Sunday, November 18, 2018
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
सिग्नेचर ब्रिज यानि दिल्ली के नए हस्ताक्षरआप में शामिल हुए राजोरिया, मुरैना से मिला था बसपा का टिकट28 को होने वाली केजरीवाल की जयपुर जनसभा को मिली मंजूरीकिसान विरोधी भाजपा सरकार का चेहरा हुआ बेनकाब, राजस्थान में आप नेता एवं किसान महापंचायत के अध्यक्ष रामपाल जाट और सैकड़ो आप कार्यकर्ताओं को किया गिरफ्तारअनुमति के बिना जारी है रामपाल जाट का अनशन बौखलाई वसुंधरा सरकार, नहीं दे रही है अनुमतिबेइन्साफी का शिकार हैं आशा, आंगनवाड़ी, मिड -डे-मील और ईजीएस वर्कर -प्रो. बलजिन्दर कौरकर्मचारियों को नौकरी से निकालना खट्टर सरकार की तानाशाही : ओमनारायणराजस्थान की राजनीति में तूफान, प्रदेश के बड़े किसान नेता भाजपा छोड़ ’आप’ में शामिल
National

प्रोजेक्ट रिपोर्ट 1 को बदलकर बिना आधार , बिना कारण प्रोजेक्ट UIT कोटा को हस्तानांतरित कर दिया गया

July 11, 2018 07:06 AM
पत्रकार वार्ता को संबोधित करते लाडपुरा विधानसभा क्षेत्र ( कोटा ) से आम आदमी पार्टी प्रत्याशी एम्पी चतर
नॉर्दन बाई पास फेज वन पर झालीपुरा के किसानों की खड़ी फसल को रौंद  कर बिना मुआवजा भुगतान के अधिग्रहण के नाम पर पड़ा सरकारी डाका । बेरोजगार अन्नदाता आज भी रोटी के लिए मोहताज है , जिन्हें रुलाना था भुगतान आजतक नहीं हुई , जिन्हें कृतार्थ करना था नये कानून के तहत दिया 8 गुना भुगतान । इनके लिए PWD का स्वीकृत प्रारूप विस्तृत प्रोजेक्ट रिपोर्ट 1 को बदलकर बिना आधार , बिना कारण प्रोजेक्ट UIT कोटा को हस्तानांतरित कर दिया गया । जिसने 66 लाख 39 हजार के पारश्रमिक पर निजी सलाहकार  CEG कंपनी को नई रिपोर्ट बनाने का ठेका दे दिया और राजमार्ग को घुमाव दे दिया । यह सब कार्यवाही दिनांक 20-4-11 से 25-4-11 तक मात्र 5 दिन में सम्पन्न हो गयी । दिनांक 5-7-11 को तत्कालीन कांग्रेस सरकार द्वारा स्वीकृत भी मिल गयी । जबकि UIT Kota को भूमि अधिग्रहित करने और नॉडल एजेंसी की नियुक्ति राजपत्र प्रकाशन दिनांक 6 माह बाद दिनांक 10-10-11 को ही गयी । इसके बाद दुबारा कांग्रेस की  सरकार की मोहर लगवाने के लिए पुनः वही रिपोर्ट दिनांक 20-10-11 को भेज दी गयी । बारां से झालीपुरा जाने के लिए यदि भारी वाहन 20-30 की गति से मुड़े तो 100 की गति से आते अन्य वाहनों का भगवान ही मालिक होगा । 
कांग्रेस व भाजपा की सरकार में कोई भिन्नता  नहीं , किसान पहले भी आत्महत्या के प्रयास में था और आज भी । मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का ये कथन की "किसान किस से पूछकर धरने पर बैठे और किसने कहने पर धरने से उठे" ये तो सरासर सीएम वसुंधरा राजे की बेशर्मी की पराकाष्ठा है 
 *आम आदमी पार्टी कोटा भारत सरकार से समस्त प्रकरण की CBI जांच व किसानों के समान दर से बकाया अविलंब भुगतान की मांग करती है ।
Have something to say? Post your comment
More National News
भाजपा सांसद का सिग्नेचर ब्रिज उद्घाटन समारोह में हंगामा
सिग्नेचर ब्रिज यानि दिल्ली के नए हस्ताक्षर
आप में शामिल हुए राजोरिया, मुरैना से मिला था बसपा का टिकट
महिलाओं ने लोकसभा चुनावों में 'आप' को वोट देने का किया आह्वान
नगर-निगम के स्कूलों की बुरी हालत पर भाजपा को घेरा
28 को होने वाली केजरीवाल की जयपुर जनसभा को मिली मंजूरी
किसान विरोधी भाजपा सरकार का चेहरा हुआ बेनकाब, राजस्थान में आप नेता एवं किसान महापंचायत के अध्यक्ष रामपाल जाट और सैकड़ो आप कार्यकर्ताओं को किया गिरफ्तार
अनुमति के बिना जारी है रामपाल जाट का अनशन बौखलाई वसुंधरा सरकार, नहीं दे रही है अनुमति
बेइन्साफी का शिकार हैं आशा, आंगनवाड़ी, मिड -डे-मील और ईजीएस वर्कर -प्रो. बलजिन्दर कौर
कर्मचारियों को नौकरी से निकालना खट्टर सरकार की तानाशाही : ओमनारायण