Tuesday, March 19, 2019
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
भगत सिंह, राजगुरु एवं सुखदेव के बलिदान दिवस 23 मार्च से शुरू होगा AAP का चुनावी रण: गोपाल रायरईआ में नौजवानों की हुई मौत के लिए प्रशासन और प्राईवेट ठेकेदार जिम्मेदार -हरपाल चीमाआम आदमी पार्टी के वफद ने सीईओ के साथ की मुलाकातदिल्ली छावनी की झुग्गियों में लगेंगे बिजली के कनेक्शन पूर्ण राज्य की मांग के साथ पटपड़गंज में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने जलाया भाजपा का 2014 का घोषणापत्रबादलों ने भाजपा द्वारा आरएसएस की झोली में डाली दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी -संधवांशीला दीक्षित के बयान से साबित हुआ कि पर्दे के पीछे भाजपा और कांग्रेस मिली हुई हैं।AAP के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया एवं संजय सिंह के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग से की मुलाकात।
National

जाखड़ बताएं अब निजी बिजली कंपनियों के खिलाफ क्यों नहीं बोलते -भगवंत मान

March 10, 2019 07:34 PM

जाखड़ बताएं अब निजी बिजली कंपनियों के खिलाफ क्यों नहीं बोलते -भगवंत मान
बिल्कुल बादलों के कदम चिह्नों पर चल रही है कैप्टन सरकार
बिजली आंदोलन के लिए लोगों की लामबंदी समझौते रद्द करवा कर रहेगी

चंडीगढ़ आम आदमी पार्टी पंजाब के प्रधान और संसद मैंबर भगवंत मान ने ‘बिजली आंदोलन’ में लोगों की लामबंदी की प्रशंसा करते कहा कि लोकतंत्र प्रणाली में जब लोग एकजुट होकर जुड़ते हैं तो बड़े -बड़े तख्त हिल जाते हैं। ‘बिजली आंदोलन’ के लिए लोगों की लामबंदी ने सरकार को झुका लिया है परंतु यह संघर्ष तब तक जारी रहेगा, जब तक कैप्टन अमरिन्दर सिंह सरकार निजी बिजली कंपनियों के साथ पिछली बादल सरकार की ओर से किये बेहद महंगे इकरारनामे रद्द करके लोगों को बेहद महंगी बिजली दरों से निजात नहीं दिला देती।

आम आदमी पार्टी पंजाब के प्रधान और संसद मैंबर भगवंत मान ने ‘बिजली आंदोलन’ में लोगों की लामबंदी की प्रशंसा करते कहा कि लोकतंत्र प्रणाली में जब लोग एकजुट होकर जुड़ते हैं तो बड़े -बड़े तख्त हिल जाते हैं। ‘बिजली आंदोलन’ के लिए लोगों की लामबंदी ने सरकार को झुका लिया है

पार्टी हैडक्वाटर द्वारा जारी प्रैस में भगवंत मान ने दोष लगाया कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह सरकार ने बादल सरकार वाला रास्ता पकड़ लिया है। बादलों की ओर से सस्ती बिजली पैदा करने वाले सरकारी थर्मल प्लांटों की बलि ले कर दूसरे थर्मल प्लाटों से बेहद महंगी बिजली खरीदने के 25-25 साल के समझौते अपनी हिस्सेदारी की बात पक्की करके किए गए थे। जिस का नतीजा यह निकला कि आज पंजाब में हर अमीर-गरीब को औसतन आठ-दस रुपए प्रति यूनिट बिल आ रहा है, जो पूरे देश में मंहगी दर है। यदि समझौते वाजिब दरों पर हुए होते तो आधे मूल्य में बिजली पड़ती और हर साल 2800 करोड़ रुपए का फालतू बोझ पंजाब के बिजली खप्तकारों पर न पड़ता। 

भगवंत मान ने पंजाब कांग्रेस के प्रधान और संसद मैंबर सुनील जाखड़ को पूछा कि 2017 के चुनाव से पहले बादलों की तरफ से निजी बिजली कंपनियों के साथ किये समझौते विरुद्ध जो मोर्चा खोला हुआ था, उनकी अपनी कांग्रेस सरकार बनने पर कैसे बंद हो गया? क्या बादलों की तरह कांग्रेस सरकार ने भी निजी बिजली कंपनियों के साथ अपनी हिस्सेदारी की बात पक्की कर ली है? जिस कारण सुनील जाखड़ ने चूप्पी साध ली है, जबकि वह बतौर कांग्रेस प्रधान और संसद मैंबर अपने मोर्चे को राज्य की सडक़ों से लेकर संसद तक बुलंद कर सकते थे। 
भगवंत मान ने पंजाब खास करके गुरदासपुर हलके के लोगों से अपील की है कि वह भी सुनील जाखड़ को यह सवाल पूछें कि लोगों को लूट रही बिजली कंपनियों के विरुद्ध अब क्यों नहीं जुबान खोलते।  
    
 

 

Have something to say? Post your comment
More National News
भगत सिंह, राजगुरु एवं सुखदेव के बलिदान दिवस 23 मार्च से शुरू होगा AAP का चुनावी रण: गोपाल राय
रईआ में नौजवानों की हुई मौत के लिए प्रशासन और प्राईवेट ठेकेदार जिम्मेदार -हरपाल चीमा
आम आदमी पार्टी के वफद ने सीईओ के साथ की मुलाकात
दिल्ली छावनी की झुग्गियों में लगेंगे बिजली के कनेक्शन 
पूर्ण राज्य की मांग के साथ पटपड़गंज में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने जलाया भाजपा का 2014 का घोषणापत्र
बादलों ने भाजपा द्वारा आरएसएस की झोली में डाली दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी -संधवां
शीला दीक्षित के बयान से साबित हुआ कि पर्दे के पीछे भाजपा और कांग्रेस मिली हुई हैं।
AAP के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया एवं संजय सिंह के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग से की मुलाकात।
दिल्ली के लिए पूर्ण राज्य की मांग को लेकर आम आदमी पार्टी ने दिल्ली की 70 विधानसभा में जलाया भाजपा को घोषणा पत्र।
सरकार सभी देशों के लिए अमृतसर व चंडीगढ़ एयरपोर्ट से सीधी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें करे शुरू -भगवंत मान