Friday, November 24, 2017
Follow us on
National

EVM टैम्परिंग का लाईव डैमो, हैरान रह गया सदन

Gopal Sharma | May 09, 2017 06:35 PM
Gopal Sharma

देश ने आज नंगी आंखों से देखा कि म्टड के माध्यम से कैसे जीत सकती है हारी हुई पार्टी
सौरभ भारद्वाज ने किया सबसे बड़ा खुलासा

> बॉम्बे हाईकोर्ट ने ईवीएम जब्त करने का आदेश दिया.
> वोटिंग से ज्यादा वोट गिनती में आए.
> जनता को ईवीएम के बारे में जानने का हक.
> हम मानते हैं कि जनता ने जिसे वोट दिया उसे नहीं पहुंचा.
> जेनरेशन-1 की मशीनों से वोट कराए गए इसमें टैंपरिंग पूरी तरह संभव है.
> सदन की ओर से सौरभ भारद्वाज ने चुनाव आयोग से मांग की कि वह बताए कि जेनरेशन-2 की मशीन मौजूद थीं, तो जेनरेशन-1 की मशीन से वोट क्यों कराए गए ?

दिल्ली सरकार ने आज विधानसभा का विशेष सत्र बुला कर आम आदमी पार्टी के प्रमुख अरविंद केजरीवाल द्वारा लगातार उठाए जा रहे ईवीएम टैंपरिंग के मामले का लाईव डैमो देश के सामने प्रस्तुत किया गया। इसमें सौरभ भारद्वाज ने एक ईवीएम मशीन में की जाने वाली छेड़-छाड़ का लाइव डेमो दिखाया. डेमो में सौरभ ने आम आदमी पार्टी को 10 वोट दिए, जबकि बीजेपी को 3 वोट दिए किंतु जब उन्होंने रिजल्ट दिखाए तो वो चैंकाने वाले थे. रिजल्ट में बीजेपी को 11 वोट मिले जबकि उसे सिर्फ 3 वोट मिले थे. उन्होंने कहा कि मैंने इलेक्शन कमीशन की वेबसाइट को पड़ा और उनके जवाब पढ़े. कैसे भिंड के अंदर जिस मशीन के ऊपर कोई भी बटन दबाओ पर्ची बीजेपी की ही निकल रही थी. चुनाव आयोग ने इसकी जांच की, लेकिन उनकी रिपोर्ट का कोई सिर-पैर नहीं है. सौरभ भारद्वाज ने कहा कि 3 घंटे के लिए गुजरात की ईवीएम हमें दे दीजिए, चैलेंज है कि बीजेपी एक भी सीट नहीं जीत पाएगी. सौरभ भारद्वाज ने ईवीएम हैक कर नतीजे बदलकर सदन को हैरान कर दिया. सौरभ भारद्वाज ने कहा कि ईवीएम हमें देकर देखिए, हम बताएंगे कि टेंपरिंग कैसे संभव है.सदन में ईवीएम हैकिंग का खुलासा करते हुए सौरभ ने जोर देकर कहा कि वैज्ञानिकों को ईवीएम देने से चुनाव आयोग क्यूं डर रहा है ? उन्होंने कहा कि साजिशों का पर्दाफाश होना लोकतंत्र की आबरू बचाने के लिए अनिवार्य है. सदन में यह बात जोरदार तरीके से उठी कि यूपी चुनाव में ईवीएम के साथ खेल हुआ

 

Have something to say? Post your comment
More National News
दिल्ली में ‘प्रदूषण’ और एल.जी. बने दमघोंटू
सरकार का बड़ा ऐलान : ये 40 सेवाएं अब दिल्ली वासियों को घर बैठे मिलेंगी, अफसरों के चक्कर काटना बीते दिनों की बात
अब दिल्ली में तैयार होगा ‘राशन’ का होम डिलीवरी नेटवर्क
अल्का के ‘सैनेटरी पैड्स’ और भक्तों की ‘गाय’
‘प्रदूषण’ का खेल खेलते नेताओं का अखाड़ा बनी ‘दिल्ली’
केजरीवाल का केंद्र सरकार को जबाब, पहले पानी का छिड़काव अब ऑड-ईवन
'नोटबंधी' के 'हिटलरी फरमान' से जनता को दिया धोखा
जो न कर पाई 'केंद्र सरकार', वो करेगी 'आप सरकार'
नार्थ घोंडा की तेजराम गली और प्रजापति गली के निर्माण कार्य का शुभारंभ
‘अरविंद केजरीवाल और योगेंद्र यादव हमारी वर्तमान राजनीति की दो ज़रूरतें हैं’