Friday, February 22, 2019
Follow us on
Download Mobile App
National

लोकतंत्र की हत्या किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं, प्रदेश भर में सड़क पर उतरेगी आम आदमी पार्टी: आलोक अग्रवाल

June 17, 2018 07:37 PM
सांकेतिक रूप से लोकतंत्र का स्वरूप

भारी बारिश के बीच आम आदमी पार्टी ने भोपाल में किया प्रदर्शन, दिल्ली में पार्टी के धरने के समर्थन में कल से पूरे प्रदेश में आंदोलन

केंद्र की मोदी सरकार पर तीखा हमला, कार्यकर्ताओं ने लोकतंत्र और केंद्र सरकार के मुखौटे लगाकर किया प्रदर्शन

आम आदमी पार्टी के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने भारी बारिश के बीच प्रदेश अध्यक्ष आलोक अग्रवाल के नेतृत्व में रविवार को बोर्ड ऑफिस चौराहे पर केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। केंद्र की भाजपा सरकार पर लोकतंत्र की हत्या का आरोप लगाते आप कार्यकर्ताओं ने करीब ढ़ाई घंटे तक तेज बारिश के बीच जमकर नारेबाजी की। प्रदर्शन के दौरान आम आदमी पार्टी के एक कार्यकर्ता को सांकेतिक रूप से लोकतंत्र का स्वरूप दिया गया और एक अन्य कार्यकर्ता को केंद्र सरकार के रूप में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रूप में दिखाया गया। इस दौरान मोदी द्वारा लोकतंत्र की हत्या का सांकेतिक प्रदर्शन किया गया।

प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष और राष्ट्रीय प्रवक्ता आलोक अग्रवाल ने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार के खिलाफ एलजी के मार्फत जिस तरह से काम कर रही है और यह लोकतंत्र की हत्या का सीधा उदाहरण है। आम आदमी पार्टी इसका कड़ा विरोध करती है। बीते सात दिनों से दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल इसके खिलाफ धरना दे रहे हैं, वहीं आज से मध्य प्रदेश में उनके धरने के समर्थन में प्रदर्शन की शुरुआत की जा रही है। आगामी दिनों में प्रदेश भर में केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शनों का दौर जारी रहेगा। 

आम आदमी पार्टी के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने भारी बारिश के बीच प्रदेश अध्यक्ष आलोक अग्रवाल के नेतृत्व में रविवार को बोर्ड ऑफिस चौराहे पर केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। केंद्र की भाजपा सरकार पर लोकतंत्र की हत्या का आरोप लगाते आप कार्यकर्ताओं ने करीब ढ़ाई घंटे तक तेज बारिश के बीच जमकर नारेबाजी की।

 जनकल्याणकारी राजनीति से भाजपा में घबराहट श्री अग्रवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार को पिछले तीन सालों से केंद्र की मोदी सरकार ने उप राज्यपाल के माध्यम से परेशान किया। इसके बावजूद आम आदमी पार्टी की सरकार ने जनकल्याण के कई कार्य किए हैं। इसी जनकल्याणकारी राजनीति से घबराकर परेशान करने की राजनीति के तहत केंद्र सरकार ने पिछले कुछ महीने से आईएएस अफसरों की हड़ताल करवा रखी है और ये अफसर दिल्ली के चुने हुए मुख्यमंत्री की न सुनकर उप राज्यपाल का हुक्म मानकर जनहित के कामों को रोके हुए हैं। इसके खिलाफ मुख्यमंत्री केजरीवाल, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, कैबिनेट मंत्री व मध्यप्रदेश प्रभारी गोपाल राय व स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन पिछले सात दिनों से धरने पर हैं। ये लोग न केवल धरने पर हैं, अपितु मनीष सिसोदिया और सतेंद्र जैन तो पिछले 5 दिनों से अनिश्चितकालीन अनशन पर भी हैं। इसके बावजूद न तो उन्हें किसी से मिलने दिया जा रहा है और न ही खुद उप राज्यपाल उनसे मिल रहे हैं।

डरी हुई है मोदी सरकार, अब हो चुकी है बेनकाब
श्री अग्रवाल ने मोदी सरकार पर लोकतंत्र की हत्या का आरोप लगाते हुए कहा है कि अपने दंभ में मोदी सरकार एक चुनी हुई जन हितैषी सरकार को काम नहीं करने दी रही है। लोकतंत्र की हत्या को किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। आखिर केंद्र सरकार को किस बात का डर है। उन्होंने कहा कि एक ईमानदार सरकार से डर चुकी मोदी सरकार पूरी तरह बेनकाब हो चुकी है और भाजपा सरकार के इस चेहरे को जनता के सामने लाने के लिए मध्य प्रदेश में लगातार प्रदर्शन किए जाएंगे।

ईमानदार राजनीति के खिलाफ काम कर रही है केंद्र सरकार: पंकज सिंह
प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए आम आदमी पार्टी के प्रदेश संगठन मंत्री पंकज सिंह ने कहा कि दिल्ली की जनता ने भारी जनसमर्थन से 70 में से 67 सीट देकर आम आदमी पार्टी की सरकार को निर्वाचित किया था। यह देश में एक अलग प्रकार की ईमानदार व्यवस्था परिवर्तन की राजनीति को दिया गया बहुमत था। अब केंद्र सरकार उप राज्यपाल के जरिये दिल्ली के आईएएस अफसरों पर दबाव बना रही है और अफसरों के जरिये आम आदमी पार्टी की सरकार को काम नहीं करने दिया जा रहा है। यही नहीं शनिवार को जब देश के चार राज्यों के मुख्यमंत्री दिल्ली में केजरीवाल जी से मिलने पहुंचे तो उन्हें भी नहीं मिलने दिया जा रहा है। यह सीधे तौर पर लोकतन्त्र की हत्या है। इसके खिलाफ आम आदमी पार्टी तीखा संघर्ष करेगी।

इस मौके पर प्रदेश अध्यक्ष आलोक अग्रवाल और संगठन मंत्री पंकज सिंह के अलावा युवा शक्ति के प्रदेश अध्यक्ष निशांत गंगवानी, भोपाल जोन के सह सचिव अरविंद शर्मा, भोपाल लोकसभा प्रभारी नरेश ठाकुर, लोकसभा सह प्रभारी इमरान खान, लोकसभा सह प्रभारी रीना सक्सैना, लोकसभा सचिव हाशिम अली, लोकसभा सह सचिव तरण भदौरिया, युवा शक्ति के लोकसभा प्रभारी समीर खान, अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के जिला संयोजक तालिब अली, एससी प्रकोष्ठ के ओमप्रकाश, उत्तर विधानसभा प्रभारी जुबैर खान, गोविंदपुरा विधानसभा प्रभारी मनोज पाल, नरेला विधानसभा प्रभारी रेहान जाफरी, हुजूर विधानसभा प्रभारी धीरज गोस्वामी, उज्जैन जोन के सचिव विवेक मिश्रा, महिला शक्ति की मंजू जैन, जया दीक्षित, शमा बाजी, माया सूर्यवंशी, अजय दुबे (नरसिंहपुर), लोकसभा कार्यकारिणी सदस्य एम. एस. खान, रघुराज सिंह, मुन्ना सिंह, दिलीप दांगी, मनोज पिसाल, एन के पाठक, बंटी नामदेव, अवधेश पुरोहित, अमीन रजा, रफी शेख, रामगोपाल जाटव, मक्सूद अख्तर, अनीता विश्वकर्मा, बृजभूषण तिवारी, कमलेश कोरी, ओम प्रकाश गिरि, फहीम खान, फिरोज अख्तर, रवि कृष्ण पाटिल, रुकमणी नाथ आदि उपस्थित थे।

Have something to say? Post your comment
More National News
हम हर तरीके से सेना और सरकार के साथ खड़े हैं: अरविंद केजरीवाल
आतंकवादियों की कायराना हरकत है पुलवामा हमला-हरपाल सिंह चीमा
बीजेपी अपने नेता येदुरप्पा पर करे कोर्ट की अवमानना करने की कार्यवाही - आतिशी
एस.जी.पी.सी चुनाव को लेकर फिर से नंगा हुआ बादल का दोगला चेहरा -हरपाल सिंह चीमा
आगामी चुनाव में दिल्ली की जनता भाजपा को बाहर का रास्ता दिखाएगी: अरविंद केजरीवाल
70,000 करोड़ रुपए की लूट है बिजली कंपनियों के साथ किए इकरारनामे -आप
राज्यपाल के भाषण से गायब है कैप्टन का चुनाव मैनीफैस्टो -हरपाल सिंह चीमा
पंजाब भर में फैला 'आप' का बिजली आंदोलन-आप
13 फरवरी को दिल्ली में आम आदमी पार्टी करेगी तानाशाही हटाओ लोकतंत्र बचाओ सत्याग्रह : गोपाल राय
पंजाब भर में फैला 'आप' का बिजली आंदोलन-आप