Monday, November 19, 2018
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
सिग्नेचर ब्रिज यानि दिल्ली के नए हस्ताक्षरआप में शामिल हुए राजोरिया, मुरैना से मिला था बसपा का टिकट28 को होने वाली केजरीवाल की जयपुर जनसभा को मिली मंजूरीकिसान विरोधी भाजपा सरकार का चेहरा हुआ बेनकाब, राजस्थान में आप नेता एवं किसान महापंचायत के अध्यक्ष रामपाल जाट और सैकड़ो आप कार्यकर्ताओं को किया गिरफ्तारअनुमति के बिना जारी है रामपाल जाट का अनशन बौखलाई वसुंधरा सरकार, नहीं दे रही है अनुमतिबेइन्साफी का शिकार हैं आशा, आंगनवाड़ी, मिड -डे-मील और ईजीएस वर्कर -प्रो. बलजिन्दर कौरकर्मचारियों को नौकरी से निकालना खट्टर सरकार की तानाशाही : ओमनारायणराजस्थान की राजनीति में तूफान, प्रदेश के बड़े किसान नेता भाजपा छोड़ ’आप’ में शामिल
National

सरकार की नाकामी की वजह से जनता कर रही है त्राही—त्राही: आप

June 15, 2018 08:21 PM
आम आदमी पार्टी के प्रदेश समन्वयक और प्रवक्ता देवेंद्र शास्त्री

जयपुर। आम आदमी पार्टी ने आरोप लगाया है कि प्रदेश में राज्य सरकार की नाकामी की वजह से आम जनता पेयजल के लिए त्राही—त्राही कर रही है। इसी का नमूना है कि सीएम हाउस और राजभवन जैसी जगह पर भी पानी की किल्लत हो रही है।
आम आदमी पार्टी के प्रदेश समन्वयक और प्रवक्ता देवेंद्र शास्त्री ने एक बयान जारी कर आरोप लगाया कि पेयजल की तमाम योजनाएं लालफीताशाही का शिकार हो रही है। पेयजल आपूर्ति के प्रबंधन के दावे खोखले साबित हो रहे है। प्रदेश के कई इलाके ऐसे हैं, जहां तीन से चार दिन के अंतराल पर पेयजल की सप्लाई हो रही है। टैंकर से पानी की सप्लाई योजना में भी भ्रष्टाचार है। मनमाने ढंग से आपूर्ति हो रही है। 

 आम आदमी पार्टी के प्रदेश समन्वयक और प्रवक्ता देवेंद्र शास्त्री ने एक बयान जारी कर आरोप लगाया कि पेयजल की तमाम योजनाएं लालफीताशाही का शिकार हो रही है। पेयजल आपूर्ति के प्रबंधन के दावे खोखले साबित हो रहे है। प्रदेश के कई इलाके ऐसे हैं, जहां तीन से चार दिन के अंतराल पर पेयजल की सप्लाई हो रही है।

 उन्होंने कहा कि सीएम हाउस और राजभवन जैसी जगह पर पानी की किल्लत सरकारी तंत्र की विफलता का नमूना है। वीवीआईपी इलाका होने से यहां तुरंत अ​फसर हरकत में आ गए, लेकिन अन्य इलाको में जलदाय विभाग के अधिकारी कई बार शिकायतों के बावजूद जाकर नहीं देखते। पानी के लिए आए दिन झगड़े हो रहे है। इसके बाद भी गंभीरता कहीं नजर नहीं आ रही है।
पार्टी का कहना है कि राजस्थान में पानी की उपलब्धता को देखते हुए उसकी आपूर्ति के लिए एक प्रभावी नीति बनाई जानी चाहिए। राजस्थान में प्रशासन के कुप्रबंधन के कारण कई इलाके डार्क जोन में चले गए। वहां भूजल रिचार्ज के लिए कोई कदम नहीं उठाया जा रहा है। भूजल संरक्षण के नाम पर जो काम हुए भी है वह कमाई का जरिया बन गए है। वाटर हार्वेस्टिंग के नाम पर करोड़ों रुपए बिना किसी योजना के खर्च कर दिए। जहां वाटर हार्वेस्टिंग संरचानाएं बनाई है, उनका कोई रखरखाव नहीं हो रहा है। इसका नतीजा है कि वे अब कोई काम की नहीं रही। गौरतलब है कि पहले कांग्रेस और फिर भाजपा ने सभी सरकारी भवनों और कई इलाकों में भूजल संरक्षण के लिए वाटर हार्वेस्टिंग संरचनाएं बनवाई थीं। पार्टी ने इनकी आॅडिट करवाने और उपदेयता की रिपोर्ट सार्वजनिक करने की मांग की है।

Have something to say? Post your comment
More National News
भाजपा सांसद का सिग्नेचर ब्रिज उद्घाटन समारोह में हंगामा
सिग्नेचर ब्रिज यानि दिल्ली के नए हस्ताक्षर
आप में शामिल हुए राजोरिया, मुरैना से मिला था बसपा का टिकट
महिलाओं ने लोकसभा चुनावों में 'आप' को वोट देने का किया आह्वान
नगर-निगम के स्कूलों की बुरी हालत पर भाजपा को घेरा
28 को होने वाली केजरीवाल की जयपुर जनसभा को मिली मंजूरी
किसान विरोधी भाजपा सरकार का चेहरा हुआ बेनकाब, राजस्थान में आप नेता एवं किसान महापंचायत के अध्यक्ष रामपाल जाट और सैकड़ो आप कार्यकर्ताओं को किया गिरफ्तार
अनुमति के बिना जारी है रामपाल जाट का अनशन बौखलाई वसुंधरा सरकार, नहीं दे रही है अनुमति
बेइन्साफी का शिकार हैं आशा, आंगनवाड़ी, मिड -डे-मील और ईजीएस वर्कर -प्रो. बलजिन्दर कौर
कर्मचारियों को नौकरी से निकालना खट्टर सरकार की तानाशाही : ओमनारायण