Tuesday, August 22, 2017
Follow us on
BREAKING NEWS
इन चोर दरवाजों से राजनीतिक पार्टियों को मिलता है 'धन'ADR की रिपोर्ट में हुआ खुलासा, बिना PAN और पते के BJP ने लिया 705 करोड़ का चंदाविजय गोयल को जमीन देने के लिए पलट दिए DDA ने अपने ही बनाये नियम पुलिस की मौजूदगी में बाढ़ में मारे गए लोगों के शवों का ऐसा 'हश्र' आपकी 'रूह' कंपा देगामोहल्ला क्लीनिक के लिए जमीन नहीं विजय गोयल की NGO को जमीन देने के लिए बदल डाले नियमअदानी समूह की कंपनी ने की 1500 करोड़ की हेराफेरी और टैक्‍स चोरी, मोदी जी के मित्र हैं कोई इनका क्या बिगाड़ लेगा ?प्रेरणा से ओतप्रोत है अरविन्द केजरीवाल का जीवन : जन्मदिवस विशेष योगी सरकार की संवेदनहीनता के चलते 36 घंटे में 30 बच्चों की मौत
National

एक राजनीतिक षडयंत्र के तहत ऑफिस छीनकर 'आप' की ताक़त को ध्वस्त करना चाहती है केंद्र सरकार

June 15, 2017 06:46 PM
Aam Aadmi Party Gets 27-Lakh Rent Notice From Its Own Government PHOTO : Aap Office
 
Aam Aadmi Party Gets 27-Lakh Rent Notice From Its Own Government :

'LG के माध्यम से भारतीय जनता पार्टी भिजवा रही है कार्यालय खाली करने के नोटिस'

दिल्ली स्थित आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय कार्यालय के आवंटन को रद्द कराने की राजनीतिक साज़िश को अंजाम दिया जा रहा है। भारतीय जनता पार्टी एल-जी ऑफ़िस का दुरुपयोग करते हुए आम आदमी पार्टी के ख़िलाफ़ यह साज़िश कर रही है। दिल्ली की सत्तारुढ़ आम आदमी पार्टी को काम करने के लिए दिल्ली सरकार ने जो जगह आवंटित की थी उस जगह को खाली कराने के लिए आम आदमी पार्टी को लगातार नोटिस भेजे जा रहे हैं और यह सब कुछ भाजपा शासित केंद्र सरकार के इशारे पर किया जा रहा है।

'PWD के ऑफिसर हमें कार्यालय की जगह खाली करने के लिए लगातार नोटिस भेज रहे हैं। आश्यर्यजनक बात है कि दिल्ली सरकार के अधिकारियों पर दिल्ली के मुख्यमंत्री और दिल्ली सरकार के ख़िलाफ़ ही काम करने का दबाव बनाया जा रहा है और ये सब उपराज्यपाल के माध्यम से भाजपा करा रही है।

पत्रकारों से बात करते हुए आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव पंकज गुप्ता ने कहा कि आश्चर्यजनक बात यह है कि दिल्ली में 70 सीटों में से जिस पार्टी के पास 66 सीटें हैं उस पार्टी के कार्यालय के आवंटन को रद्द कराने की साज़िश की जा रही है और यह साज़िश वो पार्टी रच रही है जिसको दिल्ली में सिर्फ़ 3 सीटें मिली थीं. और इस पार्टी के पास दिल्ली में 7 कार्यालय हैं. दूसरी ओर जिस कांग्रेस के पास दिल्ली में एक भी विधायक नहीं है उसके पास राजधानी में 4 कार्यालय हैं। वक्त-वक्त पर भाजपा और कांग्रेस के सांसदों को मिले बंगलों में इन पार्टियों ने अपने कार्यालय बना लिए हैं लेकिन इनके ख़िलाफ़ कोई कार्रवाई नहीं हो रही है'
पंकज गुप्ता ने कहा कि 'PWD के अधिकारी हमें कार्यालय की जगह खाली करने के लिए लगातार नोटिस भेज रहे हैं। आश्यर्यजनक बात है कि दिल्ली सरकार के अधिकारियों पर दिल्ली के मुख्यमंत्री और दिल्ली सरकार के ख़िलाफ़ ही काम करने का दबाव बनाया जा रहा है और ये सब उपराज्यपाल के माध्यम से भाजपा करा रही है।
 हम लगातार यह बात बोल रहे हैं कि जिस नियम-कानून के तहत दिल्ली बीजेपी को पंडित पंत मार्ग पर कार्यालय आवंटित किया गया हैजिस नियम-कानून के तहत कांग्रेस को अकबर रोड पर और BJP को अशोक रोड पर काम करने के लिए बंगला दिया गया है उसी नियम-कायदे के अनुसार आम आदमी पार्टी को भी काम करने के लिए कार्यालय दिया जाए। आम आदमी पार्टी दिल्ली की एक मान्यता प्राप्त पार्टी है और केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय की पॉलिसी के मुताबिक़ आम आदमी पार्टी को दिल्ली में 500 गज़ जगह कार्यालय के लिए मिलनी चाहिएइसके साथ ही लोकसभा में चार सांसद होने के नाते भी हमें राजधानी में 500 गज़ जगह कार्यालय के लिए मिलनी चाहिए।'
 गुप्ता ने कहा कि हम लगातार चिट्ठियों के माध्यम से अपना जवाब दे रहे हैं लेकिन यह बड़ा दुर्भाग्यपूर्ण है कि आम आदमी पार्टी को जो कार्यालय कानूनी रुप से दिल्ली सरकार ने आवंटित किया था उसे राजनीतिक साज़िश के तहत ग़ैर-कानूनी तरीके से छीनने की कोशिश की जा रही है और इस साज़िश के पीछे भारतीय जनता पार्टी है जो L-G ऑफ़िस का दुरुपयोग करते हुए इस साज़िश को अंजाम दे रही है।' 
Have something to say? Post your comment
More National News
इन चोर दरवाजों से राजनीतिक पार्टियों को मिलता है 'धन'
ADR की रिपोर्ट में हुआ खुलासा, बिना PAN और पते के BJP ने लिया 705 करोड़ का चंदा
विजय गोयल को जमीन देने के लिए पलट दिए DDA ने अपने ही बनाये नियम
मोहल्ला क्लीनिक के लिए जमीन नहीं विजय गोयल की NGO को जमीन देने के लिए बदल डाले नियम
एक बड़े घोटाले की CBI जांच को दबा रही है BJP सरकार
हत्या के आरोप में BJP विधायक को उम्रकैद
चंडीगढ़ छेड़-छाड़ प्रकरण : पुलिस दबाव में, कदम दर कदम खुर्द-बुर्द किए जा रहे सबूत
अब राज्य सभा में भी नोट बंदी घोटाला गूंजा
भाजपा की नीतिओं के मारे, अर्थशास्त्री बेचारे
कैप्टन सरकार ने किसानों और नौजवानों समेत समाज के सभी वर्गों के साथ धोखा किया : सुखपाल खैरा