Saturday, October 21, 2017
Follow us on
National

‘जुमला’ नहीं विकास चाहिए, दिल्ली को सिर्फ ‘आप’ चाहिए

August 28, 2017 08:58 PM

भाजपा और कांग्रेस को जनता ने बुरी तरह नकारा
आम आदमी पार्टी ने बवाना विधानसभा उपचुनाव जीतकर भारतीय जनता पार्टी को झन्नाटेदार तमाचा रसीद किया है, वहीं बवाना की जनता ने न सिर्फ यहां अपना विधाय चुना बल्कि आम आदमी पार्टी की इस बात पर भी मुहर लगा दी है कि दिल्ली के दिल में सिर्फ ‘आप’ बसती है। आम आदमी प्रत्याशी रामचंद्र ने ‘आप’ के भगोड़े और अब भाजपा प्रत्याशी वेद प्रकाश को 24000 से अधिक मतों से हराया है।

राजौरी गार्डन उपचुनाव की जीत को दोहराने का सपना पाले भाजपा ने मुंह की खाई है। भाजपा के साथ इससे बुरा और क्या होगा कि हाल ही में वे एमसीडी चुनाव जीती है और स्वयं को सर्वशक्तिमान प्रचारित कर रही थी. ये भाजपा को बवाना की जनता का उन करनियों के लिए जवाब है जिसमें आम जनता के सामने वह केवल सपने परोसने का काम करती है।

राजौरी गार्डन उपचुनाव की जीत को दोहराने का सपना पाले भाजपा ने मुंह की खाई है। भाजपा के साथ इससे बुरा और क्या होगा कि हाल ही में वे एमसीडी चुनाव जीती है और स्वयं को सर्वशक्तिमान प्रचारित कर रही थी. ये भाजपा को बवाना की जनता का उन करनियों के लिए जवाब है जिसमें आम जनता के सामने वह केवल सपने परोसने का काम करती है। इस जीत के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री को चहुं ओर से बधाइयां मिल रही हैं। केजरीवाल ने दिल्ली वासियों का उनकी सरकार में विश्वास व्यक्त करने के लिए धन्यवाद करते हुए केंद्र में बैठी भाजपा को चेताया है कि वह कामों में अड़ंगे डालना बंद करे क्योंकि इससे दिल्ली के लोगों का नुकसान होता है और यदि केंद्र ने अपनी हरकतें बंद नहीं की तो 2019 में जनता उसे सबक सिखाएगी। अरविंद केज़रीवाल ने इस मौके पर अपने ही अंदाज में एक और चुनौती केंद्र को देते हुए कहा कि जनता ने इन चुनावों के माध्यम से एक और सबक दिया है कि हिम्मत है तो भाजपा चुनाव VVPAT से करवा कर दिखाए। (वीडियो देखने के लिए क्लिक करें) 
विपक्ष इन चुनावों को दिल्ली के मुख्यमंत्री के लिए इम्तहान बता रहा था जिसमें मुख्यमंत्री अरविंद केज़रीवाल समेत आम आदमी पार्टी अव्वल रही है। एमसीडी चुनावों की जीत से इतरा रही भाजपा को दिल्ली ने करारा झटका दिया है। बवाना उप चुनाव भारी मतों से जीतकर आप ने एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस को बता दिया है कि वे भारत के दिल दिल्ली के दिलों में गहरी उतर चुकी पार्टी है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल एक बार फिर दोनों बड़ी राष्ट्रीय पार्टियों पर भारी पड़े हैं। सबसे बड़ी बात ये कि भारतीय जनता पार्टी को समझ आ गया है कि वह भले ही वेद प्रकाश जैसे लोगों को तो खरीद सकती है लेकिन आम जन को नहीं। अरविंद केज़रीवाल ने आज अपने संबोधन में इस खरीद फरोख्त पर भी तीखा हमला करते हुए भाजपा को चेताया कि वह गोवा, अरूणाचल, नागालैंड की भांति दिल्ली को न समझे क्योंकि आम आदमी पार्टी के विधायक अलग मिट्टी के बने हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा ने हमारे विधायक खरीदने के लिए भी खूब जोर लगाया किंतु 67 में से यहां केवल 1 गद्दार निकला।
वैसे इन चुनावों में वेद प्रकाश को भी पता चल गया है कि धोखा देने वाला सदा के लिए धोखेबाज कहलाता है और उसे दूसरे दलों में भी शक की निगाह से ही देखा जाता है। दिल्ली विधानसभा में अपना खाता खोलने को लालायित कांग्रेस फिर से नामकामयाब हुई है।
त्रिकोणीय और बहुत ही महत्वपूर्ण चुनाव में आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी राम चंद्र ने 59886 मत प्राप्त किए। भारतीय जनता पार्टी के वेद प्रकाश को 35834 मत मिले। इस तरह वह राम चंद्र से करीब 24000 से अधिक मतों से आगे रहे। जहां तक कांग्रेस का सवाल है इनके प्रत्याशी सुरेंद्र कुमार को कुल 31919 मत मिले और वे तीसरे नंबर पर रहे। दिल्ली विधानसभा में कुल 70 सीटें हैं। आम आदमी पार्टी के पास 65 सीटें हैं। भारतीय जनता पार्टी के पास 4 सीटें हैं। एक सीट पर फिर से मतदान हुआ जिसपर कांग्रेस की निगाह थी ताकि उनका खाता खुल सके, लेकिन ऐसा हो न सका। अब श्रीमति सोनिया गांधी, राहुल गांधी और दिल्ली के कांग्रेस प्रभारी भी सवालों से घिर गए हैं।

Have something to say? Post your comment
More National News
बादलों की तरह कैप्टन भी रद्द किए उम्मीदवारों को लोगों के सरों पर बैठा रहा है- भगवंत मान
केंद्र ने मानी AK की मांग लेकिन....|नवभारत टाइम्स
शीला दीक्षित की नाक के नीचे हुआ था करोड़ों रुपए का बैंक-घोटाला, अब अधिकारी जवाबदेही से भाग रहे   
गुजरात में CM योगी की तरह PM मोदी का भी बुरा हाल, ‘गौरव यात्रा’ समारोह में खाली कुर्सियों को PM करते रहे संबोधित
पराली के मुद्दे पर आप ने सभी जिलों के डिप्टी कमीशनरों को सौंपे मांग पत्र
AAP के ‘मेट्रो किराया सत्याग्रह’ का दूसरा चरण जारी, सोमवार को AAP कार्यकर्ता पहुंचे BJP सांसद उदित राज के आवास पर
फिर मोदी पर विफरे अन्ना कहा बीजेपी कांग्रेस से भी जहरीली
बड़ा धब्बा था गुजरात दंगा
खिलाडियों का खर्च उठाएगी सरकार
रियल ऐस्टेट के GST में आने से फायदे में रहेगी दिल्ली