Friday, February 22, 2019
Follow us on
Download Mobile App
National

झाड़ू को तिनका-तिनका करने वाला कोई पैदा नहीं हुआ -अरविन्द केजरीवाल

January 20, 2019 09:11 PM

चंडीगढ़, आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय कनवीनर और दिल्ली के मुख्य मंत्री अरविन्द केजरीवाल ने बरनाला में लोक सभा चुनाव का बिगुल बजाते हुए पंजाब के मुख्य मंत्री पर हमला बोलते कहा कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने किसानों-बेरोजगारों समेत पंजाब के दलितों और पिछड़े वर्ग के लोगों के साथ धोखा ही धोखा किया है। जबकि दिल्ली में आम आदमी पार्टी के 3 वर्ष की सरकार ने सेहत, शिक्षा समेत हर क्षेत्र में प्रशंसा योग्य कार्य करके काया-कल्प ही बदल कर रख दी है, जो देशों विदेशों में चर्चा का विषय बना हुआ है। जिसका हर वर्ग समेत आम लोग, दलित और पिछड़े गरीब भरपूर लाभ ले रहे हैं।

    इस मौके अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि आम आदमी पार्टी हमेशा लोगों के हक और सच की आवाज बुलंद करती आई है और वह लोग जो कह रहे हैं कि पंजाब में आम आदमी पार्टी तिनका-तिनका हो गई है आज की रैली उनके के लिए एक जवाब है। उन्होंने कहा कि किसी में भी इतनी हिम्मत नहीं है कि आम आदमी पार्टी को खत्म करे क्योंकि आम आदमी पार्टी आम लोगों की पार्टी है। उन्होंने कहा कि पिछले पांच वर्षों में कांग्रेस और अकाली दल ने मिल कर आम आदमी पार्टी को खत्म करने की कोशिश की परंतु सच की ताकत को कभी झुका नहीं सके।
    कैप्टन अमरिन्दर सिंह और पूर्व मुख्य मंत्री प्रकाश सिंह बादल पर बरसते केजरीवाल ने कहा कि उन्होंने दलितों, पिछड़े वर्ग और गरीब लोगों के हक और सच को हमेशा दबाया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और अकाली दल के राज में गरीब, दलित और पिछड़ा वर्ग हमेशा दुखी रहा है। उन्होंने कहा कि दलितों को उनकी बनती सुविधाएं और हक नहीं दिए गए। 

आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय कनवीनर और दिल्ली के मुख्य मंत्री अरविन्द केजरीवाल ने बरनाला में लोक सभा चुनाव का बिगुल बजाते हुए पंजाब के मुख्य मंत्री पर हमला बोलते कहा कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने किसानों-बेरोजगारें समेत पंजाब के दलितों और पिछड़े वर्ग के लोगों के साथ धोखा ही धोखा किया है।

 कैप्टन अमरिन्दर सिंह की लोक विरोधी और दलित विरोधी सोच पर केजरीवाल ने कहा कि राज्य में सरकारी शिक्षा और सेहत सुविधाओं की हालत बिल्कुल दयनीय हो चुकी है। जिस कारण गरीब और दलित शिक्षा और सेहत जैसी बुनियादी सहूलतों से वंचित हो गए हैं। कैप्टन अमरिन्दर सिंह सरकार द्वारा राज्य के सरकारी अस्पतालों को निजी हाथों में देने की आलोचना करते केजरीवाल ने कहा कि इससे वह गरीबों और दलितों से उनके जीने का हक भी छीनने जा रही है। उन्होंने पूछा कि यदि सरकार शिक्षा और सेहत जैसी बुनियादी सहूलतें प्रदान नहीं कर सकती तो उनको सत्ता में रहने का कोई अधिकार नहीं। उन्होंने कहा कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह राज्य के लोगों के कर्ज माफी, हर घर रोजगार, पैंशन और स्मार्ट फोन के झूठे वायदे करके सत्ता में आए थे, परंतु सरकार बनने के बाद सभी वायदों से पलट गए हैं। जिस कारण पंजाब के गरीब और दलित लोग ठग्गा हुआ महसूस कर रहे हैं।
    केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार ने शिक्षा और सेहत के क्षेत्र में जी-तोड़ मेहनत की है जिससे दिल्ली के स्कूलों और अस्पतालों की काया-कल्प हो गई है। उन्होंने कहा कि शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने शिक्षा के क्षेत्र में नई तकनीकों का प्रयोग करके सरकारी शिक्षा को प्राईवेट शिक्षा की अपेक्षा और ज्यादा अच्छा बना दिया है। जिससे गरीबों और दलितों के बच्चों को यह सुविधा मिल रही है। उन्होंने कहा कि पिछले साल दिल्ली के सरकारी स्कूलों का नतीजा प्राईवेट स्कूलों की अपेक्षा बेहतर था और 90 प्रतिश्त से ज्यादा बच्चे पास हुए थे। इसी तरह सरकारी अस्पतालों का काया कल्प करते हुए गरीबों के लिए मुफ्त दवाएं और इलाज की सुविधा प्रदान करके दस लाख रुपए तक का मुफ्त इलाज का प्रबंध किया है। उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार ने दिल्ली सरकार के कार्यों में रुकावटें डालने की बहुत कोशिश की परंतु सरकार को दलितों और गरीबों की भलाई के कार्य करने से रोक नहीं सकी।
    भगवत मान की तारीफ करते अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि वह लोगों की आवाज को लोक सभा में जोर-शोर से उठाते आए हैं और उन्होंने एक सच्चे लोग नेता होने का सबूत दिया है। उन्होंने कहा कि भगवंत मान ने अपनी लाखों रुपए की कमाई वाला कलाकार जीवन छोड़ लोग सेवा के लिए राजनीति में आए हैं और अपना कार्य बाखूबी निभा रहे हैं। उन्होंने कहा कि बादलों और कैप्टन ने पंजाब के लोगों को लूटा और पीटा है और भगवंत मान हमेशा सच की आवाज बुलंद करते आए हैं। उन्होंने कहा कि 2017 के चुनाव में भगवंत मान द्वारा जलालाबाद से सुखबीर बादल के खिलाफ चुनाव लडऩा उनकी  लोगों के प्रति निष्ठा को जाहिर करता है। उन्होंने कहा कि सुखबीर बादल राज्य के सबसे अहंकारी व्यक्ति हैं जिस कारण भगवंत मान ने उनका अहंकार तोडऩे के लिए चुनाव लड़ा थी परंतु अकाली दल और कांग्रेस की मिलीभुगत के कारण वह जीत नहीं सके।
    इस मौके दिल्ली के उप मुख्य मंत्री मनीष सिसोदिया, एमपी साधु सिंह, विरोधी पक्ष के नेता हरपाल सिंह चीमा, कोर कमेटी के चेयरमैन और विधायक प्रिंसिपल बुद्धराम, जस्टिस जोरा सिंह, चण्डीगढ़ से आम आदमी पार्टी के लोक सभा उम्मीदवार हरमोहन धवन, विधायक अमन अरोड़ा, कुलतार सिंह संधवां, जय कृष्ण सिंह रोड़ी, अमरजीत सिंह सन्दोआ, मनजीत सिंह बिलासपुर, रुपिन्दर रूबी, प्रो. बलजिन्दर कौर, मीत हेयर, अमृतसर से आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार कुलदीप धालीवाल, होशियारपुर से पार्टी उम्मीदवार डा. रवजोत सिंह, श्री अनन्दपुर साहिब से उम्मीदवार नरिन्दर सिंह शेरगिल, मालवा जोन-1 के प्रधान गुरदित्त सिंह सेखों, मालवा जोन-2 के प्रधान दलबीर ढिल्लों और अन्य नेता भी मौजूद थे।
 

Have something to say? Post your comment
More National News
हम हर तरीके से सेना और सरकार के साथ खड़े हैं: अरविंद केजरीवाल
आतंकवादियों की कायराना हरकत है पुलवामा हमला-हरपाल सिंह चीमा
बीजेपी अपने नेता येदुरप्पा पर करे कोर्ट की अवमानना करने की कार्यवाही - आतिशी
एस.जी.पी.सी चुनाव को लेकर फिर से नंगा हुआ बादल का दोगला चेहरा -हरपाल सिंह चीमा
आगामी चुनाव में दिल्ली की जनता भाजपा को बाहर का रास्ता दिखाएगी: अरविंद केजरीवाल
70,000 करोड़ रुपए की लूट है बिजली कंपनियों के साथ किए इकरारनामे -आप
राज्यपाल के भाषण से गायब है कैप्टन का चुनाव मैनीफैस्टो -हरपाल सिंह चीमा
पंजाब भर में फैला 'आप' का बिजली आंदोलन-आप
13 फरवरी को दिल्ली में आम आदमी पार्टी करेगी तानाशाही हटाओ लोकतंत्र बचाओ सत्याग्रह : गोपाल राय
पंजाब भर में फैला 'आप' का बिजली आंदोलन-आप