Saturday, November 25, 2017
Follow us on
National

आम आदमी पार्टी ने पंजाब सरकार द्वारा बादलों के होटल के लिए सडक़ बनाने की नोटिफिकेशन रद्द करने की मांग की

January 11, 2017 10:11 PM
आम आदमी पार्टी ने बुधवार को चुनाव कमीशन को की शिकायत में पंजाब सरकार द्वारा बादलों के होटलों के लिए सडक़ बनाने के लिए नियमों को छींके टांग कर जारी की नोटिफिकेशन को रद्द करने की मांग की। आम आदमी पार्टी के नेता एडवोकेट दिनेश चढ्डा के नेतृत्व में आप नेताओं ने की शिकायत में कहा कि 4 जनवरी 2017 को पंजाब में आचार संहिता लगने से कुछ घंटे पहले पंजाब सरकार के विभाग द्वारा नोटिफिकेशन जारी करके सुखबीर बादल की मालकी वाले 7 सितारा होटल के लिए 200 फूट चौडी सडक़ बनाने के लिए 100 एकड़ जमीन ऐकवाईर करने की प्रक्रिया शुरू कर दी। 
एडवोकेट चढ्डा ने कहा कि यह सडक़ बादलों के पलण्णपुर के बीच वाले होटल को चण्डीगढ़ के अंंतर राष्ट्रीय एयरपोट के साथ जोड़ेगा। उन्होंने कहा कि भले ही न्यू चण्डीगढ़ क्षेत्र में ओर बहुत से प्रोजैक्ट जिनको पूरा करने सम्बन्धित सारी प्रिक्रिया पूरी हो चुकी है को बीच में छोड़ कर सडक़ के लिए जमीन एक्वाईर करने के लिए नोटिफिकेशन जारी करना आम लोगों के अधिकारों के साथ खीलवाड़ है। उन्होंने कहा कि बादलों के इस लाभ के साथ क्षेत्र के करीब 197 किसान परिवारों को उजाड़ा जाएगा। चढ्डा ने कहा कि किसी व्यक्ति विशेष को फायदा देने के लिए सत्ताधारी दल की तरफ से नियमों को छींके टांग कर की गई यह कार्यवाही निंदनीय है। उन्होंने कहा कि इलैक्शन कमीशन को इस पर कार्यवाही करते नोटिफिकेशन को रद्द करके आगे वाली करवाई पर रोक लगवानी चाहिए। 
Have something to say? Post your comment
More National News
दिल्ली में ‘प्रदूषण’ और एल.जी. बने दमघोंटू
सरकार का बड़ा ऐलान : ये 40 सेवाएं अब दिल्ली वासियों को घर बैठे मिलेंगी, अफसरों के चक्कर काटना बीते दिनों की बात
अब दिल्ली में तैयार होगा ‘राशन’ का होम डिलीवरी नेटवर्क
अल्का के ‘सैनेटरी पैड्स’ और भक्तों की ‘गाय’
‘प्रदूषण’ का खेल खेलते नेताओं का अखाड़ा बनी ‘दिल्ली’
केजरीवाल का केंद्र सरकार को जबाब, पहले पानी का छिड़काव अब ऑड-ईवन
'नोटबंधी' के 'हिटलरी फरमान' से जनता को दिया धोखा
जो न कर पाई 'केंद्र सरकार', वो करेगी 'आप सरकार'
नार्थ घोंडा की तेजराम गली और प्रजापति गली के निर्माण कार्य का शुभारंभ
‘अरविंद केजरीवाल और योगेंद्र यादव हमारी वर्तमान राजनीति की दो ज़रूरतें हैं’