Sunday, December 16, 2018
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
अरविन्द केजरीवाल ने अपनी तन्खावाह समेत दिए 5 लाख रूपये – जयहिन्दभारत को दुनिया का नंबर एक राष्ट्र बनाना मेरा लक्ष्य : केजरीवाल सिग्नेचर ब्रिज यानि दिल्ली के नए हस्ताक्षरआप में शामिल हुए राजोरिया, मुरैना से मिला था बसपा का टिकट28 को होने वाली केजरीवाल की जयपुर जनसभा को मिली मंजूरीकिसान विरोधी भाजपा सरकार का चेहरा हुआ बेनकाब, राजस्थान में आप नेता एवं किसान महापंचायत के अध्यक्ष रामपाल जाट और सैकड़ो आप कार्यकर्ताओं को किया गिरफ्तारअनुमति के बिना जारी है रामपाल जाट का अनशन बौखलाई वसुंधरा सरकार, नहीं दे रही है अनुमतिबेइन्साफी का शिकार हैं आशा, आंगनवाड़ी, मिड -डे-मील और ईजीएस वर्कर -प्रो. बलजिन्दर कौर
National

बिजली की ढ़ीली तारों के चलते जल रही गेहूं का सौ प्रतिशत मुआवजा दे सरकार -आप

April 15, 2018 08:18 PM

 आम आदम पार्टी (आप) ने पंजाब में गेहूं की पक्की फसल को बिजली की ढ़ीली तारें (शार्ट सर्कट) कारण विभिन्न स्थानों पर लग रही आग पर गहरा दुख प्रकट करते हुए पंजाब सरकार से पूरा 100 प्रतिश्त मुआवजा की मांग करते होए तुरंत विशेष गिरदावरी करवाने की मांग की है। 
    'आप' द्वारा संयुक्त जारी प्रैस बयान में पार्टी के सूबा सह-प्रधान डा. बलवीर सिंह, माझा जोन के प्रधान कुलदीप सिंह धालीवाल, दोआबा जोन के प्रधान परमजीत सिंह सचदेवा, मालवा -1 के अनिल ठाकुर, मालवा -2 के गुरदित्त सिंह सेखों और मालवा जोन -3 के प्रधान दलबीर सिंह ढिल्लों ने कहा कि कटाई के लिए तैयार किसानों की पक्की-पवाई गेहूं के लिए बिजली विभाग की लापरवाही आग की तीली का काम कर रही है। 'आप' नेताओं ने कहा कि जब खेतों में पक्की फसल बिजली की ढ़ीली तारों और शार्ट सर्कट के साथ जल कर राख हो रही हैं तो इस नुक्सान की पूरी तरह जिम्मेदार सरकार है और सरकार पीडित किसानों को उस इलाके के प्रति एकड़ औसतन झाड़ के हिसाब से 100 प्रतिशत मुआवजा दे। 

डा. बलवीर सिंह ने मांग की है कि न केवल गेहूं की फसल बल्कि शार्ट सर्कट के कारण गेहूं की नाड़ी का भी मुआवजा दिया जाये क्योंकि किसानों के जानवर-पशूओं के लिए भूसा गेहूं के नाड़ी से ही तैयार होती है।

डा. बलवीर सिंह ने मांग की है कि न केवल गेहूं की फसल बल्कि शार्ट सर्कट के कारण गेहूं की नाड़ी का भी मुआवजा दिया जाये क्योंकि किसानों के जानवर-पशूओं के लिए भूसा गेहूं के नाड़ी से ही तैयार होती है।
    डा. बलवीर सिंह ने आग से नुकसानी जा रही फसल की तुरंत गिरदावरी करवाए जाने की मांग की जिससे पीडित किसान सरकारी रिकार्ड पर आ सकें और मुआवजे से वंछित न रहेे।
    डा. बलवीर सिंह ने कहा कि दुख की बात यह है कि शार्ट सर्कट या किसी अन्य लापरवाही के कारण हर साल हजारों एकड़ गेहूं और अन्य फसलें आग की चपेट में आ रही हैं परन्तु पिछली बादल सरकार और मौजूदा कैप्टन अमरिन्दर सिंह सरकार ने ऐसे संभावित खतरे को रोकने के लिए कोई कदम नहीं उठाया। यहां तक कि देहाती क्षेत्रों के लिए फायर ब्रिगेड गाड़ीयां का बिल्कुल भी प्रबंध नहीं है जबकि यह जिम्मेदारी पंजाब मंडल बोर्ड की बनती है जो हर फसल पर वभिन्न तरह के भारी टैकस वसूल कर रहा है।
    डा. बलवीर सिंह ने पंजाब के लोगों खास कर गांवों के सरपंचों, पंचों से अपील की है कि वह गांव स्तर पर पार्टीबाजी से ऊपर उठ कर ऐसे पीडित किसानों की सांझी मदद करने के लिए भी आगे आएं। जिक्रयोग्य है कि पिछले दिनों दौरान फिरोज़पुर के वालिया में 8 कनाल, पटियाला के लचकानी में 53 बीघे, संगरूर के अमरगढ़ के गांव दौलेवाला और हुसैनपुरा में 120 एकड़, बरेटा में 12 एकड़ और मंडी गोबिन्दगढ़ के डडहेड़ी गांव में 26 एकड़ गेहूं समेत सैंकड़ों एकड़ नाड़ी के जलने की खबरें हैं।

Have something to say? Post your comment
More National News
अरविन्द केजरीवाल ने अपनी तन्खावाह समेत दिए 5 लाख रूपये – जयहिन्द
भारत को दुनिया का नंबर एक राष्ट्र बनाना मेरा लक्ष्य : केजरीवाल 
भाजपा सांसद का सिग्नेचर ब्रिज उद्घाटन समारोह में हंगामा
सिग्नेचर ब्रिज यानि दिल्ली के नए हस्ताक्षर
आप में शामिल हुए राजोरिया, मुरैना से मिला था बसपा का टिकट
महिलाओं ने लोकसभा चुनावों में 'आप' को वोट देने का किया आह्वान
नगर-निगम के स्कूलों की बुरी हालत पर भाजपा को घेरा
28 को होने वाली केजरीवाल की जयपुर जनसभा को मिली मंजूरी
किसान विरोधी भाजपा सरकार का चेहरा हुआ बेनकाब, राजस्थान में आप नेता एवं किसान महापंचायत के अध्यक्ष रामपाल जाट और सैकड़ो आप कार्यकर्ताओं को किया गिरफ्तार
अनुमति के बिना जारी है रामपाल जाट का अनशन बौखलाई वसुंधरा सरकार, नहीं दे रही है अनुमति