Saturday, July 22, 2017
Follow us on
BREAKING NEWS
शिक्षा बज़ट में योगी ने की कटौती तो लोगों ने कहा ‘आप’ की दिल्ली सरकार से कुछ सीखो ‘योगी’बढ़े हाउस टैक्स माफ़ी पर ढोंग कर रही है बीजेपी, निगम के अफ़सरों ने इस टैक्स माफ़ी को नकाराजानबूझकर कॉलेजिज़ की गवर्निंग बॉडी नहीं बना रहा दिल्ली विश्वविद्यालयनागपुर: गोमांस के शक में पिटा BJP कार्यकर्ता दिल्ली पुलिस ने AAP विधायकों को ख़िलाफ़ ग़ैरकानूनी तरीके से FIR दर्ज़ कीचुनाव आयुक्त की नियुक्तियों को लेकर ठोस कानून बनना ही चाहिए: AAPविपक्षी दलों की राज्य सरकारों को अस्थिर करने का प्रयास कर रही है बीजेपीदिल्ली में साफ़-सफ़ाई को लेकर फिर बीजेपी के ढाक के तीन पात 120 दिन के वादे में से आधा समय निकला लेकिन अब भी कचरा-कचरा दिल्ली
National

'आप' के रियाजुद्दीन के समर्थन में उमड़ रहा है शास्त्री पार्क में जन सैलाब

गोपाल शर्मा | April 17, 2017 04:02 PM
गोपाल शर्मा
दिल्ली:
 
 आम आदमी पार्टी के शास्त्री पार्क से एमसीडी उम्मीदवार रियाजुद्दीन अंतिम चरण के प्रचार अभियान में भी अन्य पार्टी उम्मीदवारों से बढ़त बनाए हुए हैं। आरंभिक दौर से ही धुंआधार प्रचार करते हुए तेजतर्रार नेता के रूप पहचान बना चुके रियाजुद्दीन को जनता द्वारा मिल रहा अपार समर्थन उनकी जीत को चुनाव परिणाम आने से पहले ही सुनिश्चित बना रहा है। इनकी टीम के अद्भुत उत्साह एवं हौंसलों के कारण दूसरे दलों द्वारा इस सीट पर उतारे गए प्रत्याशी मतदान से पहले ही हार मान चुके दिखाई दे रहे हैं। जानकारों का मानना है कि इसका सहज़ अनुमान इसी बात से लगाया जा सकता है कि एक ओर जहां रियाजुद्दीन के नॉमिनेशन से लेकर डोर-टू-डोर व सभाओं में खूब उत्साह के साथ सभी आयु वर्ग के लोग उतर रहे हैं वहीं अन्य दलों के प्रत्याशियों के साथ गिने चुने पार्टी कार्यकर्ता ही दिखाई दे रहे हैं। 

गांधी नगर से अनिल कुमार वाजपेयी की क्षेत्र में कर्मठ और जुझारू कार्यशैली की वजह से अलग पहचान है। उनके अनुसार इस विधानसभा में निगम से संबंधित सबसे बड़ी समस्या सफाई की है और यह लोगों के लिए परेशानी का सबब बनी हुई है। जब नगर-निगम कर्मचारी सफाई करने नहीं आते थे तब आप कार्यकर्ताओं ने ही सफाई का दारोमदार अपने सिर लिया। गांधी नगर विधानसभा में 1272 निगम कर्मचारी काम करते हैं लेकिन उनमें से मुश्किल से 300 काम पर आते हैं।

 
आम आदमी पार्टी के शास्त्री पार्क वार्ड न. 25-ई. से उम्मीदवार रियाजुद्दीन से हमारे प्रतिनिधि ने बातचीत में जाना कि शास्त्री पार्क वार्ड में वास्तव में कितनी समस्याएं हैं और इनके निदान के लिए इनके पास क्या योजनाएं हैं? रियाजुद्दीन ने हमें बताया कि इस वार्ड में जगह-जगह कचरे की भरमार है, नालियों में गन्दगी भरी पड़ी है, हरियाली की कमी है, पार्कों में अव्यवस्था तथा लाईटों की कमी है और इन कमियों को ठीक करना उनकी प्राथमिकता रहेगी। पार्कों में बच्चों को झूले, मालियों की तैनाती, गली मौहल्लों की सड़कों की गुणवत्ता की पिछले निगम पार्षद ने अनदेखी की है। वह कहते हैं कि कीटनाशक दवाईयों के छिड़काव की ओर कोई ध्यान नहीं है। मौसमी बीमारियों की समस्याओं पर ध्यान देना चुनाव जीतने के उपरांत मेरी प्राथमिकता रहेगी।
 
नगर निगम के प्रसूतिगृह में सुविधाएं न होने से समाज का गरीब तबका इन सुविधाओं से महरूम है। रियाजुद्दीन कहते हैं कि नगर निगम द्वारा चलाई जा रही आयुर्वेदिक डिस्पेन्सरी की बदहाली किसी से छुपी हुई नहीं है जहां नगर-निगम अपने कामों से पल्ला झाड़ता रहता है वहीं स्थानीय विधायक अनिल कुमार वाजपई ने शास्त्री पार्क बुलंद मस्जिद में 4.30 करोड़ रुपये की लागत से अस्पताल शुरू कराया है। बुलंद मस्जिद स्थित 2 करोड़ की लागत से सीवर निर्माण का कार्य, चन्द्रपुरी व कैलाश नगर में पानी की पाईप लाईनों का कार्य पूर्ण कराया, 25-ई शास्त्री पार्क वार्ड में एलईडी लाईटों की व्यवस्था की चन्द्र पुरी में सीवर लाईन डलवाना प्रस्तावित है। वार्ड में भिन्न-2 स्थानों पर पैंशन, आधार, वोटर आई.डी. कार्ड. हेल्थ कैम्पों का आयोजन किया। रियाजुद्दीन का मानना है कि वह आम आदमी है और आम आदमी बनकर काम करना चाहते हैं, जीतने के बाद लोगों की बेहतर सेवा करने का संकल्प है।
विधायक बोले 
भ्रष्टाचार के निवारण और विकास के प्रति समर्पित हैं रियाजुद्दीन : अनिल कुमार
गांधी नगर से अनिल कुमार वाजपेयी की क्षेत्र में कर्मठ और जुझारू कार्यशैली की वजह से अलग पहचान है। उनके अनुसार इस विधानसभा में निगम से संबंधित सबसे बड़ी समस्या सफाई की है और यह लोगों के लिए परेशानी का सबब बनी हुई है। जब नगर-निगम कर्मचारी सफाई करने नहीं आते थे तब आप कार्यकर्ताओं ने ही सफाई का दारोमदार अपने सिर लिया। गांधी नगर विधानसभा में 1272 निगम कर्मचारी काम करते हैं लेकिन उनमें से मुश्किल से 300 काम पर आते हैं। इस व्यवस्था को सुधारने के लिए बायो मिट्रिक मशीन खरीदी गयी है। लाखों रूपये उनके रख रखाव पर खर्च हो रहे हैं लेकिन उनको प्रयोग में नहीं लाया जा रहा है।
 
इस विधानसभा में एक डिस्पेंसरी है जिसकी हालत भी अच्छी नहीं है। यहां न तो दवाई मिलती है और न ही बेहतर चिकित्सा सेवा। एमसीडी का एक स्कूल भी है जिसमें बेहतर शिक्षा न होने की वजह से मात्र 67 छात्र ही हैं। वह कहते हैं कि एक नाला है जो जाम रहता है जिस वजह से गन्दा पानी सड़कों पर भर जाता है और नगर-निगम इन कामों से अपना पल्ला झाड़ता रहता है। वहीं हमारे कार्यकर्ता जमीनी स्तर पर लोगों के बीच पहुंचकर उनकी मदद करते हैं। वाजपेयी का दावा है कि दिल्ली की जनता की यह परेशानी और आप का काम करने का जज्बा देख जनता आम आदमी पार्टी प्रत्याशियों को जिताएगी ।
 
विधायक कहते हैं कि विधानसभा क्षेत्र में काफी संख्या में मुस्लिम लोग रहते हैं, ऐसे में उन्होंने एक मुस्लिम प्रत्याशी को टिकट देने का वादा किया था और उसे पूरा भी किया। विधानसभा में तीन वार्ड है और तीनों वार्डों पर ऐसे प्रत्याशियों को टिकट दिया गया है जो लोगों के बीच में रहकर उनकी मदद करते हैं, उनकी समस्या सुलझाते हैं। नगर-निगम में पहले जो भी पार्टी रहीं है। उन्होंने सिर्फ लोगों से वादे किए हैं, गाँधी नगर विधानसभा में दुकानों से कन्वर्जन टैक्स लिया जाता है, कोई बताये जब पार्किंग ही नहीं है तो पार्किंग के लिए टैक्स किस बात का। यहां ज्यादातर मकानों में छोटी-छोटी फैक्ट्री चल रही हैं जिनके ऊपर सीलिंग कि तलवार लटकती रहती है, जिनके लिए कभी किसी पार्टी ने कुछ नहीं किया लेकिन आप नगर निगम में जीत के बाद निगम से जुडी सभी समस्या खत्म करेगी।
 
 
Have something to say? Post your comment
More National News
शिक्षा बज़ट में योगी ने की कटौती तो लोगों ने कहा ‘आप’ की दिल्ली सरकार से कुछ सीखो ‘योगी’
पंजाब में जंगलराज, कैप्टन किसी समर्पित व संजीदा मंत्री को सौंपे गृह मंत्रालय की जिम्मेदारी: भगवंत मान बढ़े हाउस टैक्स माफ़ी पर ढोंग कर रही है बीजेपी, निगम के अफ़सरों ने इस टैक्स माफ़ी को नकारा जानबूझकर कॉलेजिज़ की गवर्निंग बॉडी नहीं बना रहा दिल्ली विश्वविद्यालय नागपुर: गोमांस के शक में पिटा BJP कार्यकर्ता गुजरात: बीजेपी नेता ने किया रेप, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता ने कराई एफआईआर गुजरात के वडोदरा में एक बीजेपी नेता पर बलात्कार का आरोप लगा है। राष्ट्रपति चुनाव में विपक्ष की साझा उम्मीदवार मीरा कुमार का समर्थन करेगी AAP दिल्ली पुलिस ने AAP विधायकों को ख़िलाफ़ ग़ैरकानूनी तरीके से FIR दर्ज़ की चुनाव आयुक्त की नियुक्तियों को लेकर ठोस कानून बनना ही चाहिए: AAP विपक्षी दलों की राज्य सरकारों को अस्थिर करने का प्रयास कर रही है बीजेपी