Thursday, October 18, 2018
Follow us on
Download Mobile App
National

आप की कार्यकारिणी बैठक में हुआ निर्णय, 25 जून को जारी होगी आम आदमी पार्टी के प्रत्याशियों की पहली सूची

June 06, 2018 08:38 PM
आम आदमी पार्टी के प्रदेश संयोजक और राष्ट्रीय प्रवक्ता आलोक अग्रवाल

प्रदेश संयोजक आलोक अग्रवाल ने बताया- दिल्ली के श्रम मंत्री और पार्टी के प्रदेश प्रभारी गोपाल राय जारी करेंगे सूची

विधानसभा चुनाव के मद्देनजर बनाईं 8 समितियां, 5 जुलाई तक सभी 42 हजार मंडल अध्यक्षों की नियुक्ति का लक्ष्य

आम आदमी पार्टी के प्रदेश संयोजक और राष्ट्रीय प्रवक्ता आलोक अग्रवाल ने गांधी भवन में पत्रकारों को संबोधित करते हुए बताया कि आम आदमी पार्टी आगामी 25 जून को विधानसभा चुनाव के अपने प्रत्याशियों की पहली सूची जारी कर देगी। यह सूची पार्टी के प्रदेश प्रभारी और दिल्ली के श्रम मंत्री गोपाल राय के द्वारा भोपाल में ही जारी की जाएगी। इस मौके पर उन्होंने बताया कि प्रदेश में चुनावों के मद्देनजर पार्टी ने आठ समितियां बनाईं हैं। इनमें चुनाव संचालन समिति के अध्यक्ष स्वयं प्रदेश संयोजक आलोक अग्रवाल होंगे। इसके अलावा घोषणा पत्र समिति की अध्यक्षता प्रदेश संगठन मंत्री पंकज सिंह करेंगे। मीडिया एवं प्रचार प्रसार समिति के अध्यक्ष प्रदेश सचिव दुष्यंत दांगी होंगे। समन्वय समिति के अध्यक्ष प्रदेश संगठन सचिव युवराज सिंह, प्रशिक्षण समिति के अध्यक्ष प्रदेश के सह संयोजक अमित भटनागर, प्रत्याशी चयन समिति की अध्यक्ष चित्तरूपा पालित, अनुशासन समिति के अध्यक्ष इंद्रविक्रम सिंह और कानूनी सहायता समिति की अध्यक्ष साधना पाठक को बनाया गया है। (पूर्ण सूची नीचे संलग्न है)

उन्होंने बताया कि 4 और 5 जून को पार्टी की पॉलिटिकल अफेयर कमेटी की बैठक हुई और आज कार्यकारिणी की बैठक हुई। इसमें सर्वसम्मित से समितियों का निर्माण किया गया है। इसके अलावा आगामी 5 जुलाई तक संगठन निर्माण की प्रक्रिया के तहत 42 हजार मंडल अध्यक्षों की नियुक्ति का काम भी पूरा हो जाएगा। 25 जून को दिल्ली के श्रम मंत्री और प्रदेश के प्रभारी गोपाल राय की मौजूदगी में प्रत्याशियों की पहली सूची जारी की जाएगी और इसके बाद अगस्त के पहले सप्ताह तक लगभग सभी विधानसभाओं पर प्रत्याशी घोषित कर दिए जाएंगे।

श्री अग्रवाल ने कहा कि आम आदमी पार्टी ने यह संकल्प लिया है कि आगामी विधानसभा चुनाव में लूट और भ्रष्टाचार की इस सरकार को उखाड़ फेंकना है। उन्होंने कहा कि आज राहुल गांधी ने किसानों को लेकर जो घोषणा की है, उनसे पूछा जाना चाहिए कि 2006 में यूपीए सरकार की ही बनाई हुई स्वामीनाथन कमेटी की रिपोर्ट आई थी, लेकिन कांग्रेस ने अपने 2014 तक के 8 साल के शासन में इसे लागू करने के लिए कोई कदम नहीं उठाया। उन्होंने कहा कि भाजपा आज जो भी घोषणाएं कर रही है। वह महज चुनावी घोषणाएं हैं। 14 साल से शिवराज सरकार सो रही थी और आज जब सत्ता जाती हुई दिखाई दे रही है, तो उन्हें किसानों, गरीबों, कर्मचारियों, संविदा शिक्षकों आदि की याद आ रही है। उन्होंने कहा कि हाल ही प्रदेश सरकार ने बिजली को लेकर गरीबों को जो राहत दी है वह आम आदमी पार्टी की जीत है। हम बीते 3 साल से इस मुद्दे पर लड़ रहे हैं। हालांकि सरकार की यह राहत अधूरी है। अगर प्रबंधन सुधार लिया जाए और गैरकानूनी समझौते रद्द कर दिए जाएं तो प्रदेश के नागरिकों को आधे दामों पर बिजली दी जा सकती है और सभी को सस्ती बिजली का लाभ दिया जा सकता है। 

श्री अग्रवाल ने कहा कि आम आदमी पार्टी ने यह संकल्प लिया है कि आगामी विधानसभा चुनाव में लूट और भ्रष्टाचार की इस सरकार को उखाड़ फेंकना है। उन्होंने कहा कि आज राहुल गांधी ने किसानों को लेकर जो घोषणा की है, उनसे पूछा जाना चाहिए कि 2006 में यूपीए सरकार की ही बनाई हुई स्वामीनाथन कमेटी की रिपोर्ट आई थी, लेकिन कांग्रेस ने अपने 2014 तक के 8 साल के शासन में इसे लागू करने के लिए कोई कदम नहीं उठाया। 

इससे पहले भगत सिंह, बाब साहेब अंबेडकर और महात्मा गाधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण के बाद आम आदमी पार्टी की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक की शुरुआत हुई। कार्यकारिणी बैठक में हाल ही में किए गए 6 दिवसीय अनशन की समीक्षा की गई और आगामी विधानसभा चुनाव के तहत पार्टी की रणनीति की रूपरेखा तैयार की गई।

कार्यकारिणी को संबोधित करते हुए प्रदेश सह संयोजक अमित भटनागर ने कहा कि आम आदमी पार्टी जब तक सत्ता में नहीं आएगी, तब तक प्रदेश के आम नागरिकों को उनके आधिकार नहीं मिलेंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा और कांग्रेस की सरकारों की चिंताओं में आम आदमी कहीं नहीं हैं, इसीलिए इनकी नीतियों में वह नहीं झलकता है। आम आदमी पार्टी ही एकमात्र वह पार्टी है जो सही मायने में जनता को उसका अपना शासन दे सकती है।

प्रदेश संगठन मंत्री पंकज सिंह ने कहा कि संगठन में ही शक्ति होती है और इस बात को हमें समझना होगा। कोई भी सरकार बिना संगठन के नहीं बन सकती है और न ही कोई पार्टी बिना संगठन के ज्यादा दिनों तक जिंदा रह सकती है। उन्होंने कहा कि हमारे देश में मुख्यत: तीन तरह की राजनीति चल रही है और इसमें एक राजनीति संस्थाओं के माध्यम से आगे बढ़ रही है, दूसरी व्यक्तियों के जरिये और तीसरी राजनीति में विभिन्न कॉलेजों, यूनिवर्सिटिज के जरिये संचालित की जा रही है। लेकिन इन सभी में संगठन ही सबसे जरूरी कड़ी है। अगर संगठन नहीं होगा तो सब कुछ धराशायी हो जाएगा।

प्रदेश संगठन सचिव हिमांशु कुलश्रेष्ठ ने कहा कि हालिया अनशन ने आम आदमी पार्टी के संघर्ष को एक पायदान और ऊपर ले जाने का काम किया है। अनशन के दौरान हमारे साथियों का संघर्ष जनता तक और गांव-गांव तक पहुंचा है। अब लोग समझ चुके हैं कि आम आदमी की लड़ाई को सिर्फ आम आदमी पार्टी ही लड़ सकती है।

विभिन्न समितियां और उनके अध्यक्ष व सदस्य
चुनाव संचालन समिति: आलोक अग्रवाल (अध्यक्ष) एवं अमित भटनागर, पंकज सिंह पटेल, दुष्यंत दांगी, चित्तरूपा पालित, युवराज सिंह, हिमांशु कुलश्रेष्ठ, मुकेश जायसवाल, इंद्रविक्रम सिंह, मुकेश उपाध्याय, कुलभूषण मित्तल और इफ़्तेख़ार अहमद खान इसके सदस्य होंगे।
घोषणा पत्र समिति: पंकज सिंह (अध्यक्ष) एवं मुकेश जायसवाल, मुकेश उपाध्याय, तपन भट्टाचार्य, निशांत गंगवानी, स्वदीप श्रीवास्तव, संतोष श्रीवास्तव, गौरव वर्मा, अमर कछवाहा, परिणिता राजे, सुशांत अफरोज, निवेदिता गंभीर और डॉ पीयूष जोशी इसके सदस्य होंगे।
मीडिया एवं प्रचार प्रसार समिति: दुष्यंत दांगी (अध्यक्ष) एवं चंदन विश्वकर्मा, वीरेंद्र चौहान, देवेंद्र मिश्रा, सतीश राय, आशुतोष मेहर, आशीष सिंगरहा, हिरेश हलवलने एवं पीयूष जोशी इसके सदस्य होंगे।
समन्वय समिति: युवराज सिंह (अध्यक्ष) एवं हिमांशु कुलश्रेष्ठ, भगवत सिंह राजपूत, अनिमेष पांडेय, अशोक शाह धुर्वे, रामविशाल विश्वकर्मा, शैलेश चौबे एवं गुरमीत सिंह सरफरोश इसके सदस्य होंगे।
प्रशिक्षण समिति: अमित भटनागर (अध्यक्ष) एवं सिद्धार्थ गौतम, यतीन्द्र कुशवाहा, जितेंद्र वर्मा, आनंद मिश्रा, विजिया देवड़ा और अजय सिंह इसके सदस्य होंगे।
प्रत्याशी चयन समिति: चित्तरूपा पालित (अध्यक्ष) एवं अरविंद झा, साधना पाठक एवं संबंधित जोन प्रभारी इसके सदस्य होंगे।
अनुशासन समिति: इंद्रविक्रम सिंह (अध्यक्ष) एवं साधना पाठक और इफ़्तेख़ार अहमद खान इसके सदस्य होंगे।
कानूनी सहायता समिति: साधना पाठक- भोपाल (अध्यक्ष) के अलावा अभिषेक श्रीवास्तव (जबलपुर), शन्नो खान (इंदौर), प्रवीण सक्सेना (राजगढ़), अनिल सेंगर (कटनी), गोपाल सिंह ठाकुर (टीकमगढ़), संगीता पांडे (उमरिया), विकास कपूर (अशोक नगर), विवेक सिंह (मंडला), पीयूष शर्मा (शिवपुरी), विनय मिश्रा (ग्वालियर), अंजुम पारिख (इंदौर) एवं एमपी चौधरी (होशंगाबाद) इसके सदस्य होंगे।

Have something to say? Post your comment
More National News
ब्रिटिश काउंसिल और दिल्ली सरकार के बीच समझौता
कट्टर ईमानदार हैं हम, मोदी जी ने दी क्लीन चिट : अरविंद केजरीवाल
पवित्र धन से स्वच्छ राजनीति, ‘आप’ का अनूठा अभियान 
दिल्ली का आदमी सीना चौड़ा कर कह सकता है कि मेरा मुख्यमंत्री ईमानदार है
'आप' युवाओं को रोजगार उपलब्ध करवाने की तरफ अग्रसर
कूड़े के ढेर को कराया पार्षद ने साफ़, फेसबुक से मिली थी शिकायत
पहले नवरात्रे में पार्षद ने मंदिर में लगवाए गमले
ਸਾਜ਼ਿਸ਼ ਤਹਿਤ ਸਰਕਾਰੀ ਸਕੂਲਾਂ ਨੂੰ ਖ਼ਤਮ ਕੀਤਾ ਜਾ ਰਿਹਾ-ਹਰਪਾਲ ਸਿੰਘ ਚੀਮਾ
एस.एस., रमसा और ठेके पर भर्ती अध्यापकों के साथ डटी आप
अपाहिज दलित उम्मीदवार पर हमला करने वाले कांग्रेसी प्रधान की गिरफ्तारी को ले कर 'आप' ने किया जोरदार रोष प्रदर्शन