा आरएसएस की झोली में डाली दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी -संधवां
शीला दीक्षित के बयान से साबित हुआ कि पर्दे के पीछे भाजपा और कांग्रेस मिली हुई हैं।
AAP के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया एवं संजय सिंह के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग से की मुलाकात।
दिल्ली के लिए पूर्ण राज्य की मांग को लेकर आम आदमी पार्टी ने दिल्ली की 70 विधानसभा में जलाया भाजपा को घोषणा पत्र।
सरकार सभी देशों के लिए अमृतसर व चंडीगढ़ एयरपोर्ट से सीधी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें करे शुरू -भगवंत मान