Sunday, December 17, 2017
Follow us on
Interview

इलाके की सेवा व अरविंद जी की उम्मीद पूरी कर सकूं यही तमन्ना है

April 21, 2016 11:23 AM

दिल्ली में 13 नगर-निगमों की सीटों पर उपचुनावों की घोषणा हो चुकी है, इस दौड़ में सभी राजनीतिक दलों के प्रत्याशी अपनी ताल ठोक रहे हैं, ‘आप’ इन चुनावों में अपनी जीत पक्की मान रही है उसकी वजह है ‘आप’ सरकार द्वारा एक वर्ष में करवाए गए धुंआधार काम। इन चुनावों में नांगलोई विधानसभा के कमरूद्दीन नगर वार्ड न.-44 से ‘आप’ ने अरुण चौहान को प्रत्याशी बनाया है। चुनावी माहौल के बीच आप की क्रांति टीम ने उनसे बातचीत कर इलाके में चल विकास कार्यों व भावी योजनाओं का जायजा लिया। प्रस्तुत है इसी बातचीत के कुछ अंश।
 
आप की क्रांति - आपको नगर-निगम उपचुनाव में ‘आप’ ने प्रत्याशी बनाया है, आप चुनाव जितने के बाद इस वार्ड में कौन-कौन से कार्य प्राथमिकता के आधार पर करना चाहेंगे?
अरुण चौहान - अभी इस इलाके में कर्मचारी अपने हिसाब से काम करते हैं, सड़कों से लेकर नालियों तक गंदगी फैली हुई है, नालियों को साफ नहीं किया जाता, कूड़ा नहीं उठाया जाता। चुनाव जीतने के बाद सबसे पहले सफाई का काम किया जाएगा, इस वार्ड में को कूड़े का ढलाव नहीं है जिस वजह से कूड़ा नालों में जाकर नालों को भी जाम करता है, वार्ड में ढलाव बनवाकर इस समस्या को खत्म किया जाएगा, ताकि कूड़े की समस्या से निजात मिले। नालियों और सड़कों की सफाई सुचारु रूप से करवाई जाएगी, इसके आलावा नगर-निगम स्कूलों की स्थिति सुधारी जाएगी ताकि वहां बच्चों को बेहतर शिक्षा मिल सके। इसके अलावा नगर-निगम में फैला भ्रष्टाचार एक विकट समस्या है जिसका समाधान भी निकाला जाएगा। अभी इस इलाके डेंगू की दवा नहीं छिड़की जा रही है। सवा तीन लाख लोगों पर मात्र 8 कर्मचारियों की ड्यूटी है डेंगू नियंत्रण में, जिस वजह से इलाके में डेंगू का प्रकोप बना रहता है इस समस्या के साथ-साथ नगर-निगम से जुड़ी सभी समस्याओं को सुलझाने का प्रयास किया जाएगा।
आप की क्रांति - आप समाजसेवा से जुड़े हुए हैं  अभी तक लोगों के लिए क्या-क्या कार्य किए हैं  ?
अरुण चौहान - मैं राजनीति में आने से पहले समाजसेवा कार्यों से जुड़ा रहा हूं, अगर रात को 2 बजे भी कोई परेशान व्यक्ति मेरे पास आता है तो मैं उसी समय उसकी समस्या का हल निकालने के लिए उसके साथ चल देता हूं, मैं अभी तक गरीब लड़कियों की शादी करवाता रहा हूं उसके अलावा हेल्थ चेकअप कैंप के साथ रक्तदान शिविर का भी आयोजन करता रहता हूं। प्रत्येक समाज और समूह के लोगों की मदद के लिए हमेशा तैयार तत्पर हूं।
आप की क्रांति - अरुण जी आम आदमी पार्टी वालिंटियर्स पार्टी की रीढ़ माने जाते हैं। वलिंटियर्स की तरफ से आपको कितना सहयोग मिल रहा है ?
अरुण चौहान - ‘आप’ पार्टी के वालिंटियर्स देश के लिए दीवाने हैं जो हमेशा बस देश के लिए काम करने में विश्वास रखते हैं , इनमे भूखे-प्यासे रह कर काम करने की अद्भुत क्षमता है। किंतु इनके माथे पर कभी शिकन तक नहीं होती। मैं अकेला चुनाव नहीं लड़ रहा हूं, यह चुनाव मेरे साथ-साथ सभी ‘आप’ कार्यकर्तता मिल कर यह चुनाव लड़ रहे हैं, मैं भी पार्टी का एक वालिंंटयर ही हूं, इन्हीं सब में से एक हूं, मेरे इन सब साथियों के कहने के बाद ही मुझे इस लायक समझकर पार्टी में प्रत्याशी बनाया है।
आप की क्रांति - ‘आप’ अपने प्रत्येक प्रत्याशी को चुनते समय कड़े मापदंड अपनाती है, आप में ऐसी क्या खास बात थी कि पार्टी ने आपको प्रतिनिधि बनाया ?
अरुण चौहान - आप सरकार हमेशा ही भ्रष्टाचार के खिलाफ रहीं है इसलिए पार्टी प्रत्याशी चुनने के लिए सब बातों का ध्यान रखती है कि प्रत्याशी का कोई अपराधिक रिकार्ड न हो, वह बेईमान न हो, ईमानदार, कर्मठ और लगनशील हो। मेरे लिए भी पार्टी ने कड़े मापदंड अपनाए और मैं उनके मापदंडों पर खरा उतरा। पार्टी ने मुझ पर विश्वास कर प्रत्याशी बनाया है। मैं किसी भी सूरत में पार्टी का विश्वास टूटने नहीं दूंगा।
आप की क्रांति - जनता के बीच जाकर आप किन मुद्दों पर उनसे वोट देने का अनुरोध कर रहे हैं ?
अरुण चौहान - जब मैं जनता के बीच अपने सहयोगियों के साथ पहुंचता हूं तो मुझे उन्हें कुछ बताने की जरूरत नहीं पड़ रही है क्योंकि वह सभी,
‘आप’ सरकार के विकास कार्यों के बारे में जानते हैं  और यह भी जानते हैं कि उनकी विधानसभा के ‘आप’ विधायक ने उनके इलाके में कितने विकास कार्य कर दिए हैं । इन्ही विकास कार्यों की वजह से अब लोग नगर-निगम में भी आम आदमी पार्टी को चाहते हैं, लोगों का भरपूर सहयोग मिल रहा है।

Have something to say? Post your comment
More Interview News