Saturday, October 21, 2017
Follow us on
National

अब राज्य सभा में भी नोट बंदी घोटाला गूंजा

August 08, 2017 02:20 PM
कपिल सिब्बल ने केंद्र सरकार के इस फैसले का जमकर विरोध किया

8 नवंबर 2016 ये तारीख हर भारतीय को अच्छी तरह याद होगी क्योंकि इसी तारीख को भारत के प्रधानमंत्री नरेंदर मोदी ने 500 और 1000 रुपये के नोटों पर रोक लगा कर नए 500 और 2000 रुपये  के नोटों की मुद्रा शुरू की थी. 

साभार : न्यूज़ इंडिया ट्रस्ट

लेकिन इसका विरोध अब राज्यसभा में देखने को मिल रहा है. लगातार हो रहे नोटों के डिजाईन में परिवर्तन को लेकर rajyasabha  में विपक्ष के सभी दलों के साथ कांग्रेस के नेता कपिल सिब्बल ने केंद्र सरकार के इस फैसले का जमकर विरोध किया. जिसमे विपक्ष ने आरोप लगाया की नोटों के डिजाईन और डिनोमिनेशन में लगातार परिवर्तन करके केंद्र किसी बड़े घोटाले की ताक में है.  

विपक्ष ने केंद्र पर आरोप लगाया की सरकार जल्द 200 रुपये के नोटों को भारतीय बाज़ार में उतारने वाली है. साथ ही साथ 2000  रुपये को नोटों को बाज़ार से हटाने की अफवाह भी उड़ रही है.

रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया जल्द भारतीय बाज़ार में 200 रुपये के नए नोट भारतीय बाज़ार में उतारने जा रहा है. सूत्रों द्वारा मिली जानकारी की अनुसार अगले महीने से आप को 200 रुपये के नोट भारतीय बाज़ार में आसानी से देखने को मिल जाएंगे. 200 रुपये के नोट की छपाई अगस्त तक पूरी हो जाएगी. इसके साथ साथ आरबीआई 2000 रुपये के नोटों में कमी करके 200 रुपये के नोटों में इजाफा करने की सोच रहा है.

सरकार के निवेश और मुद्रा विभाग के शीर्ष स्तरीय स्रोत के अनुसार  आरबीआई ने 2016 में ही 200 रुपये के  नोटों की छपाई शुरू कर दी थी. 200 रुपये के नोटों को शुरू होने में अभी लगभग 1 महिना  और लगेगा. अगर हम आकड़ो की बात करे तो आरबीआई के ताजा आकड़ो के मुताबिक 2017 के जून तक 15 लाख करोड़ रुपये में से करीब 14.5 लाख करोड़ की मुद्रा का संचरण कर चूका है

अगर एसबीआई की रिपोर्ट पर नजर डाले तो उसके अनुसार, नोटबंदी के बाद अब तक बैंक की नकदी में 5.4 की गिरावट देखने को मिली है. मगर 200 रुपये के नोट बाज़ार में आने के बाद इस अकड़े में उछाल होने की उम्मीद लगाई जा रही है.  

वित्त मंत्रालय के आधिकारिक सूत्रों ने बताया की, 'लगातार 500 रुपये की नोटों के उत्पादन में बढ़ोतरी कर रहे है. इसके साथ साथ बजाएर में 200 रुपये के नोट आने के बाद नकदी के समय से काफी छुटकारा मिलने की आशा है

आपको बता दे की इसी वर्ष मार्च में वित्त मंत्रालय ने 200 रुपये के नोटों को छपने कला फैसला लिया था.

 

Have something to say? Post your comment
More National News
बादलों की तरह कैप्टन भी रद्द किए उम्मीदवारों को लोगों के सरों पर बैठा रहा है- भगवंत मान
केंद्र ने मानी AK की मांग लेकिन....|नवभारत टाइम्स
शीला दीक्षित की नाक के नीचे हुआ था करोड़ों रुपए का बैंक-घोटाला, अब अधिकारी जवाबदेही से भाग रहे   
गुजरात में CM योगी की तरह PM मोदी का भी बुरा हाल, ‘गौरव यात्रा’ समारोह में खाली कुर्सियों को PM करते रहे संबोधित
पराली के मुद्दे पर आप ने सभी जिलों के डिप्टी कमीशनरों को सौंपे मांग पत्र
AAP के ‘मेट्रो किराया सत्याग्रह’ का दूसरा चरण जारी, सोमवार को AAP कार्यकर्ता पहुंचे BJP सांसद उदित राज के आवास पर
फिर मोदी पर विफरे अन्ना कहा बीजेपी कांग्रेस से भी जहरीली
बड़ा धब्बा था गुजरात दंगा
खिलाडियों का खर्च उठाएगी सरकार
रियल ऐस्टेट के GST में आने से फायदे में रहेगी दिल्ली