Wednesday, December 12, 2018
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
अरविन्द केजरीवाल ने अपनी तन्खावाह समेत दिए 5 लाख रूपये – जयहिन्दभारत को दुनिया का नंबर एक राष्ट्र बनाना मेरा लक्ष्य : केजरीवाल सिग्नेचर ब्रिज यानि दिल्ली के नए हस्ताक्षरआप में शामिल हुए राजोरिया, मुरैना से मिला था बसपा का टिकट28 को होने वाली केजरीवाल की जयपुर जनसभा को मिली मंजूरीकिसान विरोधी भाजपा सरकार का चेहरा हुआ बेनकाब, राजस्थान में आप नेता एवं किसान महापंचायत के अध्यक्ष रामपाल जाट और सैकड़ो आप कार्यकर्ताओं को किया गिरफ्तारअनुमति के बिना जारी है रामपाल जाट का अनशन बौखलाई वसुंधरा सरकार, नहीं दे रही है अनुमतिबेइन्साफी का शिकार हैं आशा, आंगनवाड़ी, मिड -डे-मील और ईजीएस वर्कर -प्रो. बलजिन्दर कौर
National

घोटालों और मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए अधिकारियों का इस्तेमाल कर रही भाजपा : आलोक अग्रवाल

February 20, 2018 08:13 PM
भोपाल, 20 फरवरी। आम आदमी पार्टी के प्रदेश संयोजक और राष्ट्रीय प्रवक्ता आलोक अग्रवाल ने कहा है कि केंद्र की भाजपा सरकार हालिया घोटालों और जनहित के मुद्दों से ध्यान हटाने के लिए दिल्ली में अधिकारियों का इस्तेमाल कर रही है। दिल्ली में मुख्य सचिव के आरोपों पर प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने कहा कि देश में बेरोजगारी, किसानों की समस्या से लेकर नीरव मोदी के विदेश भागने और बैंकों के एनपीए जैसे मुद्दों पर केंद्र की मोदी सरकार पूरी तरह से घिर चुकी है और उसे मुंह छुपाने के लिए कोई जगह नहीं मिल रही है। ऐसे वक्त में घटिया राजनीति के तहत आम आदमी पार्टी के विधायकों पर झूठे और मनगढ़त आरोप लगाए जा रहे हैं। 
 
राष्ट्रीय कार्यकारिणी के वरिष्ठ सदस्य श्री अग्रवाल ने कहा कि महज एक पक्ष को सुनकर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने जांच आयोग के गठन की बात कही है, लेकिन उन्हें दूसरे पक्ष को भी सुनना चाहिए था। हालांकि अब जांच आयोग से उम्मीद है कि वह दोनों पक्षों को सुनेगा और सच के पक्ष में, जो आम आदमी पार्टी के विधायकों का पक्ष है, फैसला सुनाएगा। उन्होंने मांग की है कि रात की घटना के बाद दिल्ली के मंत्री इमरान हुसैन और राष्ट्रीय प्रवक्ता आशीष खेतान के साथ जो मारपीट हुई है, उसके सीसीटीवी फुटेज को भी जांच में शामिल करना चाहिए। 

राष्ट्रीय कार्यकारिणी के वरिष्ठ सदस्य श्री अग्रवाल ने कहा कि महज एक पक्ष को सुनकर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने जांच आयोग के गठन की बात कही है, लेकिन उन्हें दूसरे पक्ष को भी सुनना चाहिए था। हालांकि अब जांच आयोग से उम्मीद है कि वह दोनों पक्षों को सुनेगा और सच के पक्ष में, जो आम आदमी पार्टी के विधायकों का पक्ष है, फैसला सुनाएगा। उन्होंने मांग की है कि रात की घटना के बाद दिल्ली के मंत्री इमरान हुसैन और राष्ट्रीय प्रवक्ता आशीष खेतान के साथ जो मारपीट हुई है, उसके सीसीटीवी फुटेज को भी जांच में शामिल करना चाहिए। 

पूरे मामले का खुलासा करते हुए उन्होंने कहा कि आधार कार्ड के गलत ढंग से क्रियान्वयन के कारण दिल्ली में करीब 2.5 लाख परिवारों को पिछले महिनों में राशन नहीं मिला है। विधायकों पर जनता का बहुत ज्यादा दबाव था। इस मामले में विधायकों की मुख्यमंत्री आवास पर बैठक हुई। इस दौरान मुख्य सचिव ने किसी भी सवाल का जवाब देने से इनकार कर दिया और कहा कि वे विधायकों को जवाब देने के लिए बाध्य नहीं हैं, वह सिर्फ उप राज्यपाल के प्रति जवाबदेह हैं। साथ ही मुख्य सचिव ने कुछ विधायकों के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया और बिना कोई जवाब दिए चले गए। 
 
उन्होंने कहा कि अब मुख्य सचिव मनगढंग आरोप लगा रहे हैं। जाहिर है वह भाजपा के साये में काम कर रहे हैं। भाजपा दिल्ली में राज्यपाल और अधिकारियों के माध्यम से प्रशासनिक कामों में दखल देकर जनहितैषी कामों को रोकना चाहती है।  अगर एक मुख्य सचिव इस तरह के आरोप लगाता है, तो समझा जा सकता है कि भाजपा इस मामले में अधिकारियों को मोहरा बनाकर आम आदमी पार्टी को निशाना बना रही है।
 
व्यापमं में बड़ी मछलियों को कब होगी सजा: प्रदेश संयोजक
व्यापमं महाघोटाले पर सीबीआई कोर्ट के फैसले पर आप के प्रदेश संयोजक आलोक अग्रवाल ने कहा कि जिन पांच लोगों को सजा हुई है, वह महज एक हिस्सा थे। इस घोटाले के असली लाभार्थी सत्ता के करीबी लोग हैं, उनके खिलाफ भी जल्द से जल्द फैसला आना चाहिए और उन्हें कड़ी सजा मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि चुनावी दौर में छोटी छोटी मछलियों को सजा देकर प्रदेश सरकार राजनीतिक लाभ लेना चाहती है। इस मामले में सत्ता के करीबियों को बचाने की कोशिश की जा रही है। 

 

Have something to say? Post your comment
More National News
अरविन्द केजरीवाल ने अपनी तन्खावाह समेत दिए 5 लाख रूपये – जयहिन्द
भारत को दुनिया का नंबर एक राष्ट्र बनाना मेरा लक्ष्य : केजरीवाल 
भाजपा सांसद का सिग्नेचर ब्रिज उद्घाटन समारोह में हंगामा
सिग्नेचर ब्रिज यानि दिल्ली के नए हस्ताक्षर
आप में शामिल हुए राजोरिया, मुरैना से मिला था बसपा का टिकट
महिलाओं ने लोकसभा चुनावों में 'आप' को वोट देने का किया आह्वान
नगर-निगम के स्कूलों की बुरी हालत पर भाजपा को घेरा
28 को होने वाली केजरीवाल की जयपुर जनसभा को मिली मंजूरी
किसान विरोधी भाजपा सरकार का चेहरा हुआ बेनकाब, राजस्थान में आप नेता एवं किसान महापंचायत के अध्यक्ष रामपाल जाट और सैकड़ो आप कार्यकर्ताओं को किया गिरफ्तार
अनुमति के बिना जारी है रामपाल जाट का अनशन बौखलाई वसुंधरा सरकार, नहीं दे रही है अनुमति