Sunday, December 16, 2018
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
अरविन्द केजरीवाल ने अपनी तन्खावाह समेत दिए 5 लाख रूपये – जयहिन्दभारत को दुनिया का नंबर एक राष्ट्र बनाना मेरा लक्ष्य : केजरीवाल सिग्नेचर ब्रिज यानि दिल्ली के नए हस्ताक्षरआप में शामिल हुए राजोरिया, मुरैना से मिला था बसपा का टिकट28 को होने वाली केजरीवाल की जयपुर जनसभा को मिली मंजूरीकिसान विरोधी भाजपा सरकार का चेहरा हुआ बेनकाब, राजस्थान में आप नेता एवं किसान महापंचायत के अध्यक्ष रामपाल जाट और सैकड़ो आप कार्यकर्ताओं को किया गिरफ्तारअनुमति के बिना जारी है रामपाल जाट का अनशन बौखलाई वसुंधरा सरकार, नहीं दे रही है अनुमतिबेइन्साफी का शिकार हैं आशा, आंगनवाड़ी, मिड -डे-मील और ईजीएस वर्कर -प्रो. बलजिन्दर कौर
National

सत्ता में बैठे नेताओं को सड़क पर लाने का वक्त आ गया है : संजय सिंह

April 14, 2018 08:08 AM

मंदसौर की पिपलिया मंडी से शुरू हुई आप की किसान बचाओ, बदलाव लाओ यात्रा

राजनीति की गंदगी दूर करने के लिए सबको आना होगा राजनीति में

आलोक अग्रवालमंदसौर/ इंदौर, 13 अप्रैल। आम आदमी पार्टी की किसान बचाओ, बदलाओ लाओ यात्रा शुक्रवार को मंदसौर की पिपलिया मंडी से शुरू हुई। यह वही जगह हैं, जहां किसान आंदोलन के दौरान पुलिस की गोली से 6 किसानों की मौत हो गई थी। किसान बचाओ, बदलाव लाओ यात्रा की शुरुआत करते हुए पार्टी के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा कि किसानों ने अपनी फसलों को कई बार सड़क पर फेंका है, लेकिन अब वक्त आ गया है कि सत्ता में बैठे नेताओं को सड़कों पर लाया जाए। इस मौके पर जनसभा को संबोधित करते हुए आम आदमी पार्टी के प्रदेश संयोजक और राष्ट्रीय प्रवक्ता आलोक अग्रवाल ने कहा कि राजनीति की गंदगी को दूर करने के लिए सबको आगे आना होगा, क्योंकि आम इंसान की जिंदगी से जुड़ी हर चीज को राजनीति ही तय करती है। इस दौरान इंदौर जोन प्रभारी और प्रदेश संगठन सचिव युवराज सिंह और उज्जैन जोन के प्रभारी इंद्र विक्रम सिंह समेत आम आदमी पार्टी के कई वरिष्ठ नेता मंच पर मौजूद थे। 

किसान बचाओ, बदलाव लाओ यात्रा की शुरुआत करते हुए पार्टी के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा कि किसानों ने अपनी फसलों को कई बार सड़क पर फेंका है, लेकिन अब वक्त आ गया है कि सत्ता में बैठे नेताओं को सड़कों पर लाया जाए।

गौरतलब है कि आम आदमी पार्टी किसान बचाओ, बदलाओ लाओ यात्रा के तहत अगले एक महीने तक मध्य प्रदेश के हर जिले में पहुंचेगी और इस दौरान लोगों की समस्याओं को साझा करने के साथ संगठन निर्माण के काम को तेजी से पूरा करेगी। इसके बाद 14 मई को राजधानी भोपाल में बड़ी संख्या में कार्यकर्ता पहुंचेंगे और प्रदेश के नागरिकों की समस्याओं को धरना देंगे। पिपलिया मंडी में सभा से पहले आप नेता संजय सिंह और आलोक अग्रवाल ने इंदौर में पोहा चौपाल लगाई। इस पोहा चौपाल के दौरान नाश्ते पर लोगों से चर्चा की गई।

पिपलिया मंडी में सभा को संबोधित करते हुए राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा कि 4 साल पहले नरेंद्र मोदी ने देश से कई वादे किए थे। चुनावी सभाओं में कई तरह के जुमले बोले। वो सब लोगों को आज भी याद हैं। कभी चुनाव में कहा कि इतना काला धन लाएंगे कि हर आदमी के खाते में 15 लाख रुपए आ जाएंगे। वह वादा भी सबको याद है। उन्होंने कहा कि 15 लाख तो दूर इस सरकार ने हमारे घरों से हमारी माता-बहनों की जमा पूंजी जो उन्होंने धीरे-धीरे इकट्ठा की थी, वह भी नोटबंदी के नाम पर निकलवा ली। इस बचत के पैसे को नरेंद मोदी कहा कि यह काला धन है। नरेंद्र मोदी ने हमारा पैसा तो जमा करा लिया, लेकिन नीरव मोदी देश के पैसे को लूटकर भाग गया।

व्यापारियों को तबाह कर रही भाजपा सरकार
उन्होंने कहा कि यह सरकार ऐसी योजनाएं लाती है, जो व्यापारियों को समझ ही नहीं आती हैं। पहले राष्ट्र के नाम पर नोटबंदी करवा दी। व्यापारियों ने कहा कि इससे नुकसान होगा, लेकिन राष्ट्र के नाम पर सह लिया। फिर जीएसटी ले आए। वह भी राष्ट्र के नाम पर जैसे तैसे सह लिया, तो आगे राष्ट्र हित के नाम पर 100 प्रतिशत एफडीआई ले आए। यह कैसी सरकार है जो छोटे व्यापारियों के धंधे को चौपट करना चाहती है। उन्होंने कहा कि इस सरकार के राज में मां-बहनें सुरक्षित नहीं हैं। किसान परेशान है। व्यापरी परेशान हैं। युवाओं के पास नौकरियां नहीं हैं। भाजपा की सरकार ने देश को जंगल राज में तब्दील कर दिया है।

नफरत फैलाने की राजनीति कर रही भाजपा
उन्होंने कहा कि हम किसान के लिए कर्जा माफी की बात करते हैं, तो शिवराज सिंह और नरेंद्र मोदी की सरकार नफरत फैलाने की बात करती है। यह लोग असली मुद्दों पर बातचीत नहीं होने देना चाहते हैं। यह मूल मसलों से ध्यान भटकाकर नफरत की राजनीति कर रहे हैं। उन्होंने उन्नाव की घटना का जिक्र करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में एक विधायक के खिलाफ एक महिला एक साल लड़ती रही लेकिन उसे न्याय नहीं मिला। जब पूरे देश की मीडिया और जनता एकजुट हुई तो कार्रवाई हुई। इसी तरह आठ साल की बच्ची के साथ कश्मीर में दरिंदगी हुई और भाजपा के नेता बलात्कारियों को बचाने के लिए आगे आए।

हिंदू धर्म मूल भावना को नहीं समझते
उन्होंने कहा कि विधायकों और सांसदों को देश की अखंडता को बनाए रखने की शपथ दिलाई जाती है। लेकिन उत्तर प्रदेश के एक विधायक कहते हैं कि ताजमहल को तोड़ डालो, क्योंकि यह मुगलों ने बनवाया है। तब तो इस देश की कई इमारतें, लाल किला, कुतुब मीनार भी तोड़ देनी चाहिए उन्हें भी मुगलों ने बनाया था। राष्ट्रपति भवन, हावड़ा ब्रिज और संसद भवन भी तोडऩे चाहिए क्योंकि इन्हें अंग्रेजों ने बनवाया था। यह लोग बस तोडऩे की बात करते हैं, और हम जोडऩे की राजनीति करते हैं। श्री सिंह ने कहा कि भाजपा के लोग हिंदू धर्म की मूल भावना को भी नहीं जानते हैं। हिंदू धर्म वसुधैव कुटुम्बकमï् की बात करता है यानी पूरा विश्व हमारा परिवार है। इस तरह सिख भी हमारे परिवार के सदस्य हैं, और मुस्लिम भी, दलित भी और आदिवासी भी। लेकिन भाजपा के लोग इस देश की मूल भावना के उलट तोडऩे की बात करते हैं। वे नफरत की बात करते हैं।

भाजपा और कांग्रेस की राजनीति से किसान त्रस्त
इससे पहले सभा को संबोधित करते हुए आम आदमी पार्टी के प्रदेश संयोजक आलोक अग्रवाल ने कहा कि आज हर व्यक्ति किसान की बात कर रहा है। कांग्रेस और भाजपा भी किसान की बात कर रही हैं। क्योंकि आज किसान ने यह तय कर लिया है कि शिवराज सरकार को उखाड़ कर फैंकना है। ऐसे माहौल में भाजपा को किसानों के सम्मान की याद आई है। शिवराज सिंह को पिछले साल किसानों की याद नहीं आई। तब भी किसानों ने टमाटर सड़क पर फेंके थे। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी अब भारतीय जुमला पार्टी बन गई है। यह सिर्फ जुमले से काम निकालना चाहती है।

स्वामीनाथन कमेटी के बारे में भाजपा ने किया झूठा वादा
उन्होंने कांग्रेस की किसान यात्रा पर हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस भी किसान यात्रा निकाल रही है। यह वही कांग्रेस है, जिसने स्वामीनाथन कमेटी बनाई थी, लेकिन उसकी सिफारिशें लागू नहीं की। यह वही कांग्रेस जिसके राज में 12 जनवरी 1998 में मुलताई में किसानों पर गोली चलाई गई थी और उस गोली कांड में 18 किसान मारे गए थे। उस वक्त दिग्विजय सिंह की सरकार थी। उन्होंने कहा कि जब कोई कांग्रेसी आए और किसानों से कहे कि स्वामीनाथन कमेटी की रिपोर्ट लागू करवाएंगे तो उनसे पूछना कि देश में भाजपा से पहले ही 10 साल तक कांग्रेस की सरकार रही लेकिन तब क्यों नहीं स्वामीनाथन कमेटी की रिपोर्ट लागू की। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी ने चुनावी सभाओं में किसान की फसल की लागत का डेढ़ गुना मूल्य देने का वादा किया था। इसमें किसान की मेहनत उसके पसीने की लागत का भी जिक्र किया था। किसानों ने उम्मीद के साथ उन्हें सत्ता सौंपी लेकिन जब सत्ता में आने के बाद इन्हीं नरेंद्र मोदी ने सुप्रीम कोर्ट में कहा कि हम किसानों की लागत का डेढ़ गुना मूल्य नहीं दे सकते।

राजनीति को बदलने के लिए आना होगा आगे

 अग्रवाल ने कहा कि आज देश में दो तरह की राजनीति हो रही है। एक भाजपा कांग्रेस की राजनीति है, जो बोलते कुछ हैं और करते कुछ हैं। यहां किसानों को एक हजार, 500 रुपए एकड़ का मुआवजा मिलता है। दूसरी तरफ दिल्ली में केजरीवाल सरकार है, जो 50 हजार रुपए हेक्टेयर का मुआवजा किसानों को देती है, जो देश में सबसे बड़ा मुआवजा है। उन्होंने कहा कि यह बात समझनी पड़ेगी कि आज आजादी के 70 साल बाद भी किसान आत्महत्या करता है, तो यह सिर्फ नेताओं की ही गलती नहीं है, यह हमारी भी गलती है और इसे ठीक करने का वक्त आ गया है। उन्होंने कहा कि राजनीति गंदी चीज है और हमने मान लिया। श्री अग्रवाल ने कहा कि राजनीति से बचकर नहीं रहा जा सकता है। क्योंकि राजनीति ही आपके घर के कपड़े, डीजल, फसल का दाम, बच्चों के स्कूल फीस और युवाओं के रोजगार को तय करती है। इस लोकतंत्र में सबसे बड़ा काम लोकतंत्र की रक्षा करना है, इसलिए सबको राजनीति में आना होगा।

इंदौर से हुई पोहा चौपाल की शुरुआत
आम आदमी पार्टी ने जनता के मुद्दों से जुडऩे और उनसे सीधे संवाद के लिए पूरे मध्यप्रदेश में "पोहा चौपाल" की शुरुआत इंदौर से की। चूंकि इंदौर की संस्कृति में पोहा घुला मिला हुआ है इसलिए यही से इस कार्यक्रम की शुरुआत की गई। इस मौके पर राज्यसभा सांसद संजय सिंह और आप के प्रदेश संयोजक आलोक अग्रवाल ने विधानसभा 1 में पोहे की प्लेट पर लोगों से संवाद किया। इस दौरान संजय सिंह ने लोगों के सवालों के जवाब दिए और उन्हें दिल्ली में हो रहे विकास कार्यों के बारे में बताया।
*पोहा चौपाल के बारे में श्री अग्रवाल ने बताया कि आगामी दिनों में हम जगह-जगह पोहा चौपाल लगाकर जनता से सीधा संवाद करेंगे और उनकी समस्याओं को जानेंगे। जनता से जुड़े महत्वपूर्ण मुद्दों को आगामी विधानसभा चुनाव में घोषणा पत्र में सम्मिलित किया जाएगा।
इस अवसर पर प्रदेश संगठन सचिव युवराज सिंह ने भी लोगों को संबोधित किया। इस पोहा चौपाल में आम लोगों के साथ वरिष्ठ नागरिकों ने उत्साह के साथ भाग लिया।

Have something to say? Post your comment
More National News
अरविन्द केजरीवाल ने अपनी तन्खावाह समेत दिए 5 लाख रूपये – जयहिन्द
भारत को दुनिया का नंबर एक राष्ट्र बनाना मेरा लक्ष्य : केजरीवाल 
भाजपा सांसद का सिग्नेचर ब्रिज उद्घाटन समारोह में हंगामा
सिग्नेचर ब्रिज यानि दिल्ली के नए हस्ताक्षर
आप में शामिल हुए राजोरिया, मुरैना से मिला था बसपा का टिकट
महिलाओं ने लोकसभा चुनावों में 'आप' को वोट देने का किया आह्वान
नगर-निगम के स्कूलों की बुरी हालत पर भाजपा को घेरा
28 को होने वाली केजरीवाल की जयपुर जनसभा को मिली मंजूरी
किसान विरोधी भाजपा सरकार का चेहरा हुआ बेनकाब, राजस्थान में आप नेता एवं किसान महापंचायत के अध्यक्ष रामपाल जाट और सैकड़ो आप कार्यकर्ताओं को किया गिरफ्तार
अनुमति के बिना जारी है रामपाल जाट का अनशन बौखलाई वसुंधरा सरकार, नहीं दे रही है अनुमति