Friday, August 18, 2017
Follow us on
BREAKING NEWS
इन चोर दरवाजों से राजनीतिक पार्टियों को मिलता है 'धन'ADR की रिपोर्ट में हुआ खुलासा, बिना PAN और पते के BJP ने लिया 705 करोड़ का चंदाविजय गोयल को जमीन देने के लिए पलट दिए DDA ने अपने ही बनाये नियम पुलिस की मौजूदगी में बाढ़ में मारे गए लोगों के शवों का ऐसा 'हश्र' आपकी 'रूह' कंपा देगामोहल्ला क्लीनिक के लिए जमीन नहीं विजय गोयल की NGO को जमीन देने के लिए बदल डाले नियमअदानी समूह की कंपनी ने की 1500 करोड़ की हेराफेरी और टैक्‍स चोरी, मोदी जी के मित्र हैं कोई इनका क्या बिगाड़ लेगा ?प्रेरणा से ओतप्रोत है अरविन्द केजरीवाल का जीवन : जन्मदिवस विशेष योगी सरकार की संवेदनहीनता के चलते 36 घंटे में 30 बच्चों की मौत
States

भोपाल गैस त्रासदी की 30वीं बरसी पर...

December 03, 2014 05:49 PM

विश्व के सबसे भयावह मानव निर्मीत औद्योगिक आपदा, भोपाल गैस कांड के आज 30 साल हो गए। इस भीषण और विनाशकारी औद्योगिक आपदा में बहुत बड़ी तादाद में लोगों की जानें गई थी और जहरीली गैस के दुष्परिणाम आगामी पीढ़ियों को भी आज भी लगातार भुगतना पड़ रहा है। यह त्रासदी केवल 02-03 दिसम्बर, 1984 की रात तक ही सीमित नहीं रखी जा सकती है। 

आज भी पीड़ित परिवार हत्यारी गैस के दुष्प्रभाव को झेल रहे हैं और मरने को मजूबर हैं। इतना लंबा समय निकलने के बाद भी उनका मेडिकल डेटा तैयार नहीं हुआ है। सरकार के मुताबिक इस त्रासदी में केवल 5298 लोगों की मृत्यु हुई और केवल 6199 लोग स्थायी रूप से अपंग हो गए।

भोपाल गैस कांड के पीड़ितों को उचित चिकित्सा राहत और मुआवजा देने में केंद्र और मध्यप्रदेश सरकार असमक्षता रही है और सरकार की असक्षमता के कारण इस त्रासदी के दुष्परिणाम आज भी यहां के लोगों को भुगतने पड़ रहे हैं।

आज भी पीड़ित परिवार हत्यारी गैस के दुष्प्रभाव को झेल रहे हैं और मरने को मजूबर हैं। इतना लंबा समय निकलने के बाद भी उनका मेडिकल डेटा तैयार नहीं हुआ है। सरकार के मुताबिक इस त्रासदी में केवल 5298 लोगों की मृत्यु हुई और केवल 6199 लोग स्थायी रूप से अपंग हो गए।

इतना ही नहीं। हम सब जानते हैं कि अमेरिका की कंपनी यूनियन कार्बाइड इंडिया लिमिटेड द्वारा विषाक्त अपशिष्ट कारखाना परिसर में छोड़ दिया गया है। ये खतरनाक कचरे भूजल को दूषित कर जहरीली गैस से प्रभावित परिवारों के स्वास्थ्य को और नुकसान पहुंचा रहे हैं। राज्य में एक के बाद एक करके कई सरकारे आई लेकिन पीड़ितों को न्याय नही मिला।

आम आदमी पार्टी दुनिया की इस सबसे बड़ी त्रासदी के शिकार लोगों के दुख का हिस्सा है और उनको न्याय दिलाने का संकल्प लेती है। जब तक निम्नलिखित मांगे पूरी नहीं होती आम आदमी पार्टी लड़ाई जारी रखेगी:-

1.गैस त्रैसदी और जहरीले गैसे से प्रभावित पीड़ितों को उचित चिकित्सा और देखभाल की सुविधा दी जाए।

  1. जल्द से जल्द यूनियन कार्बाइड इंडिया लिमिटेड कंपनी के परिसर और भूजल को शुद्ध करने की दिशा में प्रयास किए जाए ।
  2. कारखाना परिसर से जहरीली गैस के अपशिष्ट का निपटान नहीं करने के लिए यूनियन कार्बाइड कॉरपोरेशन की उत्तराधिकारी कंपनी डाउ केमिकल्स की जिम्मेदारी तय की जाए। और इसके परिशोधन के लिए भुगतान सुनिश्चित की जाए।
  3. देश में एक मजबूत कॉर्पोरेट दायित्व शासन का गठन हो जिससे देश में भोपाल गैस त्रासदी जैसी घटना दोबारा ना हो सके। हम सब गवाह हैं कि देश में रोजाना मिनी भोपाल जैसी घटनाएं होती रहती है। कारखानों की वजह से भूजल प्रदूषित हो रहे हैं वहां से निकलने वाली विषैली गैसें हवा को प्रदूषित कर रही है और सुरक्षा को ताक में रखकर कर्मचारियों से काम कराए जा रहे हैं जिसकी वजह से आए दिन औद्योगिक दुर्घटनाएं होती रहती है। इनपर तुरत रोक लगनी चाहिए।

हमें भोपाल गैस त्रासदी को भूलने नहीं देना है तभी हम इसके पीड़ितों को न्याय दिला पाएंगे और यह भी सुनिश्चित कर पाएंगे कि इस तरह की घटनाएं देश में दोबारा न हो

भोपाल गैस त्रासदी की 30वीं बरसी पर आम आदमी पार्टी का बयान:

विश्व के सबसे भयावह मानव निर्मीत औद्योगिक आपदा, भोपाल गैस कांड के आज 30 साल हो गए। इस भीषण और विनाशकारी औद्योगिक आपदा में बहुत बड़ी तादाद में लोगों की जानें गई थी और जहरीली गैस के दुष्परिणाम आगामी पीढ़ियों को भी आज भी लगातार भुगतना पड़ रहा है। यह त्रासदी केवल 02-03 दिसम्बर, 1984 की रात तक ही सीमित नहीं रखी जा सकती है।

भोपाल गैस कांड के पीड़ितों को उचित चिकित्सा राहत और मुआवजा देने में केंद्र और मध्यप्रदेश सरकार असमक्षता रही है और सरकार की असक्षमता के कारण इस त्रासदी के दुष्परिणाम आज भी यहां के लोगों को भुगतने पड़ रहे हैं।

आज भी पीड़ित परिवार हत्यारी गैस के दुष्प्रभाव को झेल रहे हैं और मरने को मजूबर हैं। इतना लंबा समय निकलने के बाद भी उनका मेडिकल डेटा तैयार नहीं हुआ है। सरकार के मुताबिक इस त्रासदी में केवल 5298 लोगों की मृत्यु हुई और केवल 6199 लोग स्थायी रूप से अपंग हो गए।

इतना ही नहीं। हम सब जानते हैं कि अमेरिका की कंपनी यूनियन कार्बाइड इंडिया लिमिटेड द्वारा विषाक्त अपशिष्ट कारखाना परिसर में छोड़ दिया गया है। ये खतरनाक कचरे भूजल को दूषित कर जहरीली गैस से प्रभावित परिवारों के स्वास्थ्य को और नुकसान पहुंचा रहे हैं। राज्य में एक के बाद एक करके कई सरकारे आई लेकिन पीड़ितों को न्याय नही मिला।

आम आदमी पार्टी दुनिया की इस सबसे बड़ी त्रासदी के शिकार लोगों के दुख का हिस्सा है और उनको न्याय दिलाने का संकल्प लेती है। जब तक निम्नलिखित मांगे पूरी नहीं होती आम आदमी पार्टी लड़ाई जारी रखेगी:-

1.गैस त्रैसदी और जहरीले गैसे से प्रभावित पीड़ितों को उचित चिकित्सा और देखभाल की सुविधा दी जाए।

  1. जल्द से जल्द यूनियन कार्बाइड इंडिया लिमिटेड कंपनी के परिसर और भूजल को शुद्ध करने की दिशा में प्रयास किए जाए ।
  2. कारखाना परिसर से जहरीली गैस के अपशिष्ट का निपटान नहीं करने के लिए यूनियन कार्बाइड कॉरपोरेशन की उत्तराधिकारी कंपनी डाउ केमिकल्स की जिम्मेदारी तय की जाए। और इसके परिशोधन के लिए भुगतान सुनिश्चित की जाए।
  3. देश में एक मजबूत कॉर्पोरेट दायित्व शासन का गठन हो जिससे देश में भोपाल गैस त्रासदी जैसी घटना दोबारा ना हो सके। हम सब गवाह हैं कि देश में रोजाना मिनी भोपाल जैसी घटनाएं होती रहती है। कारखानों की वजह से भूजल प्रदूषित हो रहे हैं वहां से निकलने वाली विषैली गैसें हवा को प्रदूषित कर रही है और सुरक्षा को ताक में रखकर कर्मचारियों से काम कराए जा रहे हैं जिसकी वजह से आए दिन औद्योगिक दुर्घटनाएं होती रहती है। इनपर तुरत रोक लगनी चाहिए।

हमें भोपाल गैस त्रासदी को भूलने नहीं देना है तभी हम इसके पीड़ितों को न्याय दिला पाएंगे और यह भी सुनिश्चित कर पाएंगे कि इस तरह की घटनाएं देश में दोबारा न हो

Have something to say? Post your comment
More States News
आरटीओ कार्यालय का किया घेराव, डीटीओ को दिया ज्ञापन, सुनाई खरी खरी
लोक इन्साफ पार्टी और आम आदमी पार्टी गठजोड ने फगवाड़ा और लुधियाना सैंट्रल से उम्मीदवारों का किया ऐलान AAP will win 100+ seats बादल सरकार ने बर्बाद किया पॉपुलर-सफेदा उत्पादक किसान और लकडी उद्योग -गुरप्रीत सिंह वड़ैच
नगर निगम लखनऊ और प्राइवेट कंपनी ज्योति इंवैरोटेक् ने किया करोड़ो का घपला
AAP Haryana की 'खूंटा गाड़ अभियान' की शुरुआत
केजरीवाल ने कहा, बादलों को जेल भिजवाकर रहेंगे
AAP Haryana का 'खूँटा गाड़ अभियान' , खट्टर के घर के बाहर बांधेंगे गाय
आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविन्द केजरीवाल आज अमृतसर के ज़िला अदालत में पेश हुए
खट्टर सरकार कर रहीं है भर्तियों के नाम पर धांधली