Wednesday, July 17, 2019
Follow us on
Download Mobile App
Punjab, UP, Himachal & Uttarakhand Election

नोटबन्दी के कारण आम जनता के समक्ष आई समस्याओं के लिए मोदी ज़िम्मेदार

February 18, 2017 09:26 PM

चण्डीगढ़:

आम आदमी पार्टी (आप) ने  पंजाब में विभिन्न स्थानों पर मोदी सरकार के नोटबन्दी के निर्णय के विरुद्ध रोष प्रदर्शन किए। आम आदमी पार्टी ने केन्द्र सरकार से कहा कि देश में नोटबन्दी लागू होने के पश्चात् उसके पास जितना भी काला धन एकत्र हुआ है, वह उसके सभी आंकड़े सार्वजनिक करे। 

गुरप्रीत सिंह वड़ैच ने मोदी से प्रश्न किया कि उन्होंने तो यह कहा था कि काला धन जमा करने वालों रातों की नींद उड़ जाएगी तथा आम आदमी शांतिपूर्ण जीवन बिताएगा परन्तु केन्द्र सरकार के इस कदम से तो आम आदमी का जीवन पूर्णतया पटरी से उतर कर रह गया है। उन्होंने पूछा,‘‘क्या प्रधान मंत्री यह समझते हैं कि बैंकों के बाहर खड़े यह किसान, प्रचून विक्रेता, दिहाड़ीदार व आम लोग सभी भ्रष्ट हैं?’’

यहां जारी एक प्रैस विज्ञप्ति में आम आदमी पार्टी के राज्य संयोजक गुरप्रीत सिंह वड़ैच ने कहा कि नोटबन्दी के कारण आम जनता को जितनी भी परेशानियों का सामना करना पड़ा व पड़ रहा है, उनके लिए केवल प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ही ज़िम्मेदार हैं। उन्होंने कहा कि नोटबन्दी के कारण सभी किसानों, बड़े व्यापारियों व छोटे कारोबारियों सभी को बैंकों के बाहर लम्बी पंक्तियों में खड़े होना पड़, जिसके कारण उनके कारोबार बर्बाद हो कर रह गए।

गुरप्रीत सिंह वड़ैच ने मोदी से प्रश्न किया कि उन्होंने तो यह कहा था कि काला धन जमा करने वालों रातों की नींद उड़ जाएगी तथा आम आदमी शांतिपूर्ण जीवन बिताएगा परन्तु केन्द्र सरकार के इस कदम से तो आम आदमी का जीवन पूर्णतया पटरी से उतर कर रह गया है। उन्होंने पूछा,‘‘क्या प्रधान मंत्री यह समझते हैं कि बैंकों के बाहर खड़े यह किसान, प्रचून विक्रेता, दिहाड़ीदार व आम लोग सभी भ्रष्ट हैं?’’

वड़ैच ने कहा कि भ्रष्टाचार का ख़ात्मा करने हेतु केवल भ्रष्टों को ही निशाना बनाया जाना चाहिए परन्तु प्रधान मंत्री मोदी तो विजे माल्या जैसे अरबपतियों के ऋण माफ़ करने में व्यस्त हैं। यहां वर्णनीय है कि माल्या का 1,200 करोड़ रुपए का ऋण माफ़ किया गया है।

आम आदमी पार्टी के नेता ने कहा कि सरकार के इस ‘तुग़लकी फ़रमान’ के कारण देश भर में 150 से अधिक व्यक्तियों की मृत्यु हो गई परन्तु मोदी ने उस जानी नुक्सान संबंधी कभी एक शब्द तक नहीं कहा। उन्होंने कहा कि यदि कहीं मोदी ने अपनी ग़लती का अहसास करके अपना निर्णय ले लिया होता, तो लोग बिना मतलब की परेशानियों से बच सकते थे।

वड़ैच ने कहा कि कारोबारियों व बड़े व्यापारियों के अतिरिक्त किसानों को भी अनेक प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ा क्योंकि उनके पास बीज व खाद तक ख़रीदने के लिए नगद धन नहीं था। मोदी ने अपने निर्णय से व्यापार, कृषि व अन्य सभी कारोबार बर्बाद करके रख दिए हैं।

 

Have something to say? Post your comment
More Punjab, UP, Himachal & Uttarakhand Election News
इस ऐतिहासिक बज़ट से संवरेगी दिल्ली हरियाणा को शारदा यमूना नहर से पानी दिया जाए : आम आदमी पार्टी नफ़रत की गंदी राजनीति करती है बीजेपी: केजरीवाल आम आदमी पार्टी ने राज्यपाल को गेहूं की खरीद संबंधी तैयारियों के लिए सर्व पार्टी मीटिंग बुलाने हेतु किया निवेदन छत्तीसगढ़ और गुजरात में आदिवासियों और किसानों पर हुई बर्बरता के मुद्दे पर 'आप' ने लिखा NHRC को ख़त BJP और ABVP ने भारत को बनाया आंतकवाद का अड्डा ख़ुद भारत विरोधी नारे लगवाते हैं ABVP के छात्र
भीड़ इकट्ठी करने के लिए कांग्रेस का नया शगूफा: आप
कमांडो सुरेंद्र सिंह ने विधायक निधि कोष से विधानसभा की गलियों के पुनर्निर्माण का किया शुभारम्भ
नोटबंदी घोटाले के विरोध में आम आदमी पार्टी का दिल्ली के बाज़ारों में प्रदर्शन
बाज़ार में कैश की भारी कमी के चलते जनता परेशान, व्यापार ठप्प