Saturday, October 21, 2017
Follow us on
AAP Vision

अनुरंजन झा को भेजी गई ईमेल

August 31, 2014 02:24 AM

कल मीडिया सरकार द्वारा जारी सीडी के बारे में आम आदमी पार्टी ने घोषणा की थी कि हम 24 घंटे के भीतर जांच कर के अपना निर्णय सुनायेंगे, हमने यह समय दो तरह की जाँच के लिए माँगा था |

एक तो हम इस सीडी में नामित सभी साथियों का पक्ष सुनना चाहते थे,

दूसरा हम इस सीडी की विश्वसनीयता की जाँच करने के लिए पूरी असंपादित रिकॉर्डिंग देखना चाहते थे !

हमने यह वादा किया है कि पार्टी दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही करेगी, चाहे उसे किसी उमीदवार को वापिस ले कर सीट खाली छोडनी पड़े !

कल रात प्रेस कांफ्रेंस के तुरंत बाद श्री संजय सिंह ने मीडिया सरकार के मुख्य कार्यकारी श्री

अनुरंजन झा को फ़ोन कर के पूरी रिकॉर्डिंग भेजने का आग्रह किया ! उन्होने फ़ोन पर हामी भरी और एक औपचारिक अनुरोध भेजने को कहा ! रात को ही पार्टी के राष्ट्रीय सचिव श्री पंकज गुप्ता ने ईमेल के जरिये श्री झा से मूल असंपादित रिकॉर्डिंग पार्टी को आज सुबह 11 बजे तक उपलब्ध करवाने का अनुरोध किया ! बाद में एक टीवी चैनल पर श्री झा अपनी बात से मुकर गए ! अभी 11 बजे की समय सीमा समाप्त होने के बाद भी श्री झा ने न तो टेप पहुंचाए हैं और न ही हमारी ईमेल का जवाब दिया है ! यह सीडी जारी करते समय मीडिया सरकार ने दावा किया था कि वह ऐसा देश हित में सच्चाई उजागर करने के लिए कर रहे हैं, अगर ऐसा है तो उनकी जिम्मेदारी बनती है कि वे मूल रिकॉर्डिंग सार्वजानिक करें ! अगर वे ऐसा करने से इंकार करते हैं तो यह साबित हो जायेगा कि मीडिया सरकार कुछ छिपा रहा है और इन टेपों से छेड़खानी की गयी है और ये सीडी आम आदमी पार्टी को बदनाम करने का एक षड्यंत्र भर है ! हमने अपने सभी साथियों से बातचीत की है और सबने ये कहा है की सीडी में दिखाए गए हिस्से, मूल बातचीत के शरारतपूर्ण और तोड़ मरोड़ कर पेश किये गए अंश हैं !

आम आदमी पार्टी इस मामले की तह तक पहुँचने के लिए कृतसंकल्प है ! हमने मीडिया के माध्यम से श्री अनुरंजन झा से फिर अनुरोध करते हैं कि वे आज दोपहर 3 बजे तक मूल टेप आम आदमी पार्टी के हनुमान रोड दफ्तर तक पहुंचा दें !

आम आदमी पार्टी मीडिया से भी अनुरोध करती है कि वे इस मामले में पत्रकारिता के बुनियादी सिद्धांतों को ताक पर न रखें ! किसी सीडी की विश्वसनीयता की जाँच किये बिना उसे अपने चैनल पर प्रसारित करना कानून, चुनावी आचार संहिता और पत्रकारिता की मर्यादा का उल्लंघन है !

ऐसी सीडी के आधार पर पार्टी के बारे में निष्कर्ष निकाल कर जनता में सन्देश देना तो सीधे सीधे बड़ी पार्टियों के षड़यंत्र का शिकार होना है !

आम आदमी पार्टी फिर अपने इस संकल्प को दोहराती है कि इस मामले का पूरा सच सामने आने पर किसी भी दोषी को नहीं बक्शा जायेगा ! अगर पार्टी का कोई भी उम्मीदवार दोषी पाया जाता है तो उस पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही होगी ! अगर यह सीडी फर्जी पाई जाती है तो यह फर्जीवाडा करने वालों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्यवाही की जाएगी !

Have something to say? Post your comment
More AAP Vision News