Saturday, July 21, 2018
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
प्रोजेक्ट रिपोर्ट 1 को बदलकर बिना आधार , बिना कारण प्रोजेक्ट UIT कोटा को हस्तानांतरित कर दिया गयापंजाब : जोधपुर के नजरबन्दों के साथ कांग्रेस की ओर से की गई बेइन्साफी पर माफी मांगें कैप्टन : आपपंजाब : नशे के तांडव विरुद्ध 2 जुलाई को मुख्यमंत्री निवास के समक्ष रोष मार्च व धरना देगी 'आप'लीडरशिप मध्य प्रदेश : क्या एमबी पॉवर से सरकार के गैरकानूनी करार का सवाल उठाएंगे अजय सिंह: आलोक अग्रवालराजस्थान : भ्रष्टाचार के गढ़ पर आप का प्रदर्शन, पीड़ित भी आए समर्थन मेंदिल्ली : दिल्ली में री-डवलपमेंट के नाम हजारों पेड़ो को काटने के षड्यंत्र में भाजपा और कॉंग्रेस दोनों शामिल : AAP  रमन के दमन का पुरजोर विरोध 'आप' द्वारा विधायक चीमा को लीगल सैल और सदरपुरा को किसान विंग का प्रांतीय अध्यक्ष किया नियुक्त 
National

भारत बंद का आम आदमी पार्टी ने किया समर्थन

गोपाल शर्मा | April 01, 2018 11:26 PM
भारत बंद का आम आदमी पार्टी ने किया समर्थन
गोपाल शर्मा

मध्यप्रदेश में अजा व अजजा पर सबसे ज्यादा अत्याचार और शिवराज खामोश: आलोक अग्रवाल

आम आदमी पार्टी के प्रदेश संयोजक और राष्ट्रीय प्रवक्ता आलोक अग्रवाल ने कल 2 अप्रैल को अनुसूचित जाति और जनजाति के संगठनों द्वारा किए जा रहे भारत बंद का
समर्थन करते हुए कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के इस मामले में दिए गए निर्णय से वे असहमत हैं और इस पर पुनर्विचार किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि एक ओर मध्यप्रदेश सहित पूरे देश में आदिवासियों एवं दलितों पर अत्याचार हो रहा है, तो दूसरी ओर चंद मामलों को आधार पर बनाकर उनके संरक्षण के लिए बनाए गए कानून को कमजोर किया जा रहा है। 

आम आदमी पार्टी के प्रदेश संयोजक और राष्ट्रीय प्रवक्ता आलोक अग्रवाल ने कल 2 अप्रैल को अनुसूचित जाति और जनजाति के संगठनों द्वारा किए जा रहे भारत बंद का
समर्थन करते हुए कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के इस मामले में दिए गए निर्णय से वे असहमत हैं

श्री अग्रवाल ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से पूरे देश में नाराजगी है और कई संगठनों एवं पार्टियों ने 2 अप्रैल को भारत बंद का आयोजन किया है। आम आदमी पार्टी इसका समर्थन करते हुए कल भारत बंद को सफल बनाने के लिए उनका समर्थन करेगी।

श्री अग्रवाल ने कहा कि मध्यप्रदेश में आदिवासियों एवं दलितों पर हिंसा सबसे ज्यादा है, लेकिन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इसे रोकने में नाकाम है। प्रदेश के थानों में आदिवासियों एवं दलितों की सुनवाई नहीं होती। उन्हें वहां दुत्कार दिया जाता है। यदि एक बार एफआईआर दर्ज हो जाए, तो भी सत्ता के शह पर पुलिस कार्रवाई नहीं करती। ऐसे में उन पर दबंग लगातार हिंसा करते हैं।

श्री अग्रवाल ने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के बाद अब दलितों एवं आदिवासियों के लिए अपराधियों के खिलाफ शिकायत कराना एवं केस करना ज्यादा मुश्किल हो जाएगा। ऐसे में उनपर और हिंसा बढ़ सकती है।

Have something to say? Post your comment
More National News
प्रोजेक्ट रिपोर्ट 1 को बदलकर बिना आधार , बिना कारण प्रोजेक्ट UIT कोटा को हस्तानांतरित कर दिया गया
पंजाब : जोधपुर के नजरबन्दों के साथ कांग्रेस की ओर से की गई बेइन्साफी पर माफी मांगें कैप्टन : आप पंजाब : नशे के तांडव विरुद्ध 2 जुलाई को मुख्यमंत्री निवास के समक्ष रोष मार्च व धरना देगी 'आप'लीडरशिप 
मध्य प्रदेश : क्या एमबी पॉवर से सरकार के गैरकानूनी करार का सवाल उठाएंगे अजय सिंह: आलोक अग्रवाल
राजस्थान : भ्रष्टाचार के गढ़ पर आप का प्रदर्शन, पीड़ित भी आए समर्थन में
दिल्ली : दिल्ली में री-डवलपमेंट के नाम हजारों पेड़ो को काटने के षड्यंत्र में भाजपा और कॉंग्रेस दोनों शामिल : AAP  
रमन के दमन का पुरजोर विरोध 'आप' द्वारा विधायक चीमा को लीगल सैल और सदरपुरा को किसान विंग का प्रांतीय अध्यक्ष किया नियुक्त 
हरियाणा वासियों ने हरियाणा जोड़ो अभियान को दिया भरपूर समर्थन
मेवाड़ दक्षिण राजस्थान में AAP का आगाज